झूठे दावों की मशीन हैं श्री सुब्रत रॉय

प्रकाश हिंदुस्तानीश्री सुब्रत रॉय जो भी दावा करें, कम है. उन्हें बढ़ा चढ़ाकर बातें करने का शगल है. वे जिस धंधे में हैं, वहां यह बहुत ज़रूरी है. अगर आपके पास सहारा इण्डिया की डायरी हो तो उसमें देखें, और अगर ना हो तो सहारा इण्डिया परिवार डॉट ओआरजी पर जाकर मीडिया वाले पेज पर जाएँ.

क्यों पड़ी सुब्रत रॉय को विज्ञापन की ज़रुरत?

प्रकाश सुब्रत रॉय जब भी अपने नाम से कोई विज्ञापन देते हैं, बड़ा जोरदार देते हैं.  एकदम पठनीय और चर्चा के लायक.  (याद कीजिये कोमनवेल्थ गेम्स के पहले भ्रष्टाचार को लेकर सुब्रत रॉय का विज्ञापन, जिसमें देश की इज्ज़त का हवाला देकर जांच टालने की बात थी.) पहली नज़र में वह एक ईमानदार कोशिश लगती है लेकिन बाद में वह आम तौर पर विवादों में आ जाता है क्योंकि उसमें उनका दंभ और आडम्बर तो सामने आता ही है, उनकी चालाकियां भी साफ़ नज़र आ जाती हैं.

उगाही न कराने की गाज गिरी प्रकाश पर!

[caption id="attachment_18107" align="alignleft" width="63"]प्रकाशप्रकाश[/caption]: नोएडा तबादला : सुदेश तिवारी नए ब्यूरो चीफ : सहारा समय, इंदौर से सूचना आ रही है कि ब्यूरो चीफ के पद पर कार्यरत वरिष्ठ पत्रकार प्रकाश हिंदुस्तानी का ट्रांसफर नोएडा किए जाने की सूचना है. उनकी जगह नया ब्यूरो चीफ स‌ुदेश तिवारी को बनाया गया है.