नेता ने कहा – इस महिला पत्रकार का रेप करो, किस करो

अपने ओहदे की लाज न रखते हुए एक नेता सारी मर्यादाओं को लांघ गया। इस नेता ने पत्रकार सभा के दौरान अपने समर्थकों से एक गर्भवती महिला पत्रकार का रेप करने के लिए कहा। उसे जरा भी शर्म नहीं आई कि वो कहां है और क्या कह रहा है। हद तो तब हो गई जब नेता के कहने पर उसका एक समर्थक महिला पत्रकार को चूमने का प्रयास भी किया।

अलगाववादियों ने किया महिला पत्रकार का अपहरण

कीव। यूक्रेन के स्लेवियांस्क शहर में रूस समर्थक अलगाववादियों ने ..युद्ध अपराध.. का आरोप लगाकर एक यूक्रेनी महिला पत्रकार का अपहरण कर लिया है। पत्रकार के वकील ओलेग वेरेमिएंको ने बताया कि उग्रवादियों ने उनकी मुवक्किल इरमा क्रात का कल अपहरण कर लिया।

मुरली मनोहर जोशी ने जी न्‍यूज के सुमित अवस्‍थी को धमकाया

नई दिल्ली। भाजपा नेता मुरली मनोहर जोशी के एक इंटरव्यू ने पार्टी को एक नई मुश्किल में डाल दिया है। अपनी पार्टी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी पर सवाल पूछे जाने पर बीजेपी नेता मुरली मनोहर जोशी इस कदर भड़क गए कि उन्होंने जी न्यूज के रिपोर्टर सुमित अवस्‍थी को इंटरव्यू की रिकॉर्डिंग डिलीट करने को कहा और धमकी तक दी।

‘फुटेज डिलीट करो, नहीं तो बाहर नहीं जा पाओगे’

लखनऊ : भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी का ज़ी न्यूज को दिया गए एक अधूरा साक्षात्कार उनके और उनकी पार्टी के लिए मुश्किलें खड़ी कर सकता है तो दूसरी ओर लोकसभा चुनाव में भाजपा को घरेने के लिए नए मुद्दे की तलाश कर रही कांग्रेस को यह अधूरा साक्षात्कार एक नया हथियार दे सकता है। इस साक्षात्कार में जोशी भाजपा के पीएम पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी पर सवाल न पूछने के लिए ज़ी मीडिया के रिपोर्टर को धमकी दे रहे हैं लेकिन उनकी यह धमकी कैमरे में कैद हो गई।

कथा सेबी के काले दूध और सोनिया-मन मोहन-चिदंबरम के रचे लाक्षागृह की!

स्कूल के दिनों में कहीं पढ़ा था कि किसी देश के लिए सेना से भी ज़्यादा ज़रुरी होती है न्यायपालिका। सच जिस देश और समाज में न्या्य न हो उस के पतन को कोई रोक नहीं सकता। इसी लिए न्याय व्यवस्था किसी भी सभ्य समाज की अनिवार्य ज़रुरत है, अनिवार्य पहचान है। लेकिन क्या यह न्याय व्यवस्था? जो अपने विवेक से काम करने के बजाय कुछ राजनीतिक स्वार्थ में न्यस्त लोगों का खिलौना बन जाए? यह न्याय व्यवस्था?

एक औरत का अकेले हनीमून पर जाना !

: पुरुष सत्ता को चुनौती देती और हिंदी सिनेमा में बदलती घर की औरत की दास्तान! : क्या कोई औरत अकेले हनीमून पर जा सकती है? बिना पुरुष साथी के? जिस को कि पति कहते हैं? हमारे भारतीय समाज में, हिंदी समाज में? हिदी सिनेमा में ? अभी-अभी।  बिलकुल अभी गई है एक औरत अकेली हनीमून पर। और इस औरत का अकेले हनीमून पर जाना न सिर्फ़ दिलचस्प है बल्कि इस बहाने बदलती हुई एक भारतीय स्त्री का एक मानीखेज दर्पण और उस की दुनिया भी हमारे सामने उपस्थित है। उस की यह हनीमून यात्रा एक जोरदार तमाचा है पुरुष सत्ता के चेहरे पर जिस की गूंज बहुत देर तक सुनाई देती है। और कि सुनाई देती रहेगी।

आखिर कौन है वह जो सहारा के लाखों साथियों की रोटी से खेल रहा है?

'न्याय को अंधा कहा गया है। मैं समझता हूँ न्याय अंधा नहीं, काना है, एक ही तरफ देखता है' -हरिशंकर परसाई।…….. सहारा और सेबी के मामले में सहाराश्री की गिरफ़्तारी के बाबत हरिशंकर परसाई की यह बात कई बार मान लेने को जी करता है। क्यों कि सुप्रीम कोर्ट सारी बातें, सारी दलीलें सिर्फ़ सेबी की ही सुन पा रहा है, देख पा रहा है।

नए जमाने का एनबीटी सपा का मुखपत्र बनने की राह पर!

युवाओं की बातें कहने और सुनने का लक्ष्‍य लेकर लखनऊ की सरजमीं पर दूसरी बार उतरा नवभारत टाइम्‍स अपना पुराना इतिहास दोहराने की राह पर बढ़ चला है. युवाओं की टीम और युवा संपादक के बीच 'जागरण सोच' नए जमाने के नए अखबार पर भारी पड़ रहा है. फैंटेसी के साथ लखनऊ की में कदम रखने वाला एनबीटी अब पुराने सनातनी अखबार की तरफ बढ़ चला है. अब इसमें ना तो नयापन नजर आ रहा है और ना ही तेवर. स्‍कीम खतम होने के बाद सर्कुलेशन भी बुरी तरह गिर चुका है.

पत्रकार सरताज से लूट के मामले में पांच के खिलाफ मुकदमा

गाजियाबाद ज़िले में एक पत्रकार के साथ अभद्रता व बदतमीजी करने और कैमरा छीनने के मामले में पुलिस ने पांच आरोपियों के विरुद्ध लूट का मुकदमा दर्ज़ किया है. पुलिस मामले की जांच कर रही है. अभी तक कोई भी आरोपी पुलिस की गिरफ्त में नहीं आया है. पत्रकार के साथ यह घटना बीते 16 अप्रैल को घटित हुई थी.

सीरिया में अपहृत चारों फ्रांसिसी पत्रकार आजाद

सीरिया में एक साल से क़ैद फ़्रांस के चार पत्रकारों को आज़ाद कर दिया गया है. फ़्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने शनिवार को यह जानकारी दी. एक बयान में ओलांद ने कहा, "आज सुबह बहुत राहत के साथ यह पता चला कि चारों फ़्रांसिसी पत्रकारों को आज़ाद कर दिया गया है." बयान के मुताबिक़ रिहा किए गए पत्रकार एडवर्ड एलियास, डिडियर फ्रांसुआ, निकोलस हेनिन और पिएरे टोर्रेस की सेहत अच्छी है. चारों पत्रकारों को जून 2013 में सीरिया में अपहृत किया गया था.

लखनऊ में चुनावी और दल्‍ले पत्रकारों ने बढ़ाई पत्रकारिता की हरियाली

लखनऊ में तमाम राजनीतिक दलों के मीडिया सेल देखने वाले परेशान हैं. परेशानी का कारण खबरों का छपना या खिलाफ खबरें छपना नहीं बल्कि चुनावी पत्रकारों की भरमार है. दूसरे दल्‍ले पत्रकार इन लोगों के जले पर नमक छिड़कने का काम कर रहे हैं. लखनऊ में आजकल अचानक पत्रकारों की भारी बाढ़ आ गई है. ऐसा लगने लगा है जैसे पत्रकारों का सैलाब ही लखनऊ की सरजमीं पर बह कर आ गया हो.

वो इंडिया टीवी छोड़ देंगे मुझे करीब एक महीने पहले पता था

जनाब कमर वाहिद नकवी साहब ने इंडिया टीवी को छोड़ दिया, या इंडिया टीवी ने नकवी साहब को छोड़ा। इस वक्त भारत के मीडिया (खासकर इलेट्रॉनिक मीडिया) में यह दो सवाल तबियत से उछल-कूद/ धमा-चौकड़ी मचा रहे हैं।

लांच होगा या डिब्‍बा बंद चैनल बन जाएगा न्‍यूज30!

आम चुनाव के पहले कई चैनल कुकुरमुत्‍तों की तरह उगे और चुनाव खतम होने से पहले ही धराशायी हो गए. कुछ चैनल तो लंबे समय से लांच होने की तैयारी में हैं. इन चैनलों की मंशा थी कि चुनाव में पेड न्‍यूज और विज्ञापन के रूप में मोटी रकम पीट लेंगे, लेकिन इनकी सारी योजना चुनाव आयोग की कड़ाई और कमजोर टीमों के चलते धराशायी हो गई. मौसमी बुखार की तरह बाजार में आने वाले ये चैनल अब तक लांच नहीं हो पाएं हैं, जबकि इनको लेकर ढिंढोरा बहुत पीटा गया. ऐसा ही एक चैनल है न्‍यूज30.

पहले जागरण के पत्रकार को पीटा, फिर माफी मांग ली

भिवानी में दैनिक जागरण के संवाददाता अशोक ढिकाव व इलेक्ट्रोनिक मीडिया कर्मी व पुरस्‍कृत साहित्‍यकार जगजीत लौहट पर 9 अप्रैल की देर शाम कृष्‍णा चौक पर हुए हमले मामले में बॉक्सिंग कोच के माफी मांग लेने के बाद मामला सुलट गया है. थाना शहर पुलिस की मौजूदगी में लगभग दो घंटे तक चली वार्ता के बाद बॉक्सिंग कोच भूपेंद्र उर्फ भूप्‍पी माफी मांगने को तैयार हुआ. पुलिस आरोपी कोच एवं उसके साथियों पर कार्रवाई करने की बजाय माफी दिलाकर मामला रफा दफा कर दिया.

सुधीर चौधरी को एक और झटका, अदालत ने याचिका खारिज की

नई दिल्ली : दिल्ली की एक अदालत ने जी न्‍यूज के संपादक सुधीर चौधरी की उस याचिका को खारिज कर दिया है, जिसमें कांग्रेस सांसद नवीन जिंदल की कंपनी द्वारा उनके खिलाफ दायर मानहानि याचिका और 100 करोड़ रुपए वसूली करने के प्रयास के मामले को एक साथ करने का अनुरोध किया गया है।

अमर उजाला के पत्रकार को पीटने वाला दारोगा लाइन हाजिर

: आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज : सोनभद्र : सपा नेताओं की दलाल बन चुकी पुलिस अपने काले कारनामों के छपने से पत्रकारों पर नाराज होती रहती है. सोनभद्र में अमर उजाला के पत्रकार जुल्‍फेकार हैदर खान पर हुआ हमला भी इसी तरह की घटनाओं की अगली कड़ी है. जुल्‍फेकार पर हमला करने वाले चुर्क चौकी इंचार्ज को लाइन हाजिर कर दिया गया है. साथ ही आरोपी दारोगा समेत तीनों कांस्‍टेबलों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है. बताया जा रहा है कि एसपी ने इस मामले में चुनाव आयोग को पत्र लिखने की बात भी कही है.

ज्ञानेंद्र शुक्‍ला ने फोकस टीवी ज्‍वाइन किया, बने स्‍टेट हेड

पी7 न्‍यूज, लखनऊ से खबर है कि ज्ञानेंद्र शुक्‍ला ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे चैनल के यूपी में स्‍टेट हेड के पद पर कार्यरत थे. ज्ञानेंद्र ने अपनी नई पारी नवीन जिंदल के चैनल फोकस टीवी से करने जा रहे हैं. उन्‍हें चैनल में यूपी का स्‍टेट हेड बनाया गया है. खबर है कि उन्‍हें यूपी में ब्‍यूरो को नए सिरे से बनाने की जिम्‍मेदारी भी दी गई है.

क्‍या जिंदल ने जी समूह को याद दिलाया है पत्रकारिता का इतिहास?

कुछ समय पहले कोयले की खान से 100 करोड़ का हीरा निकालने की कोशिश में जुटा रहा जी समूह जब खुद ही नवीन जिंदल के चंगुल में फंस गया और स्टिंग में सारा मामला सामने आ गया तो उसे पत्रकारिता याद आने लगी. शुरुआत में जिंदल समूह को हिलाकर रख देने का सपना देखने वाले जी समूह के दो संपादक ब्‍लैकमेलिंग में क्‍या फंसे समूह को पत्रकारिता का इतिहास याद आने लगा है. कोर्ट ने भी इस समूह की गलत दलीलों-अपीलों को कई बार खारिज कर चुका है.

प्रेस क्‍लब में मोदी के खिलाफ अविश्‍वास प्रस्‍ताव लाने वाले अपने स्‍टैंड पर कायम रहेंगे!

Deepak Sharma : HATE MODI ..but do not under rate him. आप अपनी ही बात कहना चाहें और दूसरे की बात सुनना ना पसंद हो तो ये किसकी प्रॉब्लम है? आप खुद की सोची समझी दुनिया में जी रहे हों तो फिर संवाद की जगह कहाँ बचती है? दरअसल ये लक्षण बताते हैं कि आप तटस्थ नहीं हैं. दुर्भाग्य से आप टीवी एंकर हैं और इससे बड़ा दुर्भाग्य ये कि मैं आपको जानता हूँ.

दैनिक भास्‍कर, अजमेर के 18वें स्‍थापना दिवस पर कई कर्मचारी सम्‍मानित

अजमेर : दैनिक भास्कर अजमेर संस्करण का 18वां स्थापना दिवस रविवार को भास्कर परिसर में आतिशबाजी के साथ धूमधाम से मनाया गया। कार्यक्रम में भास्कर समूह से जुड़े लोगों के साथ आमंत्रित अतिथियों ने भाग लिया। यूनिट हेड जीके पांडे ने कार्यक्रम का शुभारंभ किया इस दौरान भास्कर कर्मचारियों को उनके साल भर में किए गए उत्कृष्ट कार्य के लिए सम्मानित किया गया।

नोएडा में महिला पत्रकार पायल शर्मा से हुई लूट, बदमाश गिरफ्त से बाहर

नोएडा में मोटरसाइकिल सवार बदमाशों ने एक महिला पत्रकार का हजारों रुपए और पर्स लूट लिया. लुटेरों ने सेक्टर-25 में इस घटना को उस समय अंजाम दिया जब महिला पत्रकार रिक्‍शा पर सवार होकर अपने घर जा रही थी. कोतवाली सेक्टर-20 पुलिस ने इस मामले की रिपोर्ट दर्ज कर ली है. अब तक कोई आरोपी अरेस्‍ट नहीं हुआ है. 

द इकोनोमिस्‍ट ने लिखा – क्या कोई नरेंद्र मोदी को रोक सकता है?

Om Thanvi : कल 'द इकोनोमिस्ट' के बहुचर्चित लेख पर बात हुई थी। मैंने लिखा था काश कोई इसका अनुवाद कर देता। दो मित्रों ने तुरंत कर भेजा। एक मित्र का सन्देश था कि कि वे भी भेज रहे हैं। वे कृपया मेहनत न करें, मित्रवर मनोज खरे Manoj Khare का उम्दा अनुवाद मिल गया है। समाजी सरोकार वाले तमाम मित्रों की ओर से उनका आभार।

जी ने लांच किया पंजाब-हरियाण-हिमाचल चैनल

टीआरपी में लगातार हिचकोले खाते जी मीडिया कॉरपोरेशन ने जी पंजाब हरियाणा हिमाचल चैनल की लांचिंग शुक्रवार को की. इसे कुरुक्षेत्र से शुरू किया गया है. चैनल की लांचिंग के बाद कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी आलोक अग्रवाल ने कहा कि जी मीडिया समूह की शुरुआत में पंजाब की आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए 18 अक्टूबर 1999 में की गई थी. जी मीडिया समाचार जगत में अग्रदूत रहा है तथा इसने विभिन्न राज्यों की जरूरतों की पूर्ति के लिए कई क्षेत्रीय चैनल लांच किए हैं.

सामना के पूर्व संपादक बाल ठाकरे के खिलाफ अपील खारिज

मुंबई : बंबई हाईकोर्ट ने 1998 में सामना के तत्‍कालीन संपादक व शिवसेना संस्थापक दिवंगत बाल ठाकरे को मानहानि के मुकदमे से बरी करने के खिलाफ दायर समाजवादी पार्टी नेता अबु आसिम आजमी की अपील खारिज कर दी है. कोर्ट में जब यह मामला पेश किया गया तो सपा नेता आजमी पेश नहीं हुए. इसके चलते न्‍यायमूर्ति मृदुला भटनागर ने आजमी की अपील खारिज कर दी. आजमी इसके पहले भी कई तारीखों पर कोर्ट के सामने पेश नहीं हुए थे.

जी न्‍यूज का पतन जारी, इंडिया टीवी की टीआरपी में उछाल

तेरहवें सप्‍ताह की टीआरपी आ गई है. आजतक लगातार नम्‍बर वन बना हुआ है, जबकि एबीपी न्‍यूज ने भी दूसरे स्‍थान पर खूंटा गाड़ रखा है. लंबे समय से तीसरे स्‍थान पर चल रहे इंडिया टीवी ने इस बार दूसरे नंबर से नजदीकी बढ़ाई है. इस सप्‍ताह न्‍यूज नेशन की टीआरपी थोड़ी गिरी है, इसके बावजूद वो इंडिया न्‍यूज को पछाड़कर चौथे स्‍थान पर बना हुआ है. जी न्‍यूज का पतन लगातार जारी है. इसकी टीआरपी लगातार दूसरे सप्‍ताह भी गिरी है. यह चैनल छठवें स्‍थान पर है. 

विकास ने जनता टीवी एवं संजय ने जिया न्‍यूज ज्‍वाइन किया

एमएच1 न्‍यूज से खबर है कि विकास राज तिवारी ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर एसोसिएट प्रोडयूसर के पद पर कार्यरत थे. विकास ने अपनी नई पारी जनता टीवी के साथ शुरू किया है. उन्‍हें यहां पर प्रोडयूसर बनाया गया है. उन्‍हें चैनल में शिफ्ट इंचार्ज बनाया गया है साथ ही वे यहां हरियाणा में हो रहे लोकसभा चुनाव तथा आगामी विधानसभा चुनाव के दौरान चुनाव डेस्क को भी हेड करेंगे.

जिया न्‍यूज का कार्यालय बाउंसरों के हवाले!

जिया न्‍यूज की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. खबर आ रही है कि मालिकान अब इस चैनल को लंबा चलाने के मूड में नहीं है. इसको बेचने या फिर बंद किए जाने पर विचार किया जा रहा है. खबर आ रही थी कि चैनल के कार्यालय को बंद कर दिया गया है. कार्यालय में प्राइवेट बाउंसरों को लगा दिया गया है, लेकिन एडिटर इन चीफ कम सीईओ एसएन विनोद ने इस तरह की किसी भी बात को बेबुनियाद बताया है.

जिंदल के पैंतरे से परेशान जी समूह ने लिखा पत्रकारिता का इतिहास

नवीन जिंदल के खिलाफ कोर्ट में मात दर मात खा रहा जी समूह और उसके संपादक परेशान हैं. सुधीर चौधरी द्वारा नवीन जिंदल और ग्रुप के कई लोगों पर किए गए मानहानि समेत कई मुकदमों को विभिन्‍न अदालतों ने खारिज कर दिया है. इससे परेशान समूह अब अपनी वेबसाइट पर पत्रकारिता के इतिहास से लेकर भूगोल तक की चर्चा कर रहा है. आप भी पढ़े जी की वेबसाइट पर प्रकाशित कहानी नुमा दर्द….

