हैप्पी बर्थडे विश्वनाथजी

20 जून को 70 बरस पूरे कर रहे संगम की इस प्रतिमूर्ति के व्यक्तित्व के बारे में बता रहे हैं वरिष्ठ पत्रकार दयानंद पांडेय : प्रयाग में संगम की सी शालीनता की स्वीकार्यता अगर किसी व्यक्ति में निहारनी हो तो विश्वनाथ प्रसाद तिवारी से मिलिए। गंगा का प्रवाह, यमुना का पाट और सरस्वती का ठाट एक साथ समेटे मद्धिम-मद्धिम मुसकुराते हुए वह कई बार शिशुओं सी अबोधता बोते मिलते हैं।