भागलपुर में प्रभात खबर से डरे हिंदुस्तान-दैनिक जागरण ने दाम आधा किया

भागलपुर में प्रभात खबर के आगे हिंदुस्तान और दैनिक जागरण, दोनों अखबार झुक गए. इन दोनों को भी कम दाम में जनता को अखबार उपलब्ध कराने की घोषणा करनी पड़ी. दरअसल हुआ यूं है कि प्रभात खबर ने बिहार में आकर दूसरे बड़े अखबारों को घुटने के बल बैठने पर मजबूर कर दिया है. अगर ये मजबूरी न होती तो हिंदुस्तान और दैनिक जागरण जैसे जमे जमाए अखबार अपनी खेती उजड़ती देख दाम कम करने के लिए दबाव में न आए होते. भागलपुर में प्रभात खबर करीब दस बारह दिन पहले लांच हुआ.

Prabhat Khabar storms Bhagalpur

Bhagalpur, February 09, 2010. The Bhagalpur edition of Prabhat Khabar has been rolled out today with a print order that makes it the No. 1 from day one in the city of Bhagalpur, which was the capital of the Kingdom of Anga Desh. The daily is the first all colour newspaper from this silk city of Bhagalpur, which is also more aggressively priced and higher pagination than the competition here.

प्रभात खबर का नौवां संस्करण अब भागलपुर से

आज (दिनांक 10.2.2011) से प्रभात खबर भागलपुर से छपने लगा है. इस तरह बिहार में पटना, मुजफ्फ़रपुर और भागलपुर से प्रभात खबर प्रकाशित होने लगा है. भागलपुर से छपनेवाला (शहर संस्करण) 20 पेजों का संपूर्ण रंगीन अखबार होने का पहला गौरव भी, भागलपुर से छपनेवाले प्रभात खबर को है. बिहार और झारखंड को मिला दें, तो सात जगहों (पटना, मुजफ्फ़रपुर, भागलपुर, रांची, जमशेदपुर, धनबाद और देवघर) से प्रकाशित होनेवाला अखबार भी प्रभात खबर है.

चंदन शर्मा बने प्रभात खबर, भागलपुर के आरई

प्रभात खबर समूह ने अपने नये शुरू हो रहे भागलपुर यूनिट के लिये चंदन शर्मा को स्थानीय संपादक पद की जिम्मेदारी दी है. चंदन शर्मा फिलहाल प्रभात खबर, रांची में ही सेंट्रल डेस्क के इंचार्ज के रूप में कार्यरत थे. चंदन इससे पहले दैनिक भास्कर, राजस्थान पत्रिका, अमर उजाला जैसे संस्थानों में काम कर चुके हैं.