संवेदनात्मक विषय पर सनसनी न फैलाएं

: संजय द्विवेदी की पुस्तक का लोकार्पण समारोह : प्रभात झा बोले- खबर की कोई विचारधारा नहीं होती : भोपाल। पत्रकारिता सदैव मिशन है, यह कभी प्रोफेशन नही बन सकती। रोटी कभी राष्ट्र से बड़ी नहीं हो सकती। मीडिया के हर दौर में लोकतंत्र की पहरेदारी का कार्य अनवरत जारी रहा है। उक्त आशय के वक्तव्य वरिष्ठ पत्रकार एवं सांसद प्रभात झा ने व्यक्त किए। वे संजय द्विवेदी की पुस्तक ‘मीडिया: नया दौर नई चुनौतियां’ के लोकार्पण पर बोल रहे थे।