ऐसे मंत्री को तो बर्खास्‍त किया जाना चाहिए!

सरहद पर पाकिस्तानी सैनिकों द्वारा बर्बरता की सीमा पार करते हुए दो भारतीय सैनिकों की हत्या कर सिर काटने की घटना से पूरा देश हिल गया है। घटना विश्वभर में चर्चा का विषय बनी हुई है, वहीं एक शहीद हेमराज के परिजन सम्मान की खातिर अनशन पर हैं, लेकिन गृह प्रदेश के एक मंत्री को नहीं पता कि क्या चल रहा है?

जी हाँ। शहीद हेमराज के परिजनों द्वारा किये जा रहे अनशन के सवाल पर मंत्री जी का कहना था कि लाश आ गई, मुझे नहीं पता, वहीं हेमराज की अंत्येष्टि में मंत्री-मुख्यमंत्री के न पहुँचने के सवाल पर बोले कि इसमें क्या है, कहीं-कहीं ज्यादा पहुँच जाते हैं, यह तो इत्तेफाक है।

उक्त विचार पत्रकारों से बातचीत के दौरान जनपद बदायूं में छात्राओं को चेक वितरित करने के बाद उत्तर प्रदेश के खेल कूद, युवा कल्याण, वाह्य सहायतित परियोजना व समग्र ग्राम विकास विभाग के राज्य मंत्री राम करन आर्य ने व्यक्त किये। शहीद हेमराज और उसके परिजनों के संबंध में सवाल करने पर मंत्री जी के जवाब सुन कर पत्रकार भी स्तब्ध रह गये। उल्लेखनीय है कि जनपद मथुरा के गाँव खैरार में शहीद के परिजन सम्मान न मिलने को लेकर आक्रोशित हैं और अंत्येष्टि स्थल पर ही अनशन पर बैठे हैं।

पत्रकार बीपी गौतम की रिपोर्ट.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *