आगरा में हिंदुस्तान बांट रहा है डॉक्टरेट की डिग्री!

आगरा से प्रकाशित हिंदुस्तान अखबार के रविवार के अंक यानी 5 दिसंबर में पृष्ठ 10 पर 7-8 कालम पर ‘सूरज सा चमकूं मैं, चंदा सा दमकूं मैं’ शीर्षक से समाचार है कि आज बाल साहित्यकार द्वारिका प्रसाद माहेश्वरी की जयंती है. इस समाचार में दिवंगत बाल साहित्यकार को डाक्टर द्वारिका प्रसाद माहेश्वरी दो बार लिखा है. जबकि इस सच्चाई को आगरा के सभी पत्रकारों सहित साहित्यकार भी जानते हैं कि माहेश्वरी जी ने डॉक्टरेट नहीं की, जब उन्होंने पीएचडी की ही नहीं तो फिर हिंदुस्तान का वरिष्ठ संवाददाता यह क्यों लिख रहा है. लगता है कि हिंदुस्तान ने डॉक्टरेट की डिग्री बांटने का काम शुरू कर दिया है.