‘आयरन फीस्‍ट’ में लड़ाकू विमान ध्‍वस्‍त करेंगे दुश्‍मन के ठिकाने

जैसलमेर। एशिया की सबसे बडी चांधन फील्ड फायरिंग रेंज में भारतीय वायुसेना के लडाकू विमानों और हेलीकॅाप्टरों द्वारा सोमवार को मिसाइल और बम बरसाकर काल्पिनिक दुश्मन के ठिकाने को नेस्तनाबूद करने का प्रदर्शन किया जाएगा। भारतीय वायुसेना के सबसे बडे युद्धाभ्यास आयरन फीस्ट की तैयारियों के मद्देनजर यह उसका फुल ड्रेस रिहर्सल होगा। रविवार को भी पूर्वाभ्यास किया गया था। इस अभ्यास में दोपहर में शुरू हुई बमवर्षा रात करीब दस बजे तक जारी रही। इस युद्धाभ्यास का दिल्ली और गांधीनगर से आए वायुसेना के अफसरों ने रिव्यू भी किया।

सोमवार को फुल ड्रेस रिहर्सल के दौरान अग्रिम पंक्ति के लडाकू विमान सुखोई- 30 एमकेआई समेत आधा दर्जन विमानों द्वारा वारगेम में दुश्मन के काल्पनिक ठिकानों को तबाह करने का प्रदर्शन किया जाएगा। एमआई 35, एमआई 17, एमआई 17 वी 5 ने काफी नीचे उड़ान भर कर हमले करने का प्रदर्शन करेंगे। जबकि मालवाहक विमान एएन 32, आईएल 78, हरक्यूलिस सुपर ने युद्ध के दौरान सहायता देने का प्रदर्शन करेंगे। हरक्यूलिस से लडाकू विमानों में एयर फ्यूल देने का भी प्रदर्शन किया जाएगा। रिहर्सल के लिए जोधपुर के अलावा उत्तरलाई, नाल, जैसलमेर, फलौदी और भुज से भी विमानों ने उड़ान भरकर अपनी अचूक निशानेबाजी का प्रदर्शन करेंगे।

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की मौजूदगी में 22 फरवरी को होने वाले भारतीय वायुसेना के सबसे बडे युद्धाभ्यास आयरन फीस्ट रिहर्सल की शुरुआत में सबसे पहले वायुसेना की सारंग टीम के हेलीकॉप्टर हवाई करतब दिखाएंगे। आकाश गंगा टीम द्वारा आतंकी शिविर पर कमांडों उतार कर उस पर कब्जा करने का भी प्रदर्शन किया जाएगा। युद्धाभ्यास आयरन फीस्ट में स्वदेश में निर्मित युद्धक विमान तेजस भी अपना तेज दिखाएगा। इस विमान को लेकर भारतीय वायुसेना काफी आशावान है। ध्यान रहे कि युद्धाभ्यास आयरन फीस्ट में देश के सौ से अधिक विमान अपनी क्षमता का प्रदर्शन करेंगे। राष्ट्रपति के अलावा रक्षा मंत्री एके एंटनी, रक्षा राज्य मंत्री जितेंद्रसिंह, एयर चीफ मार्शल एनएके ब्राउन, थल सेनाध्यक्ष जनरल विक्रमसिंह, नौ सेनाध्यक्ष एडमिरल देवेंद्र जोशी और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सहित 50 मित्र राष्ट्रों के रक्षा मंत्री और सेना प्रमुख सम्मिलित होंगे।

जैसलमेर से चंदन सिंह भाटी की रिपोर्ट.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *