2जी उर्फ राजा-राडिया घोटाला : एक चैनल के पास 206 करोड़ पहुंचे, जांच जारी…

टाइम्स आफ इंडिया में आज एक रिपोर्ट प्रकाशित हुई है जिसमें प्रवर्तन निदेशालय के सूत्रों के जरिए काफी सनसनीखेज खुलासा किया गया है. इस रिपोर्ट के अनुसार 2जी स्पेक्ट्रम स्कैम के दौरान आए-गए पैसे की जांच-पड़ताल के दौरान पता चल रहा है कि करीब 206 करोड़ रुपये दक्षिण भारत के एक टीवी चैनल के पास पहुंचाया गया.

वीर सांघवी के करियर का अंत शुरू

वीर सांघवी और नीरा राडियाहालांकि दलालों का जीवन किसी करियर का मोहताज नहीं होता और दलालों का कोई करियर भी नहीं होता क्योंकि दलाली अपने आप में इतना बड़ा भारी काम होता है कि एक काम हो जाने के बाद कइयों के लिए तो कई सालों तक और कुछ के लिए कई पुरखों तक खाने-पीने का इंतजाम हो जाया करता है, फिर भी, कुछ लोग अपने को बड़ा और महान पत्रकार कहलाते नहीं थकते, और, उन्होंने अपने बड़प्पन की उंचाई कथित करियर के जरिए तय की हो तो उनके करियर के खात्मे की शुरुआत पर चर्चा करना लाजिमी है.

बरखा दत्त और वीर संघवी प्रकरण में सीबीआई क्यों नहीं दे रही सवालों के साफ-साफ जवाब?

बरखा दत्त - वीर संघवीराजा प्रकरण ने कई सफेदपोशों की पोल खोल दी है. मनमोहन भी लपेटे में हैं. सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी व सीएजी की रिपोर्ट से स्पष्ट है कि भ्रष्टाचार के बारे में सब कुछ जानकर चुप रहने वाला भी भ्रष्ट है. ईमानदार बनने की कोशिश में रतन टाटा बोल गए कि उनसे घूस मांगी गयी थी लेकिन किसने मांगी थी, ये बताने में वे भी मनमोहन हो गए. इतने बड़े लोग जब भ्रष्टाचार को होते देखकर, खुद इसे झेल-सहकर चुप हैं तो छोटे आदमियों की क्या बिसात.