चाटुकारिता या पत्रकारिता : वासिंद्र ने सुभाषचंद्रा की तुलना रामनाथ गोयनका से की

जी समूह के दो संपादक सुधीर चौधरी और समीर आहलुवालिया खबरों का दबाव बनाकर जिंदल ग्रुप से सौ करोड़ रुपए का विज्ञापन वसूलने की कोशिश में लगे थे, जिंदल ने स्टिंग करा दिया. मामला पुलिस के पास पहुंचा, पुलिस को आरोपों में दम दिखा, ब्‍लैकमेलिंग करने के आरोप में उसने जी समूह के दोनों संपादकों को अरेस्‍ट किया.

आधारहीन खबरें लिखने के आरोप में वीकली का संपादक अरेस्‍ट

सिवनी। मध्यप्रदेश के सिवनी में कोतवाली थाना पुलिस ने दैनिक अखबारों के संपादकों के खिलाफ आधारहीन खबरें प्रकाशित करने के मामले में एक साप्ताहिक समाचार पत्र के संपादक को कल गिरफ्तार किया।

केवी में डीएनए की महिला पत्रकार को बनाया गया बंधक

इंदौर. पत्रकारों पर हमले और अभद्रता की घटनाएं लगातार बढ़ती जा रही है। इंदौर के संयोगितागंज थाना क्षेत्र में स्थित केंद्रीय विद्यालय में गुरुवार को ऐसी ही घटना घटी। केवी के अध्‍यापक एवं कर्मचारियों ने अंग्रेजी अखबार डीएनए की रिपोर्टर को घंटों तक बंधक बनाए रखा। महिला पत्रकार की शिकायत पर पुलिस ने केवी की वाइस प्रिंसिपल और कई पुरुष कर्मचारियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

आफगानिस्‍तान में जर्मन फोटोजर्नलिस्‍ट की हत्‍या, कनाडा की पत्रकार घायल

काबुल : अफगानिस्तान में शनिवार को होने वाले राष्ट्रपति पद के चुनाव से ठीक एक दिन पहले दो विदेशी महिला पत्रकारों पर हमला हुआ है. हमला करने का आरोप एक पुलिसकर्मी पर लगा है. खोस्त में हुए इस हमले में जर्मनी की फोटो जर्नलिस्‍ट मारी गयी हैं और कनाडा की पत्रकार बुरी तरह जख्मी हुई हैं. मारी गई महिला फोटो जर्नलिस्‍ट को प्रतिष्ठित पुलित्‍सर पुरकार मिल चुका है.

फोटो जर्नलिस्‍ट रेपकेस : तीन आरोपियों को मौत, एक को आजीवन कारावास की सजा

मुंबई : मुंबई की एक अदालत ने शुक्रवार को पिछले साल शहर के सुनसान शक्ति मिल्स में अलग-अलग घटनाओं में दो फोटो पत्रकार एवं एक अन्‍य युवती से सामूहिक बलात्कार के दोषी पाए गए तीन आरोपियों को मौत तथा एक आरोपी को आजीवन करावास की सजा सुनाई गई। इस मामले में अदालत ने बलात्कार के कई मामले में दोषी पाए जाने से जुड़े नए कानून के तहत पहली बार सजा सुनाई।

शगुन चैनल पर भी अपशगुन, कई लोग हुए बाहर

नोएडा : टीवी चैनल शगुन का शगुन आज गड़बड़ा गया। गड़बड़ा क्‍या, सत्‍यानाश हो गया। खबर है कि अनुरंजन झा की जुगाड़-टेक्‍नालॉजी से खड़ा हुआ यह चैनल आपसी बंटवारा के बवाल के चलते बंटाधार हो गया। देर शाम को ही इस चैनल के सारे कर्मचारियों को नोटिस थमा दी गयी कि :- दुकान बंद हो चुकी है, अब कल से आफिस मत आना। कहने की जरूरत नहीं कि इससे इस चैनल के दर्जनों कर्मचारियों पर जबर्दस्‍त बज्रपात हुआ है। हालत इतनी टाइट है कि यह कर्मचारी भुखमरी की शिकार होते जा रहे हैं। वजह यह कि दो महीनों से ही यह चैनल अपने कर्मचारियों को वेतन तक वेतन नहीं दे पाया था।

फोटो जर्नलिस्‍ट रेप केस : मुंबई की कोर्ट आज सुना सकती है फैसला

मुंबई : शक्ति मिल में फोटो पत्रकार से सामूहिक बलात्कार के मामले में सुनवाई कर रही सत्र अदालत मामले के तीन दोषियों की सजा की घोषणा आज कर सकती है। एक अन्य सामूहिक दुष्कर्म कांड में भी दोषी ठहराये गये तीनों शख्सों पर बलात्कार के मामले में एक नयी धारा लगाई गयी है जिसमें मृत्युदंड तक की सजा का प्रावधान है।

सुधीर चौधरी को कोर्ट में झटका, जिंदल के खिलाफ मानहानि का मुकदमा खारिज

: जिंदल से जुड़े कार्यक्रमों में एनबीए की गाइड लाइन अनुसरण करने का निर्देश : नयी दिल्ली : राजधानी की एक निचली अदालत ने कांग्रेस सांसद एवं उद्योगपति नवीन जिंदल के खिलाफ जी न्यूज के संपादक एवं बिजनेस हेड सुधीर चौधरी की मानहानि याचिका खारिज कर दी है.

सहारा ने सुप्रीम कोर्ट में कहा – नहीं हैं जमानत के लिए दस हजार करोड़ रुपए

नई दिल्ली : सहारा ग्रुप ने सुप्रीम कोर्ट से गुरुवार को कहा है कि सहारा के पास सहारा प्रमुख सुब्रत राय की जमानत के लिए 10 हजार करोड़ रुपये नहीं है। सहारा समूह की तरफ से सर्वोच्‍च अदालत को बताया गया है कि वह इतनी बड़ी जमानत राशि दे पाने में असमर्थ है। सहारा ने कोर्ट को एक नया प्रस्‍ताव दिया है। समूह की तरफ से कहा गया कि वह 5000 करोड़ रुपए दे सकता है, जिसमें 2500 करोड़ रुपये तुरंत तथा शेष 2500 करोड़ की राशि अगले 21 दिन के भीतर जमा करा देगा।

तेजपाल के समर्थन में क्‍यों उतर गए अनुराग कश्‍यप?

दिल्‍ली : फिल्म निर्देशक अनुराग कश्यप अब रेप के आरोपी तहलका के फाउंडर एडिटर तरुण तेजपाल का बचाव करने कूद पड़े हैं. अनुराग ने फेसबुक पर तेजपाल के पक्ष में लिखकर अपनी बात रखी है. उनके इस कदम से उनके समर्थकों में भी नाराजगी है, जबकि विरोधियों को मौका मिल गया है.  अनुराग ने फेसबुक पर लिखा कि मैंने सीसीटीवी फुटेज भी देखी है और इसमें वैसा कुछ भी नहीं है, जैसा वह लड़की तरुण तेजपाल के बारे में कह रही है.

मुंबई पत्रकार रेपकांड : तीन गवाहों को दुबारा बुलाए जाने की इजाजत

मुंबई : फोटो पत्रकार सामूहिक बलात्कार मामले की सुनवाई कर रही एक सत्र अदालत ने तीन दोषियों के खिलाफ अतिरिक्त अभियोग तय करने के सिलसिले में तीन गवाहों को दोबारा बुलाए जाने और उनसे जिरह की इजाजत की मांग करने वाली बचाव पक्ष की अर्जी स्वीकार कर ली है। अदालत ने पिछले महीने आईपीसी की धारा 376 ई (बलात्कार का अपराध दोहराने को लेकर सजा) के तहत एक अतिरिक्त अभियोग तय किया था, जिसमें  अधिकतम दंड के रूप में मौत की सजा तक हो सकती है।

पणिनी बनेंगे राज्‍यसभा टीवी के सलाहकार संपादक, लक्ष्‍मण सिंह की नई पारी

आउटलुक पत्रिका से जुड़े रहे वरिष्‍ठ पत्रकार पणिनी आनंद अब अपनी नई पारी शुरू करने जा रहे हैं. वे राज्‍यसभा टीवी के साथ सलाहकार संपादक के रूप में जुड़ेंगे. पणिनी बीसीसी, एनबीटी, हिंदुस्‍तान, जनसत्‍ता और सहारा समेत कई संस्‍थानों के साथ वरिष्‍ठ पदों पर जुड़े रहे हैं. हालांकि इस संदर्भ में पणिनी से संपर्क करने की कोशिश की गई लेकिन बात नहीं हो पाई.

ये ‘दीन’ संपादक ‘प्रभात’ बनकर अवतार ले चुके हैं

किस को पार उतारा तुम ने किस को पार उतारोगे
मल्लाहों तुम परदेसी को बीच भँवर में मारोगे,
मुँह देखे की मीठी बातें सुनते इतनी उम्र हुई
आँख से ओझल होते होते जी से ही बिसारोगे।

राजकुमार ने हिंदुस्‍तान तथा अभिषेक ने साधना से इस्‍तीफा दिया

हिंदुस्‍तान, धनबाद से खबर है कि राजकुमार सिंह ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पिछले चार सालों से कार्यरत थे. राजकुमार ने अपनी नई पारी दैनिक भास्‍कर के साथ जमशेदपुर में शुरू की है. उन्‍हें यहां डीएनई बनाया गया है. राजकुमार धनबाद में हिंदुस्‍तान के सिटी इंचार्ज की जिम्‍मेदारी भी निभा चुके हैं. आज अखबार से अपने करियर की शुरुआत करने वाले राजकुमार सिंह प्रभात खबर के साथ बारह सालों तक रांची और धनबाद में कार्यरत रहे हैं. इसके बाद ये पिछले आठ सालों से हिंदुस्‍तान से जुड़े हुए थे. चार साल रांची में काम करने के बाद इन्‍हें धनबाद भेज दिया गया था. इनकी गिनती झारखंड के सुलझे हुए पत्रकारों में की जाती है.

फर्दाफाश टीम पर हमला, गगनदीप एवं शैलेंद्र हुए घायल

लखनऊ में पर्दाफाश की टीम के दो सदस्‍यों पर हमला किया गया है. लखनऊ के गाजीपुर कोतवाली में दर्ज कराए गए एफआईआर के मुताबिक पर्दाफाश टीम के रिपोर्टर गगनदीप मिश्रा तथा कैमरामैन शैलेंद्र शर्मा खबर की रिपोर्टिंग के लिए इंदिरानगर स्थित एचएएल कैम्‍पस के भीतर गए थे. जब वे वापस फैजाबाद रोड पर पहुंचे, इसी दौरान एचआर नंबर की फार्चूनर गाड़ी पर सवाल पांच-छह लोगों ने इन लोगों की बाइक रोक ली तथा गगनदीप को रोककर उसे बुरी तरह पीटने लगे.

संजय का तबादला, राजीव मेडिकल लीव पर गए

भास्‍कर, धनबाद से खबर है कि संजय चौधरी को रांची बुला लिया गया है. संजय कई बार विवादित सुर्खियों में रहे हैं. प्रबंधन ने संजय को रांची में रीजनल हेड बना दिया है. इसके पहले भी वे रांची में ही कार्यरत थे, लेकिन प्रबंधन ने उन्‍हें धनबाद भेज दिया था.

पंजाब केसरी का पत्रकार पशुपालन निदेशक पर बना रहा दबाव, मित्‍तल से की गई शिकायत

पंजाब केसरी के ब्यूरो प्रमुख असलम सिद्दीकी की कार्यप्रणाली संदेह के घेरे में है। इस संबंध में पशुपालन निदेशक डा. रुद्र प्रताप ने 26 मार्च 2014 को सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग के निदेशक प्रभात मित्तल को पत्र लिखकर कार्रवाई किए जाने की मांग की है। पत्र में उल्लेख किया गया है कि उत्तर प्रदेश मान्यता प्राप्त पत्रकार एसोसियेशन के अध्यक्ष असलम सिद्दीकी पर आरोप लगाया है कि श्रीट्रॉन कम्पनी को ओएमआर शीट के मूल्यांकन कार्य दिए जाने के लिए अनैतिक रूप से दबाव बना रहे हैं।

भास्‍कर, धनबाद के नए संपादक बने अमरकांत, बसंत दिल्‍ली भेजे गए

दैनिक भास्‍कर, धनबाद से खबर है कि स्‍थानीय संपादक बसंत झा का तबादला दिल्‍ली के लिए कर दिया गया है. बसंत लगभग एक साल से इस पद पर तैनात थे. बताया जा रहा है कि स्‍थानीय प्रबंधन से मामला जम नहीं पाने के कारण उन्‍हें धनबाद से सीधे दिल्‍ली का टिकट पकड़ा दिया गया.

एनबीए के आदेशों का पालन करे जी मीडिया : हाई कोर्ट

नई दिल्ली : दिल्ली हाईकोर्ट ने जी मीडिया हाउस को निर्देश दिया है कि वह न्यूज ब्रॉडकास्टर्स एसोसिएशन द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का पालन करे। हाईकोर्ट के न्यायमूर्ति वीके शाली की खंडपीठ ने यह आदेश सांसद नवीन जिंदल की ओर से दायर मानहानि की याचिका पर सुनवाई करते हुए दिया। खंडपीठ ने कहा कि न्यूज चैनल किसी भी प्रकार का कार्यक्रम प्रसारित करते हुए इस बात का ध्यान रखे कि वह किसी भी तरह से न्यूज ब्रॉडकास्टर्स एसोसिएशन द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का उल्लंघन न करता हो।

एमजे अकबर के दादा हिंदू थे

मशहूर अखबारनवीस एमजे अकबर ने पिछले दिनों भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर ली और पार्टी ने उन्हें राष्ट्रीय प्रवक्ता बना दिया है. राजनीति उनके लिए कोई नया काम नहीं है. वे इससे पहले भी 1989 में कांग्रेस पार्टी की ओर से बिहार के किशनगंज लोकसभा से चुनाव जीत चुके हैं, बाद में 1991 में उन्हें यह सीट गंवानी पड़ी, इसके बाद उन्होंने तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी के अधिकारिक प्रवक्ता के रूप में काम किया.

एनटी अवार्ड में आजतक के हिस्‍से आए छह पुरस्‍कार

देश का सबसे तेज और चहेता न्यूज चैनल आज तक 'न्यूज टेलीविजन अवॉर्ड्स' में छाया रहा. आज तक को अलग-अलग श्रेणियों में कुल 6 अवॉर्ड्स से नवाजा गया. इसके अलावा हमारे सहयोगी चैनल हेडलाइंस टुडे को भी 2 अवॉर्ड्स मिले.

एनटी अवॉर्ड में एनडीटीवी ने 23 पुरस्कार अपने नाम किए

नई दिल्ली: न्यूज टेलीविजन अवॉर्ड्स (एनटी अवॉर्ड्स) की शाम एनडीटीवी के नाम रही। बेस्ट न्यूज एंकर से लेकर बेस्ट न्यूज रिपोर्टर तक, बेस्ट मोबाइल ऐप से लेकर गेम चेंजर 2013 तक हर अवॉर्ड एनडीटीवी के नाम रहा। कुल मिलाकर एनडीटीवी की झोली में 23 अवॉर्ड आए।

एनटी अवॉर्ड में नेटवर्क 18 को 34 अवॉर्ड मिले

नई दिल्ली। न्यूज टेलीवीजन अवॉर्ड में एक बार फिर नेटवर्क18 की धूम रही और पूरे नेटवर्क को कुल 34 अवॉर्ड मिले। आईबीएन7 को दो अवॉर्ड मिले। आईबीएन7 के शो जिंदगी लाइव के लिविंग विद कैंसर एपिसोड को बेस्ट न्यूज टॉक शो का अवॉर्ड मिला। इसके अलावा जिंदगी लाइव के लिए ही बेस्ट न्यूज इनिशिएटिव टेकेन बाइ न्यूज चैनल का अवॉर्ड मिला।

लखनऊ में हवा और जमीन पर लिखने वाले पत्रकारों की भीड़ बढ़ी

लखनऊ। लोकसभा चुनाव नजदीक आने के साथ ही लखनऊ में पत्रकारों की संख्‍या में अचानक इजाफा हो गया है. हवा और जमीन पर लिखने वाले तथा आसमान में खबर दिखाने वाले पत्रकारों की भीड़ कई राजनीतिक दलों के कार्यालयों में दिखने लगी है. ये पत्रकार किसी भी प्रेस कांफ्रेंस (पीसी) में निर्धारित समय से पहले पहुंच जाते हैं तथा कुर्सियों पर जम जाते हैं. राजनीतिक दलों के मीडिया मैनेज करने वाले लोग भी इस भीड़ को देखकर परेशान होते हैं, लेकिन इन लोगों की तथाकथित नाराजगी के डर से कुछ कहते-सुनते नहीं हैं.

डाल्‍टनगंज के पत्रकार मनोज कुमार की हत्‍या करने वाला शूटर अरेस्‍ट

झारंखड के डाल्‍टनगंज जिले के मेदिनीनगर पुलिस और सदर थाना पुलिस ने संयुक्‍त कार्रवाई में मोहम्‍मदगंज के पत्रकार मनोज कुमार की हत्‍या करने वाले कुख्‍यात शूटर को अरेस्‍ट किया है. मेदिनीनगर थाना के बहलोलवा गांव से शूटर विजय शर्मा उर्फ गुरुजी उर्फ उदय को गिरफ्तार किया गया. वह मोहम्‍मदगंज थाना के गाजीबिहरा का मूल निवासी है. पुलिस ने उसके पास से नाइन एमएम की पिस्‍टल और चार कारतूत बरामद किए हैं.

अरे! ये आपदा पीडि़त या भिखारी नहीं, पत्रकार हैं भाई

लखनऊ। अगर आपको लग रहा है कि नीचे के फोटो में सामान के लिए मारामारी करती भीड़ उत्‍तराखंड आपदा की है, या फिर ये लोग बाढ़ पीडि़त हैं या गरीब और भिखारी तबके के लोग हैं, तो आप बिल्‍कुल गलत सोच रहे हैं. ये ना तो भिखारी हैं और ना ही आपदाग्रस्‍त इलाकों के लोग. ये लोग देश के सबसे बड़े प्रदेश यूपी की राजधानी लखनऊ के बड़े बड़े पत्रकार हैं. जी हां, पत्रकार. चौंकिए नहीं, ऐसे दृश्‍य आए दिन लखनऊ की सरजमीं पर नुमाया होते रहते हैं.

जनसंदेश टाइम्‍स की हालत पतली, तीन दिन बंद रही सीयूजी की आउटगोइंग

बनारस। जनसंदेश टाइम्‍स की हालत दिन प्रतिदिन बिगड़ती जा रही है. प्रबंधन ने डाक्‍टर बदला, इलाज बदला, फिर भी इस अखबार की सांसें उखड़ती जा रही हैं. कोई फायदा होता नहीं दिख रहा है. ताजा सूचना है कि अखबार के उपर मोबाइल फोन का लाखों रुपए बकाया होने और पेमेंट न करने के कारण कंपनी की सीयूजी मोबाइल की आउटगोइंग तीन दिन तक बंद रही. किसी तरह पैसा जमा कराकर प्रबंधन ने रविवार से आउटगोइंग शुरू कराया है.

इंडिया न्‍यूज को न्‍यूज नेशन ने पछाड़ा, आजतक नंबर वन

न्‍यूज चैनलों की ग्‍यारहवें सप्‍ताह की टीआरपी आ गई है. आजतक लगातार पहले नंबर पर काबिज है. रजत शर्मा की लाख कोशिशों के बावजूद इंडिया टीवी तीसरे नंबर से ऊपर नहीं चढ़ पा रहा है. जी न्‍यूज चौथे स्‍थान पर बना हुआ है. इस सप्‍ताह सबसे बड़ा उलटफेर न्‍यूज नेशन ने किया है. इस चैनल ने इंडिया न्‍यूज को छठे स्‍थान पर धकेल कर खुद टॉप फाइव में काबिज हो गया है. अब न्‍यूज 24 भी इंडिया न्‍यूज के गले तक पहुंच गया है.

