बृजलाल कानून में अज्ञानी हैं : नरेंद्र यादव

[caption id="attachment_20013" align="alignleft" width="236"]नरेंद्र का इटावा में स्वागत-सत्कारनरेंद्र का इटावा में स्वागत-सत्कार[/caption]उत्तर प्रदेश के स्पेशल डीजीपी बृजलाल को कानून का ज्ञान नहीं है, तभी तो वो कुछ का कुछ बोलते हैं। यह कहना है यूपी पुलिस वेलफेयर एसोसियेशन के अध्यक्ष नरेंद्र सिंह यादव का। अपने संगठन को ताकत देने के इरादे से पूरे राज्य भर के दौर पर निकले हुए हैं नरेंद्र। नरेंद्र की हर गतिविधि पर नजर रखने के लिये खुफिया पुलिस के एक नहीं, दर्जन भर के करीब कर्मियों को आला अफसरों के इशारे पर लगाया गया है।

यूपी पुलिस की बहादुरी के कुछ फुटकर सबूत

आज मैंने भड़ास पर एक खबर पढ़ी “आईपीएस अफसर डीके ठाकुर का घिनौना चेहरा“. इसके बाद मुझे कुछ माध्यमों से एक छोटी सी विडियो क्लिपिंग मिली जिसमे इसी घटना के सम्बंधित फुटेज दिया गया है. मैं इस पर अपनी ओर से कोई टिप्पणी नहीं करते हुए पाठकों से ही निवेदन करुँगी कि वे इसे देख कर इस बारे में अपनी स्वयं की राय बनाएं. पुलिस विभाग की जनता में बदनामी के लिए शायद इसी प्रकार की घटनाएं जिम्मेदार होती हैं.

आईपीएस अफसर डीके ठाकुर का घिनौना चेहरा

: डीआईजी ने युवा सपा नेता का सरेआम बाल पकड़कर घसीटा फिर भी मन न भरा तो युवा नेता के सिर को अपने बूट से कुचला : यूपी में मुलायम सिंह यादव के राज में गुंडों की अराजकता से जनता त्रस्त थी तो मायावती के शासनकाल में पुलिस की गुंडई से जनता कराह रही है. अब तो विरोध प्रदर्शन करना भी मुहाल हो गया है क्योंकि यहां तानाशाही का दौर शुरू हो चुका है.