संजीव ने अमर उजाला, आशु ने एनबीटी ज्‍वाइन किया

शाहजहांपुर से खबर है कि हिंदुस्‍तान से संजीव पांडे ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर क्राइम रिपोर्टर थे. संजीव ने अपनी नई पारी अमर उजाला, अमरोहा से शुरू की है. उन्‍हें यहां भी रिपोर्टिंग की जिम्‍मेदारी सौंपी गई है. वे पिछले चार सालों से हिंदुस्‍तान को अपनी सेवाएं दे रहे थे.

तेजपाल जेल में उठा सकेंगे एसटीडी फोन की सुविधा

पणजी। दक्षिण गोवा स्थित साडा उप जेल के अधीक्षक ने तहलका के सह संस्थापक तरुण तेजपाल को जो फिलहाल न्यायिक हिरासत में है, एसटीडी टेलीफोन सुविधा के इस्तेमाल की इजाजत दे दी है।
गौरतलब है कि 50 वर्षीय पत्रकार पिछले साल 30 नवंबर से सहकर्मी महिला पत्रकार से बलात्कार के आरोप में सलाखों के पीछे हैं।

अमर उजाला के पत्रकार के पुत्र ने छात्रा की गोली मारकर हत्‍या की

शाहजहांपुर। केंद्रीय विद्यालय नंबर एक में सीबीएसई की परीक्षा के दौरान इंटर के एक छात्र ने परीक्षा कक्ष में घुसकर इंटर छात्रा की गोली मार दी। एक गोली छात्रा के हाथ पर लगी तथा दूसरी सीने पर लगी, छात्रा की मौके पर ही मौत हो गई। इस वारदात से स्कूल में भगदड़ मच गई। स्कूल के सिक्योरिटी गार्डों ने छात्र को मय तमंचा घेरकर पकड़ लिया। इस मामले में पुलिस ने छात्रा के पिता की तहरीर पर छात्र के खिलाफ हत्या की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है। यह छात्र बरेली में कार्यरत अमर उजाला के पत्रकार का पुत्र बताया जा रहा है। 

लखनऊ की पत्रकारिता का सबसे बड़ा दलाल?

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में इन दिनों पत्रकारिता की एक नई बयार बह रही है। जिसे दलाली का बयार कहा जाये तो गलत नहीं होगा। आज उसी दलाली की पत्रकारिता में राजधानी लखनऊ के कई तथाकथित पत्रकार जो ईमानदारी का डंका पीटते और नौकरशाही को उसी तथाकथित ईमानदारी के दम पर डरा कर ब्लैकमेलिंग कर रहे है। ब्लैकमेलिंग के इस रंग में रंग कर कभी नौकरशाही इन पर हावी होकर इनका इस्तेमाल करती है तो कभी ये नौकरशाही पर हावी होकर उसे ब्लैकमेल करते हैं।

जनसंदेश टाइम्‍स, इलाहाबाद से एडिटोरियल हेड रवि प्रकाश मौर्य का इस्तीफा

इलाहाबाद से खबर है कि जनसंदेश टाइम्स में एडिटोरियल हेड के रूप में कार्य कर रहे रवि प्रकाश मौर्य ने यहां के जीएम रंजीत कुमार मौर्य से विवाद होने के बाद इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने रवि मौर्या से विज्ञापन की एक खबर लगाने को कहा था जिसे उन्होंने लगाने से मना कर दिया था। यह बात सीईओ व डायरेक्टर तक पहुंची तो रवि मौर्या ने सीईओ को इस्तीफा भेज दिया। बता दें कि करीब दो माह पूर्व सीईओ आरपी सिंह से विवाद के होने बाद यहां के सम्पादकीय प्रभारी आनंद नारायण शुक्ल ने भी इस्तीफा दे दिया था और अपनी टीम लेकर सिटी टाइम्स चले गये।

कानपुर में सरकारी गुंडा बनी पुलिस, डाक्‍टरों के बाद मीडियाकर्मियों पर तोड़ी लाठियां

: कई प्रेस फोटोग्राफरों को आई गंभीर चोट : कई डाक्‍टर भी घायल : कानपुर में एक छोटी सी घटना ने विकराल रूप धर लिया. पहले सत्‍ता के मद में चूर सपा विधायक के लोगों ने जूनियर डाक्‍टरों से मारपीट किया. इसके बाद विधायक की सहयोगी बनकर पुलिस ने सारी हदें पार करते हुए जूनियर व सीनियर डाक्‍टरों के अलावा मीडियाकर्मियों पर भी जमकर हमला बोला. एक दर्जन से ज्‍यादा प्रेस फोटोग्राफरों को गंभीर चोटें आई हैं. एसएसपी के आदेश के बाद कानपुर की पुलिस सरकारी गुंडा बन गई और जो भी मिला उसको लाठियों से जमकर पीटा.

रवींद्र शाह स्मृति व्याख्यान में बोले वक्ता- वर्तमान पत्रकारिता पर कार्पोरेट कल्चर पूरी तरह हावी है (देखें तस्वीरें)

: पत्रकार रवींद्र शाह को याद किया गया : इंदौर। पत्रकारिता का आवरण और कलेवर बदल गया है। वर्तमान में पत्रकारिता पर कॉर्पोरेट कल्चर पूरी तरह हावी है। मीडिया अब टर्नओवर वाली कंपनी बन गया है। समाज से जुड़े सरोकार अब पत्रकारिता में दिखाई नहीं देते हैं। न्यू मीडिया के लिए भारत अब सिर्फ एक बाजार है। मीडिया में आए इन्हीं परिवर्तनों से सोशल साइट्‍स के रूप में नए मीडिया का उदय हुआ है।

गैर-जमानती वारंट रद्द कराने सुप्रीम कोर्ट पहुंचे सुब्रत रॉय

नई दिल्ली: सहारा समूह के मुखिया सुब्रत रॉय के खिलाफ जारी गैर-जमानती वारंट की तामील करवाने के लिए पुलिस लखनऊ में उनके घर पहुंची। बुधवार को ही सुप्रीम कोर्ट ने सुब्रत रॉय के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किया था।

सूचना मांगना पत्रकार को पड़ा महंगा, पुलिस ने झूठे मुकदमें में फांसा

उत्तर प्रदेश के बिजनौर जिले में आरटीआई के तहत सूचना मांगना तथा मानवाधिकार आयोग में पुलिस उत्पीड़न की शिकायत दर्ज कराना एक पत्रकार को इतना महंगा पडा कि पुलिस ने उसे झूठे मुकदमें में फंसाकर उसका उत्पीड़न शुंरू कर दिया। यूपी पुलिस इसके पहले भी पोल खोले जाने से नाराज होकर या बड़े लोगों के दबाव में फर्जी फंसाती रही है। बिजनौर पुलिस के उत्‍पीड़न का विरोध करते हुए पत्रकारों ने दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

घर पर नहीं मिले सुब्रत राय, बैरंग लौटी गोमतीनगर पुलिस

: कोर्ट की अवमानना पर जारी हुआ था एनबीडब्ल्यू : लखनऊ। सुप्रीम कोर्ट के आदेश की अवहेलना के दोषी सहारा इंडिया के प्रमुख सुब्रत राय के खिलाफ जारी नान बेलेबल वारंट (एनबीडब्ल्यू) को तालीम कराने के लिए गुरुवार को लखनऊ की गोमतीनगर पुलिस उनके आवास पर पहुंची, लेकिन सुब्रत राय घर पर नहीं मिले।

बसपा प्रत्‍याशी ने चंदौली के पत्रकारों को बांटी नगदी!

हिंदुस्‍तान के प्रधान संपादक शशि शेखर 26 फरवरी की सुबह लोगों को 'वोट की चोट का अर्थ' समझा रहे थे. अपने 'आओ राजनीति करो अभियान' की सफलता का गुणगान कर रहे थे. इसी दिन एक जगह उनके अखबार के एक ब्‍यूरोचीफ के बिकने की तैयारी चल रही थी. पेड न्‍यूज पर मातम करके पेड न्‍यूज छापना हिंदुस्‍तान की पुरानी नीति रही है. पिछली बार भी विधानसभा चुनाव के दौरान हिंदुस्‍तान, बनारस में माफिया डॉन ब्रजेश सिंह का पेड न्‍यूज छापने पर कई लोगों की बत्‍ती गुल हुई थी. इसके बाद भी हिंदुस्‍तानियों ने स‍बक नहीं लिया. हालांकि इस बार हिंदुस्‍तान समेत कई अखबारों के ब्‍यूरो चीफ और पत्रकार पैसा पाकर संबंधित प्रत्‍याशी के पक्ष में माहौल बनाने को तैयार हुए हैं.

नीतीश ने फोटोग्राफर से कहा- परेशान मत करो, अखबार में कुछ नहीं छपेगा

पटना : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार मीडिया के बहुत नाराज है क्योंकि उनकी संकल्प रैलियों में मीडिया में पर्याप्त जगह नहीं मिल रही। अभी तक नीतीश कुमार पर बिहार में मीडिया का गलत इस्तेमाल करने के आरोप लगाए जाते रहे। यह आरोप न केवल विपक्षी नेता लालू प्रसाद यादव द्वारा बल्कि प्रेस काउंसिल आफ इंडिया के चेयरमैन मार्केंडय काटजू द्वारा भी नीतीश पर लगाए गए।

श्रीनगर में सड़क हादसे में चार मीडियाकर्मी घायल

श्रीनगर से खबर है कि सड़क हादसे में तीन पत्रकार समेत चार मीडियाकर्मी घायल हो गए। बताया जा रहा है कि तीन पत्रकार आदिल लतीफ, कारी इंजमाम, इशान वानी तथा प्रेस फोटोग्राफर शाहिद तांत्रे शनिवार की सुबह खबर कवरेज के लिए श्रीनगर से बारामूला जा रहे थे. रास्‍ते में उनकी टवेरा गाड़ी हैदरवेग पट्टन के पास विपरीत दिशा से आ रही अल्‍टो कार से टकरा गई. इस हादसे में चारों मीडियाकर्मी समेत अल्‍टो में सवार दो लोग घायल हो गए.

यूपी में भी लागू हो सकता है पत्रकार बीमा योजना, पीजीआई में फ्री इलाज शुरू

लखनऊ। बिहार, राजस्थान, मध्य प्रदेश एवं दक्षिण भारत के कुछ राज्यों की तर्ज पर पत्रकारों के लिए ‘‘उत्तर प्रदेश राज्य पत्रकार बीमा योजना‘‘ लागू करने पर प्रदेश सरकार गंभीर पहल के लिए तैयार है। उत्तर प्रदेश राज्य मान्यता प्राप्त संवाददाता समिति के प्रस्ताव पर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने तत्काल विधिक परीक्षण कराने का आष्वासन दिया है। प्रस्ताव के मुताबिक इस योजना में ग्रुप मेडिक्लेम एवं व्यक्तिगत दुर्घटना बीमा दोनों को शामिल किया जायेगा।

चंदौली में शिक्षिका ने पत्रकार पर लगाया यौन शोषण का आरोप

वैलेंटाइन वीक में एक पत्रकार की प्रेम कहानी का चैप्टर उस वक्त क्लोज हुआ जब प्यार में धोखा खाई प्रेमिका थाने पहुंच कर उस पर यौन शोषण करने का संगीन आरोप लगाने लगी। पत्रकार भी कहां कम था, उसने भी पत्रकारिता का रौब गांठते हुए मामले को सिरे से खारिज करने का पुलिस पर दबाव बनाया और फिर शुरू हुई पुलिस की जी हुजूरी और बलात्कार का आरोपी पत्रकार बन गया पुलिस का मेहमान।

कैनविज टाइम्‍स, बरेली के आरई बने ब्रजेंद्र निर्मल, संजीव एवं केके को नई जिम्‍मेदारी

करीब 24 वर्ष से प्रिंट मीडिया में सक्रिय ब्रजेंद्र निर्मल के बारे में खबर है कि उनको कैनविज टाइम्स बरेली का स्थानीय संपादक बनाया गया है। उनका नाम समाचार-पत्र की प्रिंट लाइन में प्रकाशित होने लगा है। कैनविज टाइम्स अब तक अपने लखनऊ संस्करण से ही तैयार पहला पेज से लेकर सभी जनरल पेज (संपादकीय, राष्ट्रीय, व्यापार, खेल व फलक आदि) प्रकाशित करता था। अब ये सभी पेज बरेली से बनाकर लखनऊ भेजे जा रहे हैं यानी जो जिम्मेदारी कैनविज टाइम्स के पूर्व संपादक प्रभात रंजन दीन निभा रहे थे, वह काम बरेली से करवाया जा रहा है। निर्मल इसके पहले अमर उजाला और हिंदुस्‍तान में लंबे समय तक वरिष्‍ठ पदों पर रहे हैं।

अंकुर ने ईटीवी तथा पंकज ने डीएनए ज्‍वाइन किया

डेली न्‍यूज ऐक्टिविस्‍ट, लखनऊ से खबर है कि अंकुर सिंह ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर रिपोर्टर के पद पर कार्यरत थे. अंकुर ने अपनी नई पारी हैदराबाद में ईटीवी के साथ शुरू की है. उन्‍हें यहां पर कॉपी एडिटर बनाया गया है तथा नेशनल डेस्‍क पर जिम्‍मेदारी सौंपी गई है.

झांसी मीडिया क्‍लब : 17 पदों के लिए भरे गए 35 नामांकन

झांसी में जल्द ही झांसी मीडिया क्लब का गठन होने जा रहा है। जिसको लेकर बुधवार को नामांकन दाखिल किए गए। चुनाव 16 फरवरी को होंगे। झांसी में यह पहली बार हो रहा है कि झांसी मीडिया क्लब के गठन होने से पहले ही पत्रकार एक मंच पर दिखाई दे रहे हैं। इस क्लब में प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में खासा उत्साह के साथ-साथ एकता भी भरपूर नजर आ रही है। वहीं, अब भी इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के पत्रकार ऐसे हैं, जो इस झांसी मीडिया क्लब के गठन से खासे नाराज हैं। इतना ही नहीं इन पत्रकारों ने अन्य पत्रकारों में फूट फैलाने की प्रयास किया, लेकिन वे कामयाब नहीं हो सके।

पारिवारिक जीवन की बारीकियों पर नज़र

पारिवारिक जीवन में गुंथी इन ग्यारह समकालीन कहानियों में लेखक दयानंद पांडेय जी ने गांव व शहर दोनों के परिवेश को बड़ी कुशलता से उभारा है l दोनों परिवेशों पर आप का विस्तृत अनुभव आप के लेखन पर समान नियंत्रण रखता है और इसे समर्थ बनाता है l पारिवारिक जीवन में सांस लेती हुई इन कहानियों की परिधि में इंसान के जीवन के हर पहलू व उसकी समस्त भावनाओं की झलक मिलती है l आप के लेखन में गांव व शहर दोनों के बदलते हुए परिवेश, सामाजिक व पारिवारिक समस्याओं का उल्लेख बड़ी सहजता से हुआ है l

दैनिक जागरण, बनारस में फिर शुरू हुआ हस्‍ताक्षर अभियान

दैनिक जागरण ऐसे ही जागरण प्रकाशन नहीं बना है. उसके पीछे कितने ही पत्रकारों के शोषण और खून चूसे जाने की लंबी कहानियां रही हैं. मजीठिया वेज बोर्ड की सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई से पहले दैनिक जागरण ने अपने सारे यूनिटों में खूब हस्‍ताक्षर अभियान चलाया. पत्रकारों से जबरिया हस्‍ताक्षर करवाया कि वे कम पैसे पर ही खुश हैं, उन्‍हें ज्‍यादा पैसों की जरूरत नहीं. कई पत्रकारों के तबादले किए गए, कई को दूसरे तरीकों से प्रताडित किया गया, कई पत्रकार अपने रिटायरमेंट के आखिरी बेला में बाहर कर दिए गए.

आलोक मिश्रा ने संभाला बनारस में कार्यभार

दैनिक जागरण, बनारस से खबर है कि भागलपुर से आए नए संपादक आलोक मिश्रा ने अपनी जिम्‍मेदारी संभाल ली है. आलोक के पहले संपादकीय प्रभारी आशुतोष शुक्‍ला की विदाई बनारस से हो गई है. उल्‍ल्‍लेखनीय है कि कुछ दिन पहले ही आशुतोष का तबादला लखनऊ के लिए कर दिया गया था, जबकि उनकी जगह भागलपुर …

भारत दूत में एनई बने आरआरएस सोलंकी

वरिष्‍ठ पत्रकार आरआरएस सोलंकी ने बनारस में भारत दूत ज्‍वाइन कर लिया है. उन्‍हें यहां पर समाचार संपादक बनाया गया है. सोलंकी कुछ समय पहले ही दैनिक जागरण से रिटायर हुए थे. अब वे भारत दूत को नई ऊंचाइयों पर ले जाने की जिम्‍मेदारी निभाएंगे.

बेनी बाबू के दिए दर्द से नहीं उबर पा रहे लखनऊ के कई पत्रकार

लखनऊ : बेनी बाबू के मोबाइल, कैश और बैग ने लखनऊ की पत्रकारिता को गरम कर रखा है. होटल ताज में आयोजित कार्यक्रम में बैग पाने के लिए दर्जनों पत्रकार लाइन में लगे रहे. शर्म हया को ताक पर रखकर. इतना करने के बाद भी बेनी बाबू ने इन लोगों को छोटा सा बैग थमाकर अरमानों पर पानी फेर दिया. कई दिनों तक यह मामला सचिवालय के प्रेस रूम और तमाम जगहों पर गरमा गरम बहस का मुद्दा बना रहा.

कैनविज टाइम्‍स को धोखा देने वाली टीम ने वॉयस ऑफ मूवमेंट ज्‍वाइन किया

: पुराने मीडियाकर्मी को काम करने से मना किया गया : लखनऊ : कुछ दिन पहले प्रभात रंजन दीन लगभग तीस लोगों की टीम के साथ कैनविज टाइम्‍स को ठप करके निकल गए थे. दीन के चलते कैनविज टाइम्‍स दीन हीन स्थिति में पहुंच गया. टीम के जाने के अगले दिन अखबार भी प्रकाशित नहीं हुआ. लखनऊ में इस बात की जबर्दस्‍त चर्चा रही. अखबारों में वीर रस लिखने वाले दीन के नैतिकता पर उंगली उठी. उनकी पीठ में छूरा घोंपने की आदतों पर भी लोग चर्चा करते दिखे. इस बार दीन ने दो दर्जन मीडियाकर्मियों को दीन दुखी बना दिया है.

पत्रिका ने लिखा – आईआरएस की सर्वेक्षण पद्धति सर्वश्रेष्ठ!

नई दिल्ली। एमयूआरसी ने मंगलवार को इंडियन न्यूज पेपर सोसायटी को लिखे एक पत्र में विस्तार से बताया है कि क्यों वर्तमान सर्वेक्षण पद्धति सर्वश्रेष्ठ है।

रीडरशिप में पोल खुलने से नाराज 18 मीडिया समूह आईआरएस से अलग हुए

नई दिल्ली। इंडियन न्यूजपेपर सोसाइटी की कार्यकारी समिति की ओर से सर्वसम्मति से इंडियन रीडरशिप सर्वे (आइआरएस-2013) को खारिज करने के बाद दैनिक जागरण समेत कई प्रमुख अखबारों ने खुद को आइआरएस से अलग कर लिया है।

सात प्रेम कहानियां : स्त्री मन को झकझोर देने वाली कहानियां

प्रेम शब्द से सारी दुनिया परिचित है l यह एक ऐसी अनुभूति है जिस के बिना इंसान को सारा जीवन निरर्थक लगने लगता हैl इस अनुभति के विभिन्न रूप लोगों के जीवन में देखने को मिलते हैं l प्रेम कहीं पूजा है, कहीं तपस्या है l प्रेम के बिना जीवन मरुथल है l इस के बिना इंसान को जीवन की राहें बहुत लंबी लगने लगती हैंl समय-समय पर इसके बारे में कहानियाँ भी लिखी गयी हैं l प्रेम राधा और मीरा ने कृष्ण से किया l प्रेम के उदाहरण लैला-मजनू, शीरीं-फरहाद भी हैं l प्रेम के नाम पर लोगों की गर्दनें भी कट गयी हैंl

बेनी ने पत्रकारों को बांटे कैश, मोबाइल और सूटकेस

लखनऊ : लोकसभा चुनावों की अधिसूचना इसी महीने जारी होने की संभावना है। इससे ठीक पहले केंद्रीय इस्पात मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा ने सोमवार को होटेल ताज में एक करोड़ से ज्यादा रुपए कैश बांटा। इस्पात उपभोक्ता परिषद की सदस्यता के नाम पर ज्यादातर पैसा लखनऊ और बाराबंकी के पत्रकारों व मंत्रीजी के संसदीय क्षेत्र के कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को दिया गया।

युवक ने हरियाणा के सीएम हुड्डा को थप्‍पड़ मारा

पानीपत : कांग्रेस के रोड शो के दौरान एक युवक ने हरियाणा के मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा को थप्पड़ जड़ दिया। सीएम को थप्पड़ जड़ने का दुस्साहस करने वाले इस युवक को सुरक्षाकर्मियों ने तुरंत हिरासत में ले लिया। बताया जा रहा है कि यह युवक नौकरी न मिलने के कारण डिप्रेशन में चल रहा था। अधिकारियों ने बताया कि युवक से पुलिस पूछताछ कर रही है।

महिला पत्रकार गुणसेकर की निर्मम हत्‍या

कोलंबो : श्रीलंका की एक वरिष्ठ महिला पत्रकार की उनके घर में हत्या कर दी गई । पुलिस प्रवक्ता अजीथ रोहना ने बताया कि मेल गुणसेकर (40) का शव कोलंबो के उपनगर में स्थित उनके आवास से मिला। रोहना ने बताया कि उनके माता-पिता और भाई ने गिरजाघर से लौटने के बाद रविवार सुबह सवा आठ बजे उनका शव देखा। उन्होंने बताया कि पत्रकार के सिर और चेहरे पर कटने के जख्म हैं।

वरिष्‍ठ पत्रकार शंभुदयाल बाजपेयी बने कैनविज टाइम्‍स के संपादक

कैनविज टाइम्‍स, लखनऊ से खबर है कि शंभुदयाल बाजपेयी को अखबार का नया संपादक बनाया गया है. बाजपेयी ने अपनी जिम्‍मेदारी संभाल ली है. खबर है कि प्रभात रंजन दीन अपनी टीम के साथ निकल गए हैं. शंभुदयाल वरिष्‍ठ पत्रकार हैं. वे लंबे समय तक दैनिक जागरण से जुड़े रहे हैं. वे बरेली तथा गोरखपुर में जागरण के संपादकीय प्रभारी रहे हैं. कुछ समय उन्‍होंने इस्‍तीफा देकर चंद्रकांत त्रिपाठी के अखबार से जुड़े. माहौल अनुकूल नहीं होने पर उन्‍होंने इस अखबार को भी अलविदा कह दिया.

फोटो जर्नलिस्‍ट को थप्‍पड़ मारने वाला सिपाही सस्‍पेंड

नई दिल्ली। दिल्ली के राजघाट पर एक पागल हाथी की तस्वीरें ले रहे ट्रिब्यून अखबार के फोटो जर्नलिस्ट मानस रंजन को थप्‍पड़ मारने वाले सिपाही को सस्‍पेंड कर दिया गया है। हुआ यूं कि राजघाट पर एक हाथी ने रेलिंग और साइन बोर्ड उखाड फेंके और अपने ऊपर बैठे महावत को नीचे गिरा दिया।

11 पारिवारिक कहानियां : रिश्‍तों के जाल में उलझे कुछ किस्‍से

दुनिया और समाज चाहे जितने बदल जाएं परिवार और परिवार की बुनियाद कभी बदलने वाली नहीं है। माहेश्वर तिवारी का एक गीत है, 'धूप में जब भी जले हैं पांव, घर की याद आई !' सार्वभौमिक सच यही है। भौतिकता की अगवानी में आदमी चाहे जितना आगे बढ़ जाए, जितना बदल जाए परिवार के बिना वह रह नहीं सकता और परिवार उस के बिना नहीं रह सकता। कहा ही जाता है कि कोई भी घर छत, दीवार और दरवाजे से नहीं बनता। घर बनता है आपसी रिश्तों से।

सात प्रेम कहानियां : मासूम दिलों के निश्‍छल प्‍यार की कथा

अकथ कहानी प्रेम की। तो कबीर यह भी कह गए हैं कि ढाई आखर प्रेम का पढ़े सो पंडित होय! कबीर के जीवन में दरअसल प्रेम बहुत था। जिस को अद्वितीय प्रेम कह सकते हैं। उन की जिंदगी का ही एक वाकया है। कबीर का विवाह हुआ। पहली रात जब कबीर मिले पत्नी से तो पूछा कि क्या तुम किसी से प्रेम करती हो? पत्नी भी उन की ही तरह सहज और सरल थीं। दिल की साफ। सो बता दिया कि हां। कबीर ने पूछा कि कौन है वह। तो बताया पत्नी ने कि मायके में पड़ोस का एक लड़का है।

सिनेमा सिनेमा : बड़़े पर्दे के सरोकार को बताती एक पुस्‍तक

सिनेमा के सच और समाज के सच जैसे एक दारुण सच बन गए हैं। लगता ऐसे है जैसे सिनेमा न हो तो जीवन न हो। जीवन का एक विकट सच यह भी है कि हमारे भारतीय समाज में, दुनिया में हिंदी अगर आज तमाम दुश्वारियों के बावजूद सर उठा कर खड़ी है तो उस में हिंदी सिनेमा का बहुत बड़ा योगदान है। सोचिए कि अगर हिंदी सिनेमा हिंदीमय और बाज़ार न हो तो हिंदी कौन बोलेगा? कौन सुनेगा? रोजगार से हिंदी गायब है, अदालतों से, विधाई कार्यों से, ज्ञान-विज्ञान से और तमाम हलकों में हिंदी का नामलेवा कोई नहीं है। ऐसे में हिंदी सिनेमा और उस का संगीत हिंदी की अप्रतिम ताकत है।

250 रुपए से कारोबार शुरू करने वाला यह पूर्व पत्रकार 800 करोड़ का मालिक है

नई दिल्ली : राज्यसभा का सदस्य बनने के लिए नामांकन दाखिल करने वाले सभी उम्मीदवारों में सबसे अमीर बीजेपी की ओर से प्रत्याशी रविंद्र किशोर सिन्हा हैं। उनकी और उनकी पत्नी की कुल संपत्ति करीब 800 करोड़ बताई गई है। सिन्हा के नाम दर्ज संपत्ति की कीमत 564 करोड़ रुपये जबकि उनकी पत्नी के पास 230 करोड़ रुपये कीमत की संपत्ति है। सिन्‍हा चार सालों तक पटना के एक अखबार में पत्रकार भी रहे हैं। 

20 पत्रकारों पर मुकदमा लादने की तैयारी

मिस्र में सरकारी वकीलों का कहना है कि 16 पत्रकार 'चरमपंथी संगठनों से संबंध रखने' और चार पत्रकार उनकी मदद करने या झूठी ख़बरें फैलाने संबंधी आरोपों का सामना कर रहे हैं. इन कुल बीस पत्रकारों में से दो ब्रिटेन, एक हालैंड और एक ऑस्ट्रेलिया का पत्रकार है. समझा जाता है कि ऑस्ट्रेलिया के वो पत्रकार पीटर ग्रेस्ट हैं, जो अल-जज़ीरा के संवाददाता हैं.

रीडरशिप घटाने वाला सर्वे जागरण को मंजूर नहीं

नई दिल्ली। देश के सभी समाचार पत्रों के बीच दैनिक जागरण ने लगातार 26वीं बार पहले पायदान पर अपना कब्जा बरकरार रखा है। हालांकि, आइआरएस के जून-दिसंबर, 2013 सर्वेक्षण के मुताबिक देश के ज्यादातर अखबारों की रीडरशिप घटी है, लेकिन बावजूद इसके दैनिक जागरण को देश का नंबर एक अखबार घोषित किया गया है।

दरअसल दैनिक जागरण और अमर उजाला की अपनी दिक्‍कतें हैं

जिस अखबार का प्रसार ज्यादा है, अगर उसी की रीडरशिप भी ज्यादा होगी तो क्या जरूरत है, रीडरशिप सर्वे की। कोई यह मानने को तैयार ही नहीं होता कि वह पिछड़ गया है। अपने अखबारों में पहले पेज पर खबर छाप रहा कि सर्वे गलत है। यह फर्जीबाड़ा है। तकनीक गलत है। कंपनी को कोई ज्ञान ही नहीं है। अरे .. .. .. कुछ नया करोगो नहीं। खुद को बदलोगे नहीं। जब पिछड़ोगे, तो हल्ला करोगे।

प्रो. निशीथ राय बने डा. शकुंतला मिश्रा विश्‍वविद्यालय के वीसी

लखनऊ। डेली न्‍यूज एक्टिविस्‍ट के चेयरमैन एवं प्रोफेसर निशीथ राय ने उत्तर प्रदेश विकलांग उद्धार डा: शकुंतला मिश्रा विश्वविद्यालय के कुलपति पद का कार्यभार मंगलवार को ग्रहण कर लिया। यह जानकारी यहां देते हुए एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि प्रो. राय का कार्यकाल पांच वर्ष का होगा।

दैनिक जागरण के लोकल इंचार्ज ने एनबीटी के फोटोग्राफर को हड़काया

दैनिक जागरण, लखनऊ के लोकल इंचार्ज की दबंगई संस्‍थान के अंदर और बाहर दोनों जगह एक जैसे ही चालू हैं. इनकी दबंगई का सार्वजनिक मुजाहिरा नगर निगम में सदन की कार्यवाही के दौरान देखने को मिले. मंगलवार को नगर निगम के सदन के दौरान पार्षदों के बीच हुए हंगामे के दौरान एनबीटी के फोटोग्राफ्रर आशुतोष त्रिपाठी फोटो खींच रहे थे. ये जनाब बार बार आशुतोष के सामने आकर अपने मोबाइल से फोटो क्लिक कर रहे थे. 

आईआरएस 2013 IRS 2013 : बनारस में हिंदुस्‍तान ने जागरण को पछाड़ा

आईआरएस के सर्वे में सबसे बुरी ख‍बर दैनिक जागरण के लिए आई है. लांचिंग के बाद से बनारस में नम्‍बर एक रहे अखबार को हिंदुस्‍तान ने खिसका कर दूसरे स्‍थान पर कर दिया है. दैनिक जागरण में जहां विजन की कमी और गुटबाजी हावी रही वहीं हिंदुस्‍तान की टीम एकजुट होकर काम में जुटी रही. बनारस दैनिक जागरण के गढ़ के रूप में जाना जाता रहा है. अमर उजाला, हिंदुस्‍तान, राष्‍ट्रीय सहारा, जनसंदेश टाइम्‍स के आने के बाद भी दैनिक जागरण को उसकी गद्दी से कोई उतार नहीं पाया था, परंतु 2013 के चौथी तिमाही में जागरण का राज खतम हो गया.

आईआरएस 2013 IRS 2013 : चौथे स्‍थान पर पहुंचा राजस्‍थान पत्रिका

जयपुर। आज का दिन मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के लिए ऎतिहासिक है, जब इन दोनों प्रदेशों ने एक नए प्रदेश को जन्म दिया है। यह नया प्रदेश एक नई सोच और आम आदमी के विश्वास का प्रतीक है। भारतीय पाठक सर्वेक्षण की मंगलवार को मुम्बई में जारी वर्ष 2013 की नवीनतम रिपोर्ट में "पत्रिका" ने मध्यप्रदेश व छत्तीसगढ़ में अपनी ऎतिहासिक सफलता का परचम लहराते हुए वृद्धि के आंकड़ों में शेष सभी अखबारों को पीछे छोड़ दिया है।

आईआरएस 2013 IRS 2013 : यूपी में दूसरे स्‍थान पर पहुंचा हिंदुस्‍तान

आम चुनाव अभी चंद महीने दूर हैं लेकिन पाठकों की पसंद के आधार पर जिन हिन्दी अखबारों का प्रसार तेजी से बढ़ रहा है उस सर्वे के नतीजे आ गए हैं। ‘हिन्दुस्तान’ ने दौर-दर-दौर अपनी पाठक संख्या को बढ़ाते जाने वाले इकलौते हिन्दी दैनिक के तौर पर शानदार प्रदर्शन जारी रखा है।

दैनिक जागरण ने हड़पे फोटोग्राफर के पैसे

दैनिक जागरण पत्रकारों के शोषक के रूप में पहले से ही जाना जाता रहा है. अब लखनऊ से खबर है कि मैनेजमेंट ने एक फोटोग्राफर का भी लगभग दस हजार रुपए मार लिया है. उक्‍त फोटोग्राफर से दो महीने काम कराया गया और जब पैसा देने की बात आई तो उसे हटा दिया गया. फोटोग्राफर कई बार प्रबंधन के वरिष्‍ठ लोगों से मिलकर अपने साथ हुए अन्‍याय की गुहार कर चुका है, परंतु मोटी चमड़ी वाले प्रबंधन पर इसका कोई असर नहीं है.

भास्‍कर न्‍यूज से जुड़े सरफराज सैफी

भास्‍कर न्‍यूज से खबर है कि सरफराज सैफी ने वीपी कारपोरेट के पर पर ज्‍वाइन किया है. वे इसके पहले इसी पद पर जय महाराष्‍ट्रा चैनल से जुड़े हुए थे. इस समूह के हिंदी चैनल लांचिंग में देरी के चलते उन्‍होंने इस्‍तीफा देकर अपनी नई पारी भास्‍कर न्‍यूज से शुरू की है.

आई नेक्‍स्‍ट के संपादक के घर चोरी दैनिक भास्‍कर व प्रभात खबर के लिए न्‍यूज नहीं

दूसरों को नैतिकता का पाठ पढ़ाने वाले मीडिया संस्‍थान प्रतिस्‍पर्धा के चक्‍कर में कितने अनैतिक हो चुके हैं, इसकी बानगी पटना में देखने को मिली. पटना में दैनिक जागरण समूह के अखबार आई नेक्‍स्‍ट के संपादक चंदन शर्मा के घर में चोरी हुई. चोरों ने तीन चार लाख का सामान साफ कर दिया. चंदन शर्मा ने चोरी की घटना की एफआईआर दर्ज कराई, इसके बाद भी दैनिक भास्‍कर और प्रभात खबर जैसे अखबारों ने चोरी की खबर प्रकाशित नहीं की.

तेजपाल मामला : नीरो से जवाब मिलते आरोप पत्र दाखिल करेगी पुलिस

पणजी : तहलका के संस्थापक संपादक तरुण तेजपाल से जुड़े हुए एक महिला पत्रकार से कथित यौन शोषण मामले की जांच कर रही गोवा पुलिस को अभी तक हॉलीवुड अभिनेता रोबर्ट डी नीरो को भेजे गए सवालों का जवाब नहीं मिला है। ये सवाल पुलिस ने उन्हें भेजे थे।

वसूली करने के आरोप में दो फर्जी पत्रकार अरेस्‍ट

ग्रेटर नोएडा के कासना कोतवाली पुलिस ने दो फर्जी पत्रकारों को अरेस्‍ट करके जेल भेज दिया है। इनके पास से एक कार और कैमरा बरामद हुआ है। इन दोनों पर आरोप है कि चैनल से जुड़ा बताकर पुलिस से रुपयों की मांग कर रहे थे। बाद में जब जांच की गई तो पता चला कि वे किसी भी चैनल में नहीं है। इसके बाद पुलिस ने दोनों को हिरासत में ले लिया।

तकनीकी रूप से गलत खबर लखनऊ के बड़े पत्रकार के अप्रेजल में!

जनाब लखनऊ के बड़े पत्रकार माने जाते हैं. खुद दूसरों का इंटरव्‍यू लेते हैं लेकिन अपना देने में हिलते हैं कि कहीं पोल खुल ना जाए. इनकी खासियत है कि अपने अखबार में सपा के खिलाफ छपने वाली खबरों को एडिट कर देते हैं. खुद सरकार के पक्ष में घुमा फिराकर खबरें लिखने में महारत रखते हैं. जब तब दिल की बात भी कहते रहते हैं. जनाब कुछ महीने पहले लांच हुए पचास रुपए वाले अखबार में सीनियर पोस्‍ट पर हैं. अखबार में दो नंबर के आदमी हैं. यानी संपादक के बाद इनका ही नंबर आता है. आजकल पत्रकार महोदय अप्रेजल भरकर प्रमोशन पाने की कोशिश में लगे हुए हैं.

हिंदुस्‍तान में आलोक, अजित एवं विजय की जिम्‍मेदारियां बदलीं, जागरण से दीपा का इस्‍तीफा

हिंदुस्‍तान, लखनऊ से खबर है कि लोकल इंचार्ज आलोक उपाध्‍याय को हटाकर ब्‍यूरो में भेज दिया गया है. अब वे ब्‍यूरो में मेडिकल बीट की जिम्‍मेदारी संभालेंगे. आलोक की जगह अजित कुमार को नया लोकल इंचार्ज बनाया गया है. विजय कुमार श्रीवास्‍तव को डिप्‍टी इंचार्ज बनाया है. ये दोनों लोग लंबे समय से हिंदुस्‍तान को अपनी सेवाएं दे रहे हैं. सूत्रों का कहना है कि प्रबंधन जल्‍द ही कुछ और बदलाव करेगा. यह कार्रवाई अखबार को चुस्‍त दुरुस्‍त करने के लिए की जा रही है.

आदर्श भास्‍कर टीवी तथा नीरज दैनिक भास्‍कर से जुड़े

हरदोई से खबर है कि आदर्श त्रिपाठी ने अपनी नई पारी भास्‍कर टीवी के साथ अपनी नई पारी शुरू की है. उन्‍हें चैनल में जिला संवाददाता बनाया गया है. सीएनईबी चैनल से अपने करियर की शुरुआत करने वाले आदर्श महुआ समेत कई अखबारों को भी अपनी सेवा दे चुके हैं. ये दिल्‍ली में एक चैनल से जुड़े रहे हैं. आदर्श की गिनती हरदोई के अच्‍छे पत्रकारों में होती है.

जागरण, बरेली से देवेंद्र देवा का तबादला हल्‍द्वानी

दैनिक जागरण, बरेली से खबर है कि सीनियर सब एडिटर देवेंद्र देवा का तबादला हल्‍द्वाली यूनिट के लिए कर दिया गया है. देवेंद्र इसके पहले बदायूं के ब्‍यूरो चीफ थे. कुछ समय पहले ही उनका तबादला बरेली के लिए हुआ था. बताया जा रहा है कि संपादकीय प्रभारी सदगुरु शरण अवस्‍थी अपनी निजी खुन्‍नस के लिए देवेंद्र देवा को परेशान करने के लिए लगातार तबादले कर रहे हैं.

दो चैनलों के ब्‍लैकआउट पर हाई कोर्ट ने मांगा यूपी सरकार से जवाब

इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच ने राजधानी लखनऊ सहित प्रदेश के कुछ शहरों में दो न्यूज चैनल ब्लैकआउट कर दिए जाने के मामले में मुख्य सचिव से जवाब मांगा है। जस्टिस इम्तियाज मुर्तजा एवं जस्टिस देवेन्द्र उपाध्याया की बेंच ने एक जनहित याचिका पर यह आदेश दिया।

पाकिस्‍तानी पत्रकार के चलते शशि थरूर के जीवन में आया भूचाल

नई दिल्ली। कैबिनेट मंत्री शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर थरूर ने बुधवार को आरोप लगाया कि उनके पति का पाकिस्तान की एक पत्रकार के साथ अफेयर चल रहा है। इसके चलते वो तलाक लेने के बारे सोच रही है। एक अंग्रेजी अखबार के साथ बातचीत में सुनंदा ने ये बातें कही।

प्रसन्‍नारंजन बनेंगे ओपन के मैनेजिंग एडिटर, पीआर रमेश भी जुड़े

ओपन मैगजीन से खबर है कि एस प्रसन्‍नारंजन इसके नए मैनेजिंग एडिटर बनेंगे. वे फिलहाल इंडिया टुडे से जुड़े हुए हैं. ओपन के लिए यह बड़ी उपलब्धि मानी जा रही है क्‍योंकि कुछ समय के अंतराल के बीच संपादकीय टीम के रीढ़ माने जाने वाले मनु जोसेफ और हरतोष सिंह बल ने इस्‍तीफा दिया था. एस प्रसन्‍नारंजन के संपादक बनने की पुष्टि ओपन के प्रकाशक आर राजमोहन ने की है.

मनोज पमार ने कानपुर में हिंदुस्‍तान की जिम्‍मेदारी संभाली

हिंदुस्‍तान, कानपुर से खबर है कि मनोज पमार ने संपादक के रूप में बुधवार को अपनी जिम्‍मेदारी संभाल ली. उन्‍हें ज्‍वाइन कराने के लिए यूपी के वरिष्‍ठ संपादक केके उपाध्‍याय लखनऊ से कानपुर पहुंचे थे. मनोज पमार अभी बनारस में संपादक पद की जिम्‍मेदारी संभाल रहे थे. प्रबंधन ने कानपुर में हिंदुस्‍तान के तेवर और कलेवर में धार देने के लिए मनोज पमार को बनारस से यहां भेजा है.

मीडिया पर हमला हुआ, उपसंपादक अरेस्‍ट, फिर भी खबर नहीं

पंकज कुमार झा : ओडिशा से Samanwaya Nanda जी बता रहे हैं कि ओडिया अखबार समाज में एक फोटो छपने के कारण एक समुदाय विशेष के लोगों ने अखबार के कटक, बालेश्वर व राउरकेला कार्यालय में भारी तोडफोड की है । इन लोगों ने एक बालेश्वर जिले में अखबार के प्रेस को आग लगा दिया है । अखबार प्रबंधन के अनुसार इसमें पांच करोड रुपये की संपत्ति को नुकसान हुआ है ।

पत्रकार तरुण तेजपाल की जमानत अर्जी खारिज

पणजी : गोवा की एक अदालत ने यौन उत्पीड़न के आरोपी तहलका के प्रधान संपादक तरुण तेजपाल की जमानत अर्जी बुधवार को नामंजूर कर दी। एक महिला पत्रकार से बलात्कार के आरोप में तेजपाल अभी न्यायिक हिरासत में हैं। जिला एवं सत्र न्यायाधीश अनुजा प्रभुदेसाई ने 50 साल के तेजपाल की ओर से दायर जमानत अर्जी खारिज की। तेजपाल को इस मामले में 30 नवंबर 2013 को गिरफ्तार किया गया था।

दैनिक भास्‍कर से जुड़े वरिष्‍ठ पत्रकार विनायक विजेता

बिहार के वरिष्‍ठ पत्रकार विनायक विजेता ने अपनी नई पारी पटना में दैनिक भास्‍कर के साथ शुरू की है. वे किस पद पर ज्‍वाइन किए हैं इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है. हालांकि उन्‍होंने अपने ज्‍वाइन करने की सूचना फेसबुक के माध्‍यम से दे दी है. विनायक लंबे समय तक हिंदुस्‍तान से जुड़े रहे हैं. हिंदुस्‍तान से इस्‍तीफा देने के बाद सन्‍मार्ग समेत कुछ छोटे मोटे अखबारों के साथ जुड़े हुए थे. नीचे एफबी पर विनायक विजेता द्वारा दी गई जानकारी.

ऋषिकेश से इज्‍जत बचाकर भागे पत्रकार से नेता बने आशुतोष और संजय

ऋषिकेश : उत्तराखंड के ऋषिकेश में बुधवार को आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह और आशुतोष की विरोध के चलते सांसें थम गईं और धडकनें लगातार बढ़ी रहीं। कार्यकर्ताओं की मदद से किसी तरह बच कर निकलने के बाद दोनों ने चैन की साँस ली। विरोध कर रहे लोग हाथापाई करने पर उतर आये, जिससे यहाँ दोनों नेताओं की इज्जत मुश्किल से बची।

हाईकोर्ट ने दीपक चौरसिया की गिरफ्तारी पर लगाई रोक

इलाहाबाद : इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने इंडिया न्यूज टीवी चैनल के एडिटर इन चीफ दीपक चौरसिया के विरूद्ध आसाराम बापू को लेकर दिखाए गए कार्यक्रम के मामले में दर्ज प्राथमिकी में उनकी गिरफ्तारी पर रोक लगा दी है। न्यायालय ने याचिका पर शिकायतकर्ता एवं शासकीय अधिवक्ता से दो सप्ताह में जवाब मांगा है।

वयोवृद्ध पत्रकार रैनन मुखर्जी का निधन, शव होगा दान

कोलकाता : वयोवृद्ध स्वतंत्रता सेनानी और प्रसिद्ध पत्रकार रैनन मुखर्जी का मंगलवार को निधन हो गया। यह जानकारी उनके परिवार के एक सदस्य ने दी। मुखर्जी 86 वर्ष के थे और उनके परिवार में एक बेटी है। महात्मा गांधी के संपर्क में आने के बाद वह एक स्कूली छात्र के रूप में स्वतंत्रता आंदोलन से जुड़े थे। उन्हें राशिद अली दिवस मनाने के दौरान 1946 में गिरफ्तार कर लिया गया था।

जनसंदेश टाइम्‍स के संपादक बने देशपाल सिंह पवार, वॉयस आफ मूवमेंट से आशुतोष, पवन का इस्‍तीफा

एसएमबीसी इनसाइट से इस्‍तीफा देकर देशपाल सिंह पवार कानपुर में जनसंदेश टाइम्‍स से जुड़ गए हैं. उन्‍हें संपादक बनाया गया है. पवार कुछ समय तक अपने अखबार का प्रकाशन भी किया. इसके बाद एसएमबीसी के साथ मध्‍य प्रदेश में जुड़ गए थे, लेकिन उन्‍हें इलेक्‍ट्रानिक मीडिया की पारी रास नहीं आई और वे दुबारा प्रिंट से जुड़ गए हैं. वे इसके पहले हिंदुस्‍तान, डीएनए समेत कई अखबारों को अपनी सेवाएं दे चुके हैं.

उस पत्रकार का भी जल्‍द ही खुलासा हो सकता है, जो गे क्‍लब का मेंबर है

लखनऊ। सौ-सौ जूते खाकर भी लखनऊ की मीडिया घुसकर तमाशा देखने से बाज नहीं आ रही है। दिन था शुक्रवार और तारीख थी 10 जनवरी 2014 और समय था शाम तीन बजे। मुख्यमंत्री आवास के लॉन में लाइन से सजी थी कुर्सियां। प्रेस कांफ्रेस में बुलाए गए पत्रकार समझ नहीं पा रहे थे कि आखिर उन्हें किस लिए बुलाया गया। जब सीएम अखिलेश यादव ने बोलना शुरू किया तो लोगों को लगा कि आज मीडिया पर भड़ास निकालने के लिए बुलाया गया है।

राष्‍ट्रीय सहारा, लखनऊ में एक ही संपादकीय दो दिन प्रकाशित

सहारा पर लगातार आ रही मुश्किलों के चलते लगता है कि कर्मचारियों का मन भी बिचलित हो गया है. उनका काम करने में शायद मन भी नहीं लग रहा है. इसी का परिणाम है कि राष्‍ट्रीय सहारा के लखनऊ संस्‍करण में 13 जनवरी का संपादकीय पेज 14 जनवरी को भी रिपीट हो गया है. लखनऊ …

महेंद्र मोहन और संजय गुप्‍ता को सरकारी मकान खाली करने का अल्‍टीमेटम

लखनऊ से खबर है कि दैनिक जागरण से खफा सीएम के तेवर को देखते हुए आरएसए ने अखबार के नाम पर दिलकुशा कालोनी में सरकारी मकानों पर नियमों के विपरीत कब्‍जा जमाए महेंद्र मोहन, संजय गुप्‍त तथा शशांक शेखर त्रिपाठी को जल्‍द से जल्‍द मकान खाली कराने का अल्‍टीमेटम दे दिया है. सूत्र बताते हैं कि नोटिस में स्‍पष्‍ट किया गया है कि अगर ये लोग स्‍वेच्‍छा से मकान खाली नहीं करते हैं तो इन्‍हें पुलिस की मदद लेकर बलपूर्वक मकान से बाहर निकाला जाए. यानी अगर ये लोग मकान खाली नहीं करते हैं तो पुलिस इनको लठियाकर बाहर निकाले.

आरएसए के खिलाफ खबरें इसलिए कि मिल सके मनमाफिक मकान

लखनऊ। सीएम ने कई मीडिया संस्‍थानों और पत्रकारों की पोल तो अपने पीसी में खोल के रख दी है. इसके बाद से कई पत्रकार सहमे हुए हैं. ऐसा ही हाल कुछ महीने पहले लांच हुए एक अखबार के पत्रकार का भी है. वे भी सीएम के तेवर देखने के बाद तनिक सहमे हुए हैं. वैसे भी लखनऊ में पत्रकारों में लालबत्‍ती पाने की गलाकाट स्‍पर्धा रही है. एक दूसरे को निपटाने में भी ये लोग पीछे नहीं रहते हैं. सरकार से लाभ भी लेते हैं और आंखें भी तरेरते हैं, तभी तो सीएम की घुड़की के बावजूद किसी के चोंच नहीं खुले.

ईटीवी ने लांच किए पांच नए रीजनल चैनल

ईटीवी समूह ने पांच भाषाओं में नए रीजनल चैनल लांच किया है. ये न्‍यूज चैनल 24 घंटे खबरों का प्रसारण करेंगे. समूह ने बांग्‍ला, कन्‍नड, गुजराती भाषा के अलावा हरियाणा और हिमाचल के लिए हिंदी भाषा में चैनल की लांचिंग की है.

राज्‍यसभा टिकट नहीं दिया तो छाप रहे हैं गलत खबर : अखिलेश

यूपी के मुख्‍यमंत्री का सरकारी आवास 5 कालीदास मार्ग आज ऐसे खुलासे का गवाह बना, जो बस बातों बेबात में सुना जा रहा था. सीएम ने आज अपने प्रेस कांफ्रेंस में मुहर लगा दी कि देश का एक बड़ा और खुद को देश का बड़ा अखबार बताने वाला मीडिया घराना सीएम से केवल इसलिए नाराज है कि उन्‍होंने उसके मालिकों में एक को राज्‍यसभा का टिकट नहीं दिया. सीएम अखिलेश यादव ने दर्जनों पत्रकारों के सामने नाराजगी भरे लहजे में कहा कि एक अखबार के लोग जुआ खेलते पकड़े गए थे. इन जुआडियों को पिछले शासन में लठियाया गया था, तब सपा ही साथ खड़ी थी.

संपादक सलाउद्दीन को राजद्रोह में सात साल की सजा

ढाका। बांग्लादेश की राजधानी ढाका की एक अदालत ने आज एक अंग्रेजी के साप्ताहिक पत्र व्लिज के संपादक सलाउद्दीन शोएब चौधरी को राजद्रोह मामले में सात साल के कारावास की सजा सुनाई है। ढाका के एयरपोर्ट पुलिस थाने के तत्कालीन अधिकारी मोहम्मद अब्दुल हनीफ ने शोएब चौधरी के विरुद्ध 24 जनवरी 2004 को एक एफआईआर दर्ज की थी, जिसमें कहा गया था कि व्लिज के संपादक का संबंध इजरायल की गुप्तचर एजेंसी मोसाद से है।

…और टूट गई इन पत्रकारों की सूचना आयुक्‍त बनने की उम्‍मीद

यूपी में सूचना आयुक्‍तों के खाली पड़े पदों पर नियुक्ति की जा चुकी है. इसमें आधे से ज्‍यादा पत्रकार हैं. इनके बारे में कहा जाता है कि ये लोग नेताजी और सपा के दरबारी हुआ करते थे. अखिलेश सरकार में भी ये लोग कलम बेचकर लगे हुए थे, लिहाजा उनको इसका प्रतिफल मिल चुका है. पर अब भी वे पत्रकार इस बात को पचा नहीं पा रहे हैं, जो किसी की भी सरकार रहे, मलाई जरूर खाते थे और इस सरकार में भी सूचना आयुक्‍त बनने के लिए जी जान से जुटे हुए थे. ऐसे कई लोग इस सदमे को बरदास्‍त कर पाने की स्थिति नहीं हैं.

आजतक नम्‍बर वन पर काबिज, जी न्‍यूज खिसका

टैम ने वर्ष 2014 के पहले सप्‍ताह की टीआरपी जारी कर दी है. पिछली कई बार की तरह इस बार फिर आजतक लगातार नंबर वन के पायदान पर बना हुआ है. एबीपी न्यूज ने दूसरे पायदान पर अपना कब्‍जा बरकरार रखा है. 2013 के आखिरी सप्‍ताह में चौथे पायदान पर पहुंचा इंडिया टीवी ने तीसरे नंबर पर वापसी कर ली है. इंडिया न्‍यूज चौथे स्‍थान पर आ गया है. जी न्‍यूज तीसरे स्‍थान से खिसककर पांचवें नंबर पर पहुंच गया है. नीचे नए साल के पहले सप्‍ताह की टीआरपी..

साधना न्‍यूज के पत्रकार ब्‍लैकमेलिंग के आरोप में गिरफ्तार

नोएडा से खबर है कि पुलिस ने ब्‍लैकमेलिंग करने के आरोप में साधना न्‍यूज के पत्रकारों को अरेस्‍ट किया है. इसमें एक पु‍रूष तथा दो महिला शामिल हैं. एक पत्रकार फरार बताया जा रहा है. पुलिस ने यह कार्रवाई दिल्‍ली के नेता की शिकायत पर किया है. तीनों को पुलिस ने सूरजपुर कोर्ट में पेश किया, जिसके बाद उन्‍हें जेल भेज दिया गया.

सैफई में मीडिया कैमरों के साथ प्रवेश पर प्रशासन ने लगाई रोक

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और समाजवादी पार्टी (सपा) प्रमुख मुलायम सिंह यादव के पैतृक गांव सैफई में हो रहे सैफई महोत्सव के समापन पर बुधवार को मीडिया पर कैमरे के साथ प्रवेश पर रोक लगा दी गई। मीडिया की सैफई महोत्सव की आलोचनात्‍मक कवरेज के बाद विपक्षी दलों द्वारा सरकारी धन की बर्बादी और मुजफ्फरनगर हिंसा पीड़ितों के प्रति सरकार की असंवेदनहीनता के आरोपों की वजह से ही यह कदम उठाया गया है।

सहारा समय के पत्रकार एमबी हैदर का निधन

लखनऊ। सहारा समय के पत्रकार एमबी हैदर का बुधवार को संजय गांधी पीजीआई में निधन हो गया. हैदर पिछले एक साल से मुंह के कैंसर से पीडि़त थे. लंबे समय से उनका इलाज चल रहा था. आज उन्‍होंने एसजीपीजीआई में ही आखिरी सांस ली. वे अपने पीछे पत्‍नी और तीन पुत्र छोड़ गए हैं. हैदर …

स्‍वीडन के अपहृत दोनों पत्रकार मुक्‍त हुए

स्वीडन के जिन दो पत्रकारों का सीरिया में अपहरण कर लिया गया था, उन्हें मुक्त कर दिया गया है। बीते साल नवम्बर माह के आख़िर में इन दोनों पत्रकारों का किन्हीं अज्ञात लोगों ने अपहरण कर लिया था। पिछले दो महीने से ज्‍यादा समय से ये लोग अपहर्ताओं के ही कब्‍जे में थे।

जनसंदेश टाइम्‍स में घमासान बढ़ा, इलाहाबाद से आनंद नारायण गए

पिछले दिनों जनसंदेश में बतौर सीईओ ज्वाइन करने के तुरंत बाद ही आरपी सिंह ने यहां की गंदगियों को एक-एक कर साफ करना शुरू कर दिया। दरअसल, जनसंदेश टाइम्स के मालिक अनुराग कुशवाहा ने ‘सफेद हाथी’ साबित हो रहे अखबार को पटरी पर लाने के लिये उन्हें खासतौर पर और विशेष उम्मीद के साथ बुलाया था। बताते हैं कि वह सारी यूनिटों के कर्ता-धर्ताओं को समझा-समझाकर थक-हार चुके थे लेकिन अखबार में कोई सुधार नहीं हुआ।

फ्री की चाय पिलाइए फिर देखिए इस ‘मनीषी’ पत्रकार की करामात

लखनऊ अजब गजब पत्रकारों की नगरी है. जो पत्रकारों के नेता हैं वो नेताओं के यहां चाटुकारिता करते हैं और जो पत्रकार हैं वह दूसरे भौकाली पत्रकारों के चिंटू बने रहते हैं. यानी यहां अजीब सी स्थिति है, पत्रकारिता के नाम पर दलाली होती है और ज्‍यादातर दलाल पत्रकार हैं. स्‍वार्थ में जितना गिरा जा सकता है तमाम पत्रकार गिरने को हर समय तैयार रहते हैं. ऐसे ही एक मनीषी पत्रकार हैं राजधानी से पांच-छह महीना पहले शुरू हुए एक अखबार में.

दैनिक जागरण से रुखसत कर दिए गए निशिकांत ठाकुर

: दिनेश चंद्र हुए रिटायर : दैनिक जागरण, नोएडा से सीजीएम निशिकांत ठाकुर की विदाई हो गई है. प्रबंधन ने उन्‍हें रुखसत करने के साथ ही मीटिंग करके स्‍पष्‍ट कर दिया है कि अब निशिकांत ठाकुर से कोई संबंध नहीं रखा जाए. सूत्रों का कहना है कि अब तक निशिकांत के रहमोकरम पर दैनिक जागरण में जिंदगी गुजारने वालों को भी ताकीद कर दिया गया है कि अगर कोई कर्मी अगर संबंध निभाने की चेष्‍टा करते पाया गया तो उसकी भी विदाई उसी समय हो जाएगी.

यूपी में सूचना आयुक्‍तों की नियुक्ति पर डा. नूतन ने जताया ऐतराज

आरटीआई कार्यकर्ता डॉ. नूतन ठाकुर ने आज प्रमुख सचिव, प्रशासनिक सुधार विभाग, उत्तर प्रदेश शासन को पत्र लिख कर सूचना आयुक्तों के चयन की प्रक्रिया के सम्बन्ध में जानकारी मांगी है. पत्र में उन्होंने कहा है कि कि उनके पति आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर ने भी आवेदन किया था जिसमे उन्होंने वांछित शपथपत्र तथा रुपये दो हज़ार का बैंकर चेक भी भेजा था.

निवेशकों का पैसा दबाने वाले सुब्रत राय ने SC से मांगी विदेश जाने की इजाजत

नई दिल्ली : सहारा समूह के मुखिया सुब्रत राय ने कारोबार के सिलसिले में विदेश जाने के लिये उच्चतम न्यायालय की अनुमति हेतु आज न्यायालय में एक अर्जी दायर की। न्यायालय ने निवेशकों का 20 हजार करोड़ रुपया लौटाने में विफल रहने के कारण सुब्रत राय के विदेश जाने पर रोक लगा रखी है। न्यायमूर्ति के एस राधाकृष्णन और न्यायमूर्ति जे एस खेहड़ की खंडपीठ ने कहा कि इस अर्जी पर नौ जनवरी को मूल प्रकरण के साथ ही सुनवाई की जायेगी। न्यायालय नौ जनवरी को ही सहारा समूह की 20 हजार करोड़ रूपए की संपत्तियों के मालिकाना हक के दस्तावेज सेबी को सौंपे जाने से संबंधित प्रकरण पर सुनवाई करेगा।

कोलकाता में फोटो पत्रकारों से मारपीट, दो पत्रकार घायल

: कई को लगीं चोटें : कोलकाता : राज्य सचिवालय नवान्न भवन में गुरुवार को दोपहर पुलिस ने फोटो पत्रकारों के साथ मारपीट की. इसमें एक पत्रकार का सिर फट गया तथा दूसरा पत्रकार गंभीर रूप से घायल हो गया. नवान्न भवन में गुरुवार को प्रशासनिक कैलेंडर के लांचिंग कार्यक्रम के बाद वहां फोटो सेशन होना था. वहां तैनात पुलिसकर्मियों ने कुछ छाया पत्रकारों को अंदर जाने की अनुमति दे दी, लेकिन कुछ पत्रकारों को वहां प्रवेश नहीं करने दिया गया.

पत्रकार अ‍रविंद सिंह बिस्‍ट, स्‍वेदश कुमार, राजकेश्‍वर सिंह एवं विजय शर्मा समेत आठ सूचना आयुक्‍त बने

लखनऊ : करीब एक साल तक चली जद्दोजहद के बाद आखिरकार गुरुवार को राज्य सूचना आयोग में में खाली पड़े सूचना आयुक्तों के आठ पदों पर नियुक्तियां सरकार ने नियुक्तियां कर दी है। इनमें चार पत्रकार शामिल हैं। पूर्वानुमान के अनुसार मुलायम सिंह यादव के समधी और पत्रकार अरविंद सिंह बिष्‍ट के अतिरिक्‍त पत्रकार कोटे से राजकेश्‍वर सिंह, स्‍वदेश कुमार व विजय शर्मा को सूचना आयुक्‍त बनाया गया है।

पत्रकारों के लिए मौत का गढ़ बना मध्यपूर्व

दुनिया भर में चल रहे उठा पटक की खबर लोगों तक पहुंचाने वाले कम से कम 70 पत्रकारों ने 2013 में काम के दौरान अपनी जान गंवाई. 'कमिटी टू प्रोटेक्ट जर्नलिस्ट' संस्था के अनुसार 29 सीरिया के गृह युद्ध में और 10 इराक में मारे गए.

आरोपों के घेरे में रहे रिजवान बने यूपी के पुलिस प्रमुख

लखनऊ। यूपी की अखिलेश सरकार ने अपने कार्यकाल के दौरान सांप्रदायिक दंगों और नेपाल में आईएसआई के गुर्गा रहे माफिया मिर्जा दिलशाद बेग से संबंधों के आरोपी 1978 बैच के आईपीएस रिजवान अहमद को राज्य का नया पुलिस महानिदेशक घोषित किया है। अखिलेश के शासनकाल के पौने दो साल के दौरान हुए दंगों के धब्बों से गुजर रही सरकार ने ऐसे समय पर रिजवान अहमद की तैनाती कर मुस्लिम वोट बैंक ठीक करने की कोशिश की है, लेकिन फरवरी में उनके सेवानिवृत्त होने के पहले ही डीजीपी की कुर्सी हथियाने की दौड़ भी आज से ही शुरु हो गई है।

मुलायम की बिसात पर पिटते ‘वजीर और प्यादे’

सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव राजनीति के मझे हुए खिलाड़ी हैं। वह बिसात बिछाते हैं तो राजनीति के प्यादे ही नहीं वजीर तक उनकी चालों में उलझकर पिटते जाते हैं। राजनीति की नब्ज पहचानने में उन्हें महारथ हासिल है। राजनीति किस करवट बैठेगी या फिर बैठने वाली है, इसके बारे में उनसे बेहतर कम ही राजनीतिज्ञ समझ पाते हैं। वह राजनीतिक नब्ज टटोल लेते हैं तो अवाम का मिजाज भी जानते हैं, भले ही उनकी राजनीति को समय रहते कोई न समझ पाये, लेकिन उनकी दूरदर्शिता को कभी कम करके नहीं आका जा सकता है। अगर ऐसा न होता वह मुजफ्फरगनर और शामली आदि जगहों में राहत कैम्पों में रह रहे लोगों के लिये इतनी सख्त टिप्पणी नहीं करते, जो उनके मजबूत वोट बैंक भी हैं।

मिस्र में अल जजीरा के तीन पत्रकार अरेस्‍ट

टीवी नेटवर्क अल जज़ीरा के तीन पत्रकारों को मिस्र की राजधानी काहिरा में गिरफ़्तार कर लिया गया है. मिस्र के गृह मंत्रालय ने एक वक्तव्य में कहा कि अल जज़ीरा की टीम ने मुस्लिम ब्रदरहुड संगठन के सदस्यों के साथ ग़ैरक़ानूनी बैठकें की. मुस्लिम ब्रदरहुड को पिछले सप्ताह आतंकवादी संगठन घोषित किया गया था.

दैनिक जागरण, रांची में डीएनई बने प्रदीप श्रीवास्‍तव

अमर उजाला, मुरादाबाद से खबर है कि प्रदीप श्रीवास्‍तव ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर प्रादेशिक डेस्‍क इंचार्ज के पद पर कार्यरत थे. कुछ समय से छुट्टी पर चल रहे थे. प्रदीप श्रीवास्‍तव ने अपनी नई पारी रांची में दैनिक जागरण के साथ शुरू की है. उन्‍हें डीएनई बनाया गया है. वे यहां पर इनपुट हेड की जिम्‍मेदारी संभालेंगे. जागरण के साथ प्रदीप की यह दूसरी पारी है.

सड़क हादसे में पत्रकार गोपाल तिवारी की मौत

फतेहपुर में शनिवार की देररात कल्यानपुर थाना क्षेत्र के पिलखिनी मोड़ के पास जीटी रोड पर कार और ट्रक की टक्‍कर में एक पत्रकार गंभीर रूप से घायल हो गया। इलाज के लिए सदर अस्‍पताल में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। पत्रकार की पहचान कानपुर निवासी गोपाल तिवारी के रूप में हुई है। इस घटना में तीन अन्‍य लोग गंभीर रूप से घायल हैं, जिन्‍हें इलाज के लिए कानपुर के हैलट अस्‍पताल रेफर किया गया है।

लखनऊ के बड़े अखबारों की छोटे दिल की पत्रकारिता

: सीएम अखिलेश यादव ने किया प्रो. नीशीथ राय को सम्‍मानित, अखबारों ने नहीं प्रकाशित की खबर : लखनऊ : पत्रकारिता का इतना अधिक पतन का दौर चल रहा है कि अंदाजा लगाना मुश्किल हो गया है. यहां के तथाकथित बड़े अखबार दिल के कितने छोटे हैं इसका अंदाजा बहुत आसानी से लगाया जा सकता है. लखनऊ की पत्रकारिता में एक परिपाटी चल रही है कि अगर किसी कार्यक्रम में अखबार या चैनल का कोई बड़ा अधिकारी शामिल होता है तो दूसरे अखबार उसका नाम व फोटो नहीं छापते हैं चाहे उसकी भूमिका कितनी भी महत्‍वपूर्ण क्‍यों ना हो.

यहां की महिला पत्रकार रहना चाहती हैं न्‍यूड

रियो डी जेनेरियो। आपने लोगों द्वारा कई मांगों के लिए आन्दोलन करते हुए देखा होगा, लेकिन क्या कभी महिलाओं द्वारा टॉपलैस रहने के लिए आन्दोलन करते हुए देखा या सुना है! लेकिन इस दुनिया में एक जगह ऐसी भी हैं जहां की आम महिलाएं नहीं बल्कि महिला पत्रकारों ने टॉलपैस रहने के लिए आन्दोलन कर दिया। इन बिन्दास महिला पत्रकार/फोटो जर्नलिस्ट का कहना है कि वो टॉपलैस होकर सड़कों पर घूमना चाहती हैं।

पत्रकार प्रभाकरण की रिहाई के लिए भारत में उठने लगी आवाज

चेन्नई। श्रीलंका में एक तमिल पत्रकार की गिरफ्तारी का भारत में विरोध तेज हो रहा है। तमिलनाडु की पालिटिकल पार्टियां और पत्रकार संघों ने शुक्रवार को पत्रकार की रिहाई के लिए केंद्र से हस्तक्षेप करने की मांग की है। एमडीएमके नेता वाइको ने गुरुवार को गिरफ्तार तमिलनाडु के पत्रकार की सुरक्षित रिहाई सुनिश्चित कराने के लिए पीएम मनमोहन सिंह को पत्र लिखकर गु‍जारिश की है।

दिल का दौरा पड़ने से अभिनेता फारुख शेख का दुबई में निधन

दुबई : बाजार', 'गर्म हवा', 'शतरंज के खिलाड़ी', 'चश्मे बददूर' और 'किसी से ना कहना' जैसी फिल्मों में यादगार अभिनय के लिए जाने जाने वाले अभिनेता फारूक शेख का दिल का दौरा पड़ने से यहां निधन हो गया। वह 65 वर्ष के थे। उनके परिवार के एक सदस्य ने कहा कि उनका निधन हो गया। हालांकि उन्होंने और ज्यादा जानकारी नहीं दी। फारूक एक समारोह में हिस्सा लेने के लिए दुबई गए थे जब शुक्रवार देर रात उन्हें दिल का दौरा पड़ा।

जब भाजपाइयों को टिकट दिलाने की सुनहरी यादों में डूबे प्रकांड ‘पंडित’ पत्रकार

कहा जाता है कि सियार कितना भी शेर का खाल ओढ़े रहे अपने लोगों की भीड़ देखकर कर हुंआ…हुंआ करने ही लगता है. लखनऊ में भी ऐसा ही हुआ. अपने का प्रकांड 'पंडित' समझने वाले एक पत्रकार, जो अपने समूह की अठारह यूनिटों की इंटरनल रेटिंग में सबसे फिसड्डी वाले में कार्यरत हैं और उजाला फैलाते रहते हैं, शेखी मारने के चक्‍कर में कबूल कर लिया कि वे सन 91 से भाजपा वालों को टिकट दिलाने का काम कर रहे हैं. अब इस टिकट दिलाने की आड़ में वे क्‍या प्राप्‍त करते हैं नहीं बताया, पर जाने-अनजाने भाजपाइयों की भीड़ में कबूल डाला कि वे लोकसभा से लेकर सभासद तक का टिकट भाजपा में दिलवाने में, जुगाड़ करवाने में शामिल रहते हैं.

लखनऊ में 27 को आयोजित होगा फोटो जर्नलिस्‍टों का ‘द महाकुंभ’

लखनऊ : प्रदेश की राजधानी के फोटो पत्रकारों का संगठन यूपी फोटो जर्नलिस्‍ट्स एसोसिएशन फोटो प्रदर्शनी का आयोजन करने जा रहा है. 'द महाकुंभ' के नाम से आयोजित इस प्रदर्शनी का उद्घाटन 27 दिसम्‍बर को मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव करेंगे. कैसरगंज स्थित लाल बारादरी में 12 बजे से आयोजित इस प्रदर्शनी में फोटो जर्नलिस्‍ट अपने बेहतरीन छाया चित्रों की प्रदर्शनी करेंगे. इनमें से चुनी गई बेहतरीन फोटोग्राफ्स को सम्‍मानित भी किया जाएगा.

“आप” ने तो सच में कमाल कर दिया…

नयी दिल्ली : एक साल का वक़्त, राजनीती में पहला क़दम, संगठन बनाया, राजनीतिक दल के तौर पर उसकी पहचान बनाने में अपने कुछ चुनिंदा साथियों के साथ दिन रात का समय लगाया, और देखते ही देखते देश कि राजधानी दिल्ली म विधान सभा चुनाव की घोषणा हो गयी।

तेजपाल को राहत नहीं, जेल में ही बीतेगा नया साल

पणजी : तहलका पत्रिका के प्रधान संपादक तरुण तेजपाल की न्यायिक हिरासत सोमवार को चार जनवरी तक बढ़ा दी गई। यानी क्रिसमस और नववर्ष के दौरान तेजपाल जेल में ही रहेंगे। एक दंडाधिकारी ने तेजपाल की न्यायिक हिरासत 12 दिनों के लिए यानी चार जनवरी तक बढ़ा दी। तेजपाल को 30 नवंबर को गिरफ्तार किया गया था। उनकी कनिष्ठ सहकर्मी ने उनके खिलाफ यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था।

इराक में टीवी चैनल के हेडक्‍वार्टर पर हमला, दो पत्रकारों की मौत

बगदाद। इराक के उत्‍तरी बगदाद में स्थित एक स्थानीय टीवी चैनल के हेडक्वार्टर पर चार आत्मघाती हमलावरों ने हमला कर दिया। हमलें में दो पत्रकारों की मौत की पुष्टि हुई है। सुरक्षा बल टीवी चैनल की इमारत खाली कर रहे हैं। हमले से कुछ पत्रकार बचकर बाहर निकल गए जबकि अन्य अभी भी इमारत में ही फंसे हुए हैं। पुलिस ने बताया कि हमलावरों ने सलाहेद्दीन टीवी की इमारत को अपना निशाना बनाया है।

दिल्ली में जनमित्र सम्मान से नवाजे गए पत्रकार विजय विनीत

नई दिल्ली। तालियों की गड़गड़ाहट के बीच नई दिल्ली के कांस्टीट्यूशन क्लब में जनसंदेश टाइम्स वाराणसी के उप समाचार संपादक विजय विनीत को जनमित्र अवार्ड से नवाजा गया। यह सम्मान पत्रकारिता के माध्यम से प्रदेश के अल्पसंख्यकों के हितों की रक्षा करने और मानवाधिकार उल्लंघन रोकने के क्षेत्र में किए गए अतुलनीय प्रयास के लिए दिया गया। इस अवसर पर बड़ी संख्या में देश की नामचीन हस्तियां उपस्थित थीं।

बलबीर पुंज ने उन्हें “पत्रकार के चोले में जासूस” कह डाला था

कोई कहता है खुर्शीद अनवर का सुसाइड नोट मिला है; कोई कहता है चिठ्ठी मिली है! कहाँ है, किसने देखी, पूछें तो कोई जवाब नहीं मिलता। पुलिस के हवाले से किसी टीवी-अखबार में खबर उछल गई तो फौरन उसे मान लिया गया प्रमाण या अकाट्य तथ्य!

अमर उजाला से इस्‍तीफा देकर हिंदुस्‍तान पहुंचे सुधीर

अमर उजाला, बरेली से सुधीर कुमार गुप्‍ता ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर सब एडिटर के पद पर कार्यरत थे तथा पिछले साढ़े तीन साल से सिटी डेस्‍क की जिम्‍मेदारी संभाल रहे थे. सुधीर ने अपनी नई पारी हिंदुस्‍तान, पटना के साथ शुरू की है. उन्‍हें यहां पर सीनियर सब एडिटर बनाया गया है. वे यहां भी सिटी की जिम्‍मेदारी संभालेंगे.

महिलाकर्मी का यौन शोषण करने के आरोप में कैप्‍टन टीवी के संपादक अरेस्‍ट

चेन्‍नई : दोयम जिंदगी जीने वाले मीडियाकर्मियों की परत दर परत खुलने लगी है। तरुण तेजपाल के बाद मीडिया से जुड़ी एक और बड़ी हस्ती पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगा है। कैप्टन टीवी के संपादक को यौन शोषण के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया है। संपादक पर यह आरोप उनके ही टीवी चैनल की पूर्व महिला सहकर्मी ने लगाया है। यह महिला चैनल में सब एडिटर के पद पर कार्य कर चुकी है।

आतंकवादी बन गया मान्‍यता प्राप्‍त पत्रकार, यूपी पुलिस का खुलासा

कुरुक्षेत्र : आतंकी जुबैर का साथी और कथित आतंकी इख्तियार भारत में एक मान्यता प्राप्त पत्रकार के तौर पर रह रहा था। इस बात का खुलासा होते ही देश की सुरक्षा पर एक बार फिर सवाल खड़ा हो गया है। यूपी पुलिस द्वारा इख्तियार की गिरफ्तारी के साथ ही पानीपत पुलिस के सुरक्षा प्रबंध के साथ-साथ खुफिया तंत्र की भी पोल खुल गई है। यूपी पुलिस द्वारा किए गए खुलासे के बाद पानीपत पुलिस इस मामले में मुंह छिपाते हुए घूम रही है और पूरे प्रकरण से पल्ला झाड़ रही है।

मशहूर पत्रकार प्राण चोपड़ा का निधन

नई दिल्ली। जानेमाने पत्रकार और द स्टेटमैन के पहले भारतीय संपादक प्राण चोपड़ा का देर रात यहां निधन हो गया। चोपड़ा पिछले कुछ समय से बीमार थे। वह 92 वर्ष के थे। चोपड़ा के परिवार में उनकी पत्नी और दो बेटियां हैं। एडिर्ट्स गिल्ड ऑफ इंडिया ने चोपड़ा के निधन पर शोक व्यक्त किया है। वह एडिर्ट्स गिल्ड ऑफ इंडिया के पूर्व कार्यकारी सदस्य थे।

एबीसी में भास्‍कर टॉप पर, हिंदी अखबारों का जलवा

भोपाल : ऑडिट ब्यूरो ऑफ सर्कुलेशन द्वारा जारी 2013 के पहले छह महीनों के आंकड़ों के मुताबिक दैनिक भास्कर अब देश का सर्वाधिक प्रसार संख्या वाला दैनिक अखबार बन गया है। 34,50,945 प्रतियों के साथ दैनिक भास्कर देश में नंबर वन पर है। रिपोर्ट के मुताबिक दैनिक भास्कर हिंदी अब दैनिक जागरण से 6.87 लाख प्रतियों के साथ 25 प्रतिशत से भी आगे है।

डेक्‍कन क्रानिकल मीडिया समूह 4300 करोड़ के कर्ज में डूबी, सीबीआई से शिकायत

हैदराबाद : देश की जानी मानी मीडिया कंपनी डेक्कन क्रॉनिकल 4300 करोड़ रुपए के कर्ज तले दबी हुई है। कर्ज देने वाले दो दर्जन से ज्‍यादा कर्जदारों के दबाव के बाद कंपनी सीबीआई जांच के घेरे में है। आईपीएल डेक्‍कन चार्जर्स की स्‍वामित्‍व रखने वाली इस कंपनी का पतन तभी शुरू हो गया, जब इस कंपनी को बीसीसीआई ने आईपीएल से बाहर कर दिया। माना जा रहा है कि आईपीएल के नुकसान ने कंपनी को बरबाद करके रख दिया है।

सीईसी ने की पेड न्यूज को चुनावी अपराध बनाने की सिफारिश

तिरुवनंतपुरम : मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईसी) वीएस संपत ने आज कहा कि चुनाव आयोग ने कानून मंत्रालय से सिफारिश की है कि सभी पेड न्यूज को चुनावी अपराध माना जाए क्योंकि यह चुनावी प्रक्रिया को ‘अधिकतम नुकसान’ पहुंचा रहा है।

अदालत के सामने आज पेश किए जाएंगे तरुण तेजपाल

पणजी : तहलका के प्रधान संपादक तरुण तेजपाल को बुधवार को अदालत के सामने पेश किया जाएगा। उनकी चार दिवसीय पुलिस हिरासत की अवधि समाप्त हो चुकी है। तेजपाल को उनकी महिला सहकर्मी के साथ कथित दुष्कर्म करने के आरोप में 30 नवंबर को गिरफ्तार किया गया था।

मीडिया के खिलाफ एकजुट दिखे सपा, बसपा, कांग्रेस और रालोद

मीडिया के खिलाफ जनप्रतिनिधियों और नेताओं के मन में कितना मलाल है यह यूपी विधानसभा की कार्रवाई के दौरान देखने को मिला. आज तक चैनल पर मुजफ्फरनगर दंगों पर किए गए स्टिंग के जांच के लिए बनाई गई समिति ने अपनी अंतरिम रिपोर्ट सदन के समक्ष पेश की. इसमें चैनल को रा फुटेज न देने तथा अन्‍य आरोप लगाते हुए अवमानना का आरोपी बताया गया. सदन ने इसे स्‍वीकार करते हुए आजतक, हेडलाइंस टुडे, सुप्रिय प्रसाद तथा चैनल के लिए स्टिंग करने वाले चैनल के रिपोर्टर तथा कैमरामैन को अवमानना के तहत दोषी पाया तथा कार्रवाई का प्रस्‍ताव पास किया.

2जी मामले में उपेंद्र राय और सुबोध जैन को भी अवमानना की नोटिस

सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को 2जी स्पेक्ट्रम जांच में कथित रूप से हस्तक्षेप करने के आरोप में सहारा समूह के मुखिया सुब्रत राय के अलावा दो पत्रकार उपेंद्र राय और सुबोध जैन के खिलाफ अवमानना कार्यवाही के लिए नोटिस जारी किया है। निवेशकों को धन लौटाने के मामले में अदालत की नाराजगी झेल रहे सुब्रत राय के लिये यह नई परेशानी है। इसके साथ ही सहारा समूह की परेशानी लगातार बढ़ती जा रही है।

स्टिंग करने वाले आज तक चैनल के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का प्रस्‍ताव

लखनऊ : यूपी विधानसभा ने मुजफ्फरनगर दंगों पर सनसनीखेज स्टिंग दिखाने वाले टीवी चैनल आज तक के चैनल हेड सुप्रिया प्रसाद को अवमानना के लिए जिम्मेदार ठहराया है। मंगलवार को यूपी विधानसभा में स्टिंग ऑपरे‌शन की जांच के लिए बनाई गई कमेटी ने अपनी अंतरिम रिपोर्ट सौंपी। न्यूज चैनल के एक्‍जीक्‍यूटिव डायरेक्टर, रिपोर्टर और कैमरामैन के खिलाफ मंगलवार को राज्य विधानसभा में विशेषाधिकार हनन का प्रस्ताव पारित किया गया।

तरुण तेजपाल पर लगी दो अतिरिक्‍त धाराएं

पणजी : गोवा अपराध शाखा ने महिला सहकर्मी के यौन शोषण के आरोपी तहलका के संस्थापक संपादक तरुण तेजपाल की मुश्किलें बढ़ाते हुए उनके खिलाफ अतिरिक्त आरोप लगाए हैं। अपराध शाखा के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि तेजपाल के खिलाफ दर्ज प्राथमिकी में अब आईपीसी की धारा 341 और 342 जोड़ी गई हैं। ये धारायें किसी को गलत ढंग से बंधक बनाने से जुड़ी है। तेजपाल से पूछताछ कर रहे अधिकारियों ने कहा कि पीडि़ता, गवाहों के बयानों के बाद और होटल के सीसीटीवी फुटेज देखने के बाद तेजपाल के खिलाफ अतिक्ति धाराएं लगाई गई हैं।

रवींद्र मौर्या ने की ‘गुंडई’, पीटे गए जनसंदेश टाइम्‍स के दो कर्मचारी

बनारस में स्‍थानीय लोगों से 'गुंडई' करना जनसंदेश टाइम्‍स के कुछ कर्मचारियों के लिए भारी पड़ गया. रविवार को स्‍थानीय लोगों ने जनसंदेश टाइम्‍स के ऑफिस में घुसकर दो कर्मचारियों की जमकर धुनाई की. मारपीट करने वाले लोग भीड़ के हाथ नहीं लगे अन्‍यथा उनकी धुक्‍का फजीहत करने की तैयारी पूरी थी. उग्र भीड लगभग 20 मिनट तक अखबार के ऑफिस को अपने कब्‍जे में कर रखा था. पुलिस को सूचना देने के बाद स्‍थानीय लोग अखबार कार्यालय से बाहर निकले. इस मामले में दो लोगों को पुलिस ने पकड़ा है. अखबार के घायल कर्मचारी को अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है.

न्‍यूज30 चैनल में आरई बने राजकुमार सिंह

न्‍यूज एक्‍सप्रेस, लखनऊ में एडिटर क्‍वार्डिनेशन के पद पर कार्यरत रहे राजकुमार सिंह ने अपनी नई पारी यूपी-उत्‍तराखंड से लांच होने जा रहे चैनल न्‍यूज30 के साथ अपनी नई पारी शुरू की है. उन्‍हें यहां पर स्‍थानीय संपादक बनाया गया है. चैनल ग्रेटर नोएडा से संचालित होगा.

समाचार प्‍लस से इस्‍तीफा देकर बी टीवी जाएंगे अतुल अग्रवाल

समाचार प्‍लस से एंकर अतुल अग्रवाल ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे एक्‍जीक्‍यूटिव एडिटर के तौर पर चैनल से जुड़े हुए थे. दूसरी खबर यह आ रही है कि प्रबंधन ने उनको खुद ही बाहर जाने को कह दिया है. हालांकि इस खबर की पुष्टि नहीं हो पाई है. बताया जा रहा है कि अतुल भास्‍कर समूह के बी टीवी के साथ एडिटर के रूप में जुड़ने जा रहे हैं. इसके पहले समाचार प्‍लस के अलग अलग विभागों से लगभग एक दर्जन लोग इस्‍तीफा दे चुके हैं. माना जा रहा है कि इन सभी लोगों ने अतुल अग्रवाल की शह पर इस्‍तीफा दिया है. अतुल इन सभी को बी टीवी लेकर जाने वाले हैं.

विवेकानंद बने हिंदुस्‍तान, नोएडा में एनई, शशि भूषण जनसेतु जाएंगे

अमर उजाला, कानपुर से खबर है कि विवेकानंद त्रिपाठी ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर डीएनई के पद पर कार्यरत थे. विवेकानंद लंबे समय से अमर उजाला से जुड़े हुए थे. इसी साल की शुरुआत में उन्‍हें गोरखपुर से कानपुर भेजा गया था. उन्‍होंने अपनी नई पारी हिंदुस्‍तान के साथ शुरू की है. उन्‍हें नोएडा में एनई बनाया गया है. वे अमर उजाला के लिए पश्चिमी यूपी में लंबे समय तक काम कर चुके हैं. उन्‍हें नोएडा में सुनील द्विवेदी के स्‍थान पर लाया गया है. सुनील के इलाहाबाद जाने के बाद नोएडा में एनई का पद खाली पड़ा हुआ था. 

यूपी में सूचना आयुक्‍त बनने के लिए हो रहे कैसे कैसे जतन

यूपी में सूचना आयुक्‍त बनने के लिए कई पत्रकार भी हाथ-पैर मार रहे हैं. सूत्रों का कहना है कि खाली पड़ी आठ सीटों में कम से कम दो सीटों पर पत्रकार कोटे से नियुक्ति होनी है. इसमें एक नाम तो क्‍लीयर है, सारी लड़ाई दूसरे सीट के लिए चल रही है. पत्रकार कोटे से सूचना आयुक्‍त बनने वाले एक सीट पर वरिष्‍ठ पत्रकार अरविंद सिंह बिष्‍ट का नाम तय माना जा रहा है. अरविंद सिंह सपा प्रमुख के समधी हैं, लिहाजा उनकी दावेदारी को लेकर किसी को कोई शंका नहीं है. पर दूसरे सीट को लेकर लखनऊ के कई धुरंधर पत्रकार लाबिंग करने में जुटे हुए हैं.

टीआरपी : आजतक की बढ़त कायम, इंडिया न्‍यूज फिसला

48वें सप्‍ताह की टीआरपी आ गई है. इस सप्‍ताह में कई महत्‍वपूर्ण बदलाव हुए हैं. एबीपी न्‍यूज दूसरे नम्‍बर से तीसरे स्‍थान पर पहुंच गया है. इंडिया टीवी ने दूसरे नम्‍बर पर वापसी की है. आजतक लगातार नम्‍बर एक पर बना हुआ है. टीआरपी में नुकसान होने के बावजूद फिलहाल उसे चुनौती देने वाला कोई नजर नहीं आ रहा है.

रत्‍नाकर दीक्षित बनेंगे सोनभद्र में जागरण के प्रभारी, हरेंद्र शुक्‍ला आज से जुड़े

दैनिक जागरण, बनारस से खबर आ रही है कि रत्‍नाकर दीक्षित को सोनभद्र का प्रभारी बनाया जा रहा है. रत्‍नाकर अभी बनारस में सीनियर सब एडिटर के पद पर कार्यरत हैं. इसके पहले भी रत्‍नाकर को सोनभद्र भेजे जाने की तैयारी थी, लेकिन आखिरी समय में प्रबंधन ने अपना निर्णय वापस ले लिया था. पर इस बार उन्‍हें भेजने की पूरी तैयारी कर ली गई है. 

आरपी सिंह बने जनसंदेश टाइम्‍स में सीईओ, गोरखपुर में डाक एडिशन बंद कराया

जनसंदेश टाइम्‍स, गोरखपुर से खबर है कि आरपी सिंह ने यहां सीईओ के रूप में ज्‍वाइन किया है। आरपी सिंह इसके पहले मेरठ में सुभारती ग्रुप से जुड़े हुए थे। वहां से हटाए जाने के बाद उनकी जनसंदेश टाइम्‍स में इंट्री हो गई है। हालांकि माना जा रहा है कि बाबू सिंह कुशवाहा की बिरादरी का होने के चलते यहां उन्‍हें सुपर बास बनाया गया है। नई नौकरी ज्‍वाइन करने के बाद यहां भी उन्‍होंने पुराना पैतरा शुरू कर दिया है। उनका यह फैसला अखबारी जगत में मजाक का विषय बन गया है।

HT Advt Scam : Mantoo Sharma prays to SC to issue guidelines to owners / editors

New Delhi : In connection with the Special Leave Petition(Criminal) No.1603 of 2013 ,the Supreme Court of India will hear  on December 16 next, the Respondent No.02, Mantoo Sharma, Munger ,Bihar, in his Counter-Affidavit, has prayed to the Hon’ble Supreme Court  to issue guidelines to the owners and editors of the Print, Broadcast and Electronic Media in matters relating to the Rs.200 crore  Dainik Hindustan Advertisement Scam of Bihar.

तेजपाल केस में गोवा पुलिस ने शोमा चौधरी से की नौ घंटे पूछताछ

नई दिल्ली। तेजपाल यौन शोषण केस में शोमा चौधरी से शनिवार की रात 2 बजे तक पूछताछ हुई। तहलका के दफ्तर से गोवा पुलिस ने कंप्यूटर और अहम दस्तावेज जब्त किए हैं। तेजपाल यौन शोषण कांड में जांच करने के लिए कल गोवा पुलिस क्राइम ब्रांच दिल्ली पहुंची थी। पुलिस ने शोमा से लड़की की शिकायत की कॉपी भी ले ली है। माना जा रहा है कि इस मामले में देर सबेर तेजपाल की गिरफ्तारी हो सकती है।

‘चापलूस’ पत्रकारों को यूपी सरकार का झटका

लखनऊ। अखिलेश यादव सरकार से सूचना आयुक्तों की नियुक्ति के मामले में मुलायमपंथी कई दिग्गज पत्रकारों को काफी निराशा हाथ लगी है। अभी किसी के नाम की घोषणा नहीं की गई है। लेकिन जिन लोगों के नाम पर सहमति बनी है उनमें एक सपा मुखिया के रिश्तेदार बताए जा रहे हैं। जिन लोगों को मौका नहीं मिला है उनमें काफी संख्या ऐसे पत्रकारों की है जो मुलायमपंथ के अनुयायी रहे हैं।

भाजपा की आगरा रैली में भी हुई पत्रकारों की ऐसी की तैसी

नरेंद्र मोदी की आगरा रैली में भी मीडिया प्रभारियों की आपसी अदावत पत्रकारों पर भारी पड़ी. एक पत्रकार तो इतना नाराज हुआ कि मीडिया प्रभारियों के मिसमैनेजमेंट के लिए भाजपा के कई पदाधिकारियों को एसएमएस भेज दिया. कई पत्रकारों ने तय किया है कि अब भाजपा की रैलियों को कवर करने के लिए नहीं जाएंगे. साथ ही पत्रकारों की नाराजगी का आलम यह है कि अखबारों में भाजपा के खिलाफ उसकी असलियत वाली खबरें प्रकाशित होने लगी हैं.

सेक्‍स स्‍कैंडल में फंसे तरुण तेजपाल गायब

नई दिल्ली : अपनी खोजी पत्रकारिता से धमाल मचाने वाले तरुण तेजपाल खुद मुश्किलों में घिर गए हैं। गोवा पुलिस ने तेजपाल पर लगे यौन हमले के आरोप की जांच शुरू कर दी है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, खुद पर गिरफ्तारी की तलवार लटकते देख तरुण तेजपाल अचानक से गायब हो गए हैं। गोवा पुलिस ने तहलका की प्रबंध संपादक शोमा चौधरी से मामले की पूरी जानकारी मांगी है।

‘अखबार में अच्‍छी तस्‍वीर न छपने पर बौखला जाते हैं नीतीश’

बिहार में नीतीश कुमार और सुशील मोदी के बीच की लड़ाई अब व्‍यक्तिगत स्‍तर पर उतर गई है. सुशील मोदी ने नीतीश पर पलटवार करते हुए कहा है कि ताकतवर विपक्ष से पहली बार पाला पड़ते ही मुख्यमंत्री घटिया स्तर पर उतर आए हैं. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा छपास रोगी कहे जाने पर पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि पहले वे अपने गिरेबान में भी झांक कर देखें.

सहारा ने कोर्ट के आदेशों का उड़ाया मजाक, सेबी से भी झूठ बोला

नई दिल्ली। पूंजी बाजार नियामक सेबी सहारा समूह के खिलाफ शिकायत लेकर फिर सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है। सहारा की तरफ की जा रही कार्रवाई पर कोर्ट ने नाराजगी जताई है। नियामक ने आरोप लगाया है कि समूह ने अपनी संपत्तियों का मूल्य बढ़ा-चढ़ा कर बताया है और 20 हजार करोड़ रुपये की संपत्तियों के सभी मूल दस्तावेज अब नहीं सौंपे हैं। शीर्ष अदालत ने 28 अक्टूबर को आदेश दिया था कि सहारा ये दस्तावेज सेबी को सौंप दे।

तरुण तेजपाल पर लगे आरोप कानूनी प्रक्रिया से दरकिनार कैसे?

Qamar Waheed Naqvi : तरुण तेजपाल पर लगे यौन शोषण के आरोपों पर क़ानूनी प्रक्रिया को दरकिनार कैसे किया जा सकता है? क़ानूनी प्रक्रिया से मामले का निपटारा हो, यही सही रास्ता है. सुहासिनी हैदर के इन दो ट्वीट से मेरी पूरी सहमति है.

भाजपा के मीडिया सेल की गुटबाजी नरेंद्र मोदी पर पड़ेगी भारी

: नाराज पत्रकार भाजपा के खिलाफ अभियान चलाने में जुटे : लखनऊ : नरेंद्र मोदी और राजनाथ सिंह यूपी में रैली कर के भाजपा के पक्ष में हवा बनाने की कोशिश में जुटे हुए हैं तो यूपी का मीडिया और प्रवक्‍ता सेल एक दूसरे को निपटाने के अलावा कुछ अखबारों में बड़े नेताओं के खिलाफ स्‍टोरी प्‍लांट कराने में मगन है. नरेंद्र मोदी की रैलियों में घटिया मैनेजमेंट का ही असर है कि इन रैलियों के प्रदेश के अखबारों में उतना जगह नहीं मिल रहा है, जितनी सपा की रैलियों को मिल रही है. भाजपा के भीतर पत्रकारों को लेकर चल रही घटिया राजनीति से कई पत्रकार भी नाराज हैं.

महिला पत्रकार से बदसलूकी करने वाले तरुण तेजपाल छह महीने के लिए हटे

नई दिल्ली: तहलका पत्रिका के संपादक तरुण तेजपाल ने एक महिला पत्रकार के साथ बदसलूकी की बात स्वीकार करते हुए बुधवार को अपने पद से छह महीने के लिए हटने की पेशकश की। तहलका की प्रबंध संपादक शोमा चौधरी को लिखे पत्र में तेजपाल ने कहा, ‘पिछले कुछ दिन बहुत परीक्षा वाले रहे और मैं पूरी तरह इसकी जिम्मेदारी लेता हूं। एक गलत तरह से लिए फैसले, परिस्थिति को खराब तरह से लेने के चलते एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई जो उन सभी चीजों के खिलाफ है जिनमें हम विश्वास करते हैं और जिनके लिए संघर्ष करते हैं।’

हाई कोर्ट निर्देश : एडवाइजरी का प्रयोग न किया जाए न्‍यूज चैनलों के खिलाफ

लखनऊ : सामाजिक कार्यकर्ता डा. नूतन ठाकुर की सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा पारित 21 अक्टूबर 2013 की एडवाइजरी को निरस्त करने सम्बंधित पीआईएल पर इलाहाबाद हाई कोर्ट, लखनऊ बेंच ने आदेशित किया है कि इसका प्रयोग भविष्य में किसी न्यूज़ चैनल के खिलाफ नहीं किया जाए.

प्रिंट मीडिया की चांदी, डीएवीपी की दर 19 फीसदी बढ़ी

नई दिल्ली। सरकार ने प्रिंट मीडिया के लिए डीएवीपी की विज्ञापन दरों में 19 फीसदी की बढ़ोतरी की है। यह वृद्धि विज्ञापन की नई दरों को अंतिम रूप देने के लिए नियुक्त समिति की सिफारिशें आने तक प्रभावी रहेगी। सूचना एवं प्रसारण मंत्री मनीष तिवारी ने बताया कि प्रिंट मीडिया के लिए नई विज्ञापन दरें तय करने के लिए हर तीन साल पर एक रेट स्ट्रक्चर समिति (आरएससी) का गठन किया जाता है।

पाकिस्‍तान के दस चैनलों पर एक करोड़ रुपए का जुर्माना

इस्लामाबाद : पाकिस्तान के दस मनोरंजन टीवी चैनलों पर अधिक मात्रा में भारतीय एवं विदेशी कार्यक्रमों का प्रसारण करने के लिए एक करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया गया है। द न्यूज की खबर के अनुसार पाकिस्तान इलेक्ट्रॉनिक मीडिया नियामक प्राधिकरण (पीईएमआरए) ने टीवी चैनलों पर जुर्माना लगाया और उन्हें चेतावनी जारी करते हुए भविष्य में इससे बचने के लिए कहा।

पेड न्‍यूज के मामले में छत्‍तीसगढ़ के तीन उम्‍मीदवारों पर जुर्माना

रायपुर। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी व मीडिया प्रमाणनन और अनुवीक्षण समिति के अध्यक्ष की जिम्‍मेदारी निभा रहे सिद्धार्थ कोमल सिंह परदेशी ने पेड न्यूज के मामले में तीन उम्मीद्वारों के निर्वाचन व्यय में दो लाख 60 हजार 763 रुपए शामिल करने के निर्देश दिए हैं। यह राशि जुर्माना के तौर पर जमा की जाएगी। यह कार्रवाई पेड न्‍यूज के मामले में शक के दायरे में आने के बाद की गई है।

सहारा समूह को देना होगा पीएफ का हिसाब

सहारा समूह की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है। एक मामले में राहत मिल रही है तो दूसरा मामला खड़ा हो जा रहा है। ताजा मामले में प्रोविडेंट फंड (पीएफ) के मुद्दे पर सरकार ने सहारा पर शिकंजा कस दिया है। सरकार ने सहारा को मिलने वाली पीएफ में छूट को रद्द कर दिया है। अभी तक सहारा खुद ही अपने सभी पीएफ को संचालित करता था। लेकिन अब इसकी पूरी जानकारी ईपीएफओ को देनी होगी।

बुलंदशहर में पत्रकार के घर में घुसकर जानलेवा हमला

बुलंदशहर के जहांगीराबाद कस्बा निवासी पाक्षिक समाचार पत्र के एक पत्रकार पर शनिवार को जानलेवा हमला हुआ। इस हमले को पत्रकार के घर में घुसकर अंजाम दिया गया। आरोप है कि हमलावर एक पॉलिटेक्निक कॉलेज से जुड़ा हुआ हैं और कॉलेज के खिलाफ आरटीआई द्वारा लाखों के घोटाले का खुलासा करने के विरोध में पत्रकार पर हमला किया। पुलिस ने पत्रकार की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर एक पॉलिटेक्निक कर्मचारी और उसके बेटे को अरेस्‍ट किया है। दूसरे पक्ष से भी पत्रकार के खिलाफ तहरीर दी है। पुलिस जांच कर रही है।

अखबार के दफ्तर में गोलीबारी, एक मीडियाकर्मी घायल

फ्रांस के अखबार 'लिबेरासियों' के दफ्तर में गोलीबारी की घटना के बाद हमलावर की तलाश तेज हो गई है. गोलीबारी में फोटोग्राफर का सहायक घायल हो गया है. गोलीबारी की एक और घटना पेरिस के सबसे बड़े बैंक में भी हुई है. फ्रांस की पुलिस उस आरोपी की तलाश में जुट गई है, जिस पर 27 वर्षीय शख्स पर गोलीबारी का आरोप है. फ्रांस के अखबार लिबेरासियों के दफ्तर में काम करने वाले फोटोग्राफर के सहायक के सीने और पेट में गोली लगी है.

चंदौली में पत्रकार से लूट के प्रयास का मामला : अश्‍वनी पर समझौता करने का दबाव बनाने में जुटे सपाई

: कुछ पत्रकारों की भूमिका भी संदिग्‍ध : चंदौली जिले में एक पत्रकार के साथ लूट का प्रयास किया गया. पत्रकारों के दबाव में पुलिस लुटेरों को पकड़ने के लिए सक्रिय भी हुई लेकिन अब पुलिस ने अपने हाथ समेट लिए हैं. बताया जा रहा है कि पुलिस सपाइयों के दबाव में लुटेरों पर हाथ डालने से डर रही है. कुछ सपाई पत्रकार पर भी मामला वापस लेने का दबाव बना रहे हैं. उनका साथ कुछ पत्रकार भी दे रहे हैं. दबाव पड़ने से पायनियर का पत्रकार भी दहशत में आ गया है.

देव दीपावली कवरेज के दौरान गंगा में डूबने से पत्रकार नरेश रुपानी की मौत

बनारस से खबर है कि सिटी केबल के पुराने रिपोर्टर नरेश रुपानी की देव दीपावली कवरेज के दौरान गंगा नदी में डूबने से मौत हो गई. पुलिस ने सुबह नरेश की लाश गंगा नदी से बाहर निकाला. नरेश शुरू से ही सिटी केबल से जुड़े हुए थे. उनकी मौत से बनारस की पत्रकारिता जगत में शोक की लहर है. हालांकि पुलिस इसे दुर्घटना ही मान रही हैं, लेकिन परिजन मौत की परिस्थितियों को संदिग्‍ध मान रहे हैं.

चंदौली में फर्जी सीएमओ के साथ आईबीएन7 का नकली पत्रकार धराया

चंदौली जिला फर्जी पत्रकारों का गढ़ बनता जा रहा है। कोई पांच-पांच चैनल का आईडी लेकर घूमता है तो कोई कई अखबारों में काम करने का लेटर। अब कौन असली और कौन नकली है, यह तय कर पाना मुश्किल हो जाता है। यहां कुछ असली और कुछ नकली दोनों पत्रकार वसूली करने के आरोपों में घिरे रहते हैं। कुछ पुलिस के दलाल होते हैं तो कुछ नेताओं के। ताजा मामला बबुरी थाना क्षेत्र का है। यहां चिकित्सकों से रौब गांठ कर वसूली कर रहे दो व्यक्तियों को पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया गया। इनमें से एक खुद को सीएमओ व दूसरा खुद को एक जाने माने चैनल का रिपोर्टर बता  रहा था।

खबर मंत्र से सुधाकर और नीरज का इस्‍तीफा

खबर मंत्र, रांची से सूचना है कि दो लोगों ने इस्‍तीफा दे दिया है. चीफ करेस्‍पांडेंट के पद पर कार्यरत सुधाकर ने खबर मंत्र को बाय कर दिया है. वे अपनी नई पारी रांची में ही पायनियर के साथ शुरू की है. सुधाकर इसके पहले प्रभात खबर को अपनी सेवाएं दे चुके हैं. इन्‍हें पायनियर में भी चीफ करेस्‍पांडेंट बनाया गया है.

आशीष, प्रियंका और नवीन ने शुरू की नई पारी

पंजाब केसरी से खबर है कि आशीष सुदर्शन ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे लखनऊ में रिपोर्टर के रूप में अपनी भूमिका निभा रहे थे. आशीष ने अपनी नई पारी लखनऊ में ही वॉयस ऑफ मूवमेंट से शुरू की है. उन्‍हें यहां भी रिपोर्टिंग की जिम्‍मेदारी सौंपी गई है. आशीष इसके पहले भी कई संस्‍थानों को अपनी सेवाएं दे चुके हैं. गौरतलब है कि अनिल कटियार के एनई बनने के बाद से अखबार का कलेवर और तेवर पूरी तरह चेंज हो गया है. नए लोगों को तेजी से जोड़ा जा रहा है.

पत्रकारों को अदा करनी होगी समाज प्रहरी की भूमिका : राम गोविन्द चौधरी

: उपजा के कार्यक्रम में कहा : विश्व प्रेस दिवस पर आयोजित एक संगोष्ठी में प्रदेश के बाल विकास एवं बेसिक शिक्षा मंत्री रामगोविन्द चौधरी ने पत्रकारिता के प्रति उत्पन्न हो रहे खतरे को अगाह करते हुए कहा कि लोकतंत्र में सरकार आती और जाती रहती है। जब सरकारें आना जाना बंद कर देंगी तब हालात भयावह हो सकते हैं। मीडिया ने अंग्रेजों की दांस्तां से लेकर जेपी के आन्दोलन तक समाज के हित में एक प्रहरी के रूप में खड़े हो कर जो भूमिका अदा की है, उसकी मैं सराहना करता हॅू।

बनारस में दो दिनों से नहीं बंट रहा दैनिक जागरण, हिंदुस्‍तान और अमर उजाला

: कमीशन खतम करने को लेकर हॉकरों की हड़ताल : बनारस में हॉकरों और तीन बड़े अखबार के प्रबंधन में कमीशन को लेकर घमासान मचा हुआ है. इसका असर है कि शनिवार और रविवार को बनारस में हॉकरों ने दैनिक जागरण, हिंदुस्‍तान तथा अमर उजाला की एक भी प्रति नहीं उठाई. अखबार प्रबंधन खुद ही अखबार का वितरण अपने संसाधनों से करा रहा है. खबर है कि कुछ हॉकरों के खिलाफ अखबार प्रबंधन ने एनसीआर भी करा दिया है.

संजय तिवारी बने डीएनए के एडिटर को-आर्डिनेशन

श्री टाइम्‍स, लखनऊ से खबर है कि प्रबंधन ने संजय तिवारी ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर एडिटर को-आर्डिनेशन के पद पर कार्यरत थे. संजय ने अपनी नई पारी लखनऊ में डेली न्‍यूज ऐक्टिविस्‍ट के साथ शुरू की है. उन्‍हें यहां भी एडिटर को-आर्डिनेशन बनाया गया है. संजय तिवारी पिछले ढाई दशक से नोएडा, लखनऊ व गोरखपुर की पत्रकारिता में सक्रिय रहे हैं.

डाक्‍टर ने लगाया पत्रकार प्रवीण अरोड़ा पर ब्‍लैकमेल करने का आरोप

गाजियाबाद : एमएमजी अस्पताल के एक डॉक्टर ने एक न्यूज चैनल के पत्रकार पर ब्लैकमेल करने का आरोप लगाया है। डॉक्टर की शिकायत पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है और मामले की जांच कर रही है।

फोर्ब्‍स पत्रिका 40 करोड़ डॉलर में बिकने को तैयार

न्यूयार्क : फोर्ब्स पत्रिका की प्रकाशक कंपनी फोर्ब्स मीडिया बिकने को तैयार है और उसे उम्मीद है कि इससे उसे 40 करोड़ डॉलर प्राप्त होंगे। फोर्ब्स पत्रिका उसकी सालाना अरबपतियों की सूची के प्रकाश के लिए जानी जाती है। फोर्ब्स मीडिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी माइकल पेरलिस ने ईमेल के जरिये कर्मचारियों को बताया है कि कंपनी को फोर्ब्स मीडिया को खरीदने के लिए सामान्य से कुछ ज्यादा प्रस्ताव मिले हैं।

रैपिड मेट्रो के ट्रायल में क्‍यों जुट गई मीडियाकर्मियों की इतनी भीड़?

गुडग़ांव : लंगर व भंडारा में आप ने लोगों की भारी भीड़ लगी तो देखी होगी, लेकिन गिफ्ट के लिए शायद ही कहीं भीड़ देखी होगी? पर यह नजारा पत्रकारों ने दिखाया। मामला कहीं और का नहीं बल्कि गुडग़ांव का है। बीते बुधवार को रैपिड मेट्रो को मीडिया के सामने ट्रायल के लिए ट्रैक पर दौड़ाया गया। इस के लिए गुडग़ांव व दिल्ली के मीडियावालों को बुलाया गया।

चंदौली में हाइवे पर पत्रकार से लूट का प्रयास

चंदौली जिले में एक पत्रकार के साथ लूट का प्रयास किया गया। परन्‍तु पत्रकार की हिम्‍मत से लुटेरे अपने मकसद में कामयाब नहीं हो सके। घटना चंदौली जिले के अलीनगर थाना क्षेत्र की है, जहां एनएच 2 पर स्थित चौपाल सागर के समीप दो बाइक पर सवार चार हथियारबंद लुटेरों ने वाराणसी से चंदौली की तरफ वापस घर लौट रहे पायनियर संवाददाता अश्वनी सिंह उर्फ़ पिन्टू की बाइक रोक ली तथा उनको मारपीटकर उनसे लूट का प्रयास भी करने लगे। पिंटू सिंह किसी प्रकार शोर मचाते हुवे वहां से भागने लगे, तभी लोगों को अपनी ओर आता देख लुटेरे भी उन्हें छोड़ कर वहां से भाग निकले। पीड़ित पत्रकार ने मोबाइल से पुलिस को सूचना दी। पुलिस घटना स्थल पर पहुंचकर मामले की छानबीन में जुट गयी है।

भूटान जाने वाले यूपी के 56 पत्रकारों ने की सीएम से मुलाकात

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने पड़ोसी देशों, विशेष रूप से हिमालय क्षेत्र के देशों से बेहतर और मजबूत सम्बन्ध बनाए रखने पर जोर दिया है। उन्होंने कहा कि हम अपना मित्र बदल सकते हैं, लेकिन पड़ोसी देश नहीं। इसलिए हर स्तर पर पड़ोसी देशों से अच्छे रिश्ते बनाने का प्रयास करते रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि पत्रकार और पत्रकारिता से लोकतंत्र को मजबूती मिली है। उन्होंने पत्रकारों को हर सम्भव सहयोग देने का भरोसा भी दिलाया।

सहारा समूह में अशोक ओहरी की वापसी, मीडिया एडवाइजर बने

: संजय बहादुर भी जुड़े : सहारा समूह में एक तरफ से तमाम मीडियाकर्मियों को निकालने की तैयारी है तो दूसरी तरफ कुछ पुराने लोगों को समूह में ज्‍वाइन कराया जा रहा है. अब तक सहारा की पॉलिसी रही है कि यहां से छोड़कर जाने वालों की वापसी नहीं होती है, लेकिन मुश्किलों से घिरे सहारा श्री ने इस निमय को शायद बदल दिया है. सहारा में मैनेजर के पद पर काम कर चुके अशोक ओहरी की वापसी हुई है. उन्‍हें प्रबंधन ने मीडिया एडवाइजर के पद पर नियुक्‍त किया है. इन्‍होंने कुछ दिन पहले ही लखनऊ स्थित सहारा शहर में ज्‍वाइन किया है.

जागरण, लखनऊ के लोकल इंचार्ज के व्‍यवहार से रो पड़ी महिला पत्रकार

दैनिक जागरण, लखनऊ के लोकल रिपोर्टरों का असंतोष लगातार बढ़ता ही जा रहा है। हाल ही में लोकल इंचार्ज अजय श्रीवास्तव के व्‍यवहार से तंग आकर कई युवा पत्रकारों ने दैनिक जागरण से को अलविदा कह दिया। इसके बावजूद उनके व्‍यवहार में कोई परिवर्तन नहीं दिख रहा है। कई वरिष्‍ठों का हाथ सिर पर होने से जागरण में उनकी तूती बोल रही है। अजय श्रीवास्‍तव और अजय शुक्‍ला की आपसी अदावत रिपोर्टरों पर भारी पड़ रही है। 

बबलू शर्मा ने दैनिक जागरण ज्‍वाइन किया, नीरज रावत देंगे साधना न्‍यूज से इस्‍तीफा

नेशनल दुनिया के लखनऊ ब्‍यूरो से खबर है कि बबलू शर्मा ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर फोटो जर्नलिस्‍ट हैं. बबलू अपनी नई पारी लखनऊ में दैनिक जागरण से शुरू करने जा रहे हैं. इनकी गिनती लखनऊ के तेजतर्रार फोटोग्राफरों में होती है. बबलू ने अपने करियर की शुरुआत 1999 में फ्रीलांस फोटोग्राफर के रूप में शुरू की थी. सन 2000 में टाइम्‍स ऑफ इंडिया के साथ कानपुर में जुड़ गए. यहां से इस्‍तीफा देने के बाद लखनऊ में हिंदुस्‍तान टाइम्‍स ज्‍वाइन कर लिया. हिंदुस्‍तान से इस्‍तीफा देने के बाद ये लखनऊ में ही डेली न्‍यूज एक्टिविस्‍ट के साथ जुड़ गए. यहां चार साल काम करने के बाद इस्‍तीफा देकर नेशनल दुनिया सक जुड़ गए थे.

सरकार नाराज ना हो जाए, इसलिए बंद कर दिया एनबीटी ने ‘यह समय’

: प्रमुख संवाददाता अनिल यादव लिखते थे यह साप्‍ताहिक कॉलम : लखनऊ। यहां की सरकार के खिलाफ लिखने की औकात इस समय किसी भी मीडिया संस्‍थान में दिखाई नहीं पड़ रही है. इसकी बानगी देखने को मिली कुछ महीने पहले लांच हुए नवभारत टाइम्‍स में. यहां एक साप्‍ताहिक कॉलम को इसलिए बंद कर दिया गया क्‍योंकि इसमें सरकार के खिलाफ कुछ ज्‍यादा ही कड़ा संदेश जा रहा था. सूत्र बता रहे हैं कि सरकार से कोई पंगा न हो जाए इसलिए यह कॉलम अखबार से खतम कर दिया गया. जब लोगों ने कॉलम बंद होने के बारे में जानकारी जुटाई तो यह तथ्‍य सामने आया.

इलाहाबाद के वरिष्‍ठ पत्रकार शिवाशंकर पांडेय पर हिस्‍ट्रीशीटर बदमाश ने किया हमला

: तमंचा सटाकर दी जान से मारने की धमकी : शिकायत के बावजूद पुलिस ने दर्ज नहीं किया मामला : इलाहाबाद। वरिष्‍ठ पत्रकार के जान के लाले पड़ गए हैं। पुलिस से शिकायत के बाद भी अब तक प्राथमिकी दर्ज नहीं की गई है। एक हिस्‍ट्रीशीटर और शातिर अपराधी ने इलाहाबाद के वरिष्‍ठ पत्रकार शिवाशंकर पांडेय के ऊपर तीन दिन के भीतर दो बार जानलेवा हमला किया। तहरीर देने के बावजूद कर्नलगंज और नवाबगंज थाने की पुलिस ने एहतियाती कदम उठाना तक जरूरी नहीं समझा। भुक्तभोगी पत्रकार ने एसएसपी से मिलकर जान के सुरक्षा की गुहार लगाई है।

रोहतक में पुलिस ने मीडिया पर बरसाई लाठियां, चार पत्रकार घायल

सचिन तेंदुलकर के खेल को कवर कर रहे हरियाणा के पत्रकारों पर मंगलवार को पुलिस ने लाठियां बरसाईं। चार पत्रकार को तो पुलिस ने बुरी तरह लाठियों से पीटा। हरियाणा के रोहतक में चल रहे रणजी ट्राफी मैच में तीन दिन से क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर अपने बल्ले का जलवा दिखा रहे थे। इस दौरान सचिन के दर्शन पाने के लिए उनके चाहने वालों को पुलिस की लाठियां खानी पड़ी। भीड़ नियंत्रित करने के नाम पर पुलिस ने सचिन के चाहने वालों से उठक बैठक तक कराई।

टीवी पत्रकार से अभद्रता करने के आरोपी उप निरीक्षक समेत तीन पुलिसकर्मी निलंबित

लखनऊ। राजधानी के चौक थाना क्षेत्र में इंडिया टीवी के पत्रकार मोहसिन हैदर से अभद्रता के आरोपी पुलिस उप निरीक्षक व दो सिपाहियों को निलंबित कर दिया गया है। उत्तर प्रदेश राज्य मान्यता प्राप्त संवाददाता समिति की आज एनेक्सी मीडिया सेंटर में इस मामले को लेकर बुलायी गयी बैठक में प्रदेश के गृह सचिव देवी शंकर शर्मा ने इस बात की जानकारी दी। समिति ने गृह सचिव को घटना की जानकारी देते हुए आरोपी पुलिस वालों को निलंबित कर उनकी गिरफ्तारी की मांग की थी।

सिंधी दैनिक हिंदू के संपादक किशन वर्यानी का निधन

सिंधी दैनिक हिंदू के मुख्‍य संपादक किशन वर्यानी का सोमवार को मुंबई में निधन हो गया. वे 77 वर्ष के थे तथा कुछ दिनों से अस्‍वस्‍थ चल रहे थे. सोमवार की शाम को उनका अंतिम संस्‍कार वैदिक रीति से मुंबई में किया गया. वे अपने पीछे बच्‍चों का भरा पूरा परिवार छोड़ गए हैं. किशन …

बसपा नेता के समर्थकों ने एनबीटी के फोटोग्राफर को उठाया

: पुलिस ने कराया मुक्‍त : लखनऊ में इन दिनों बसपा के एक पूर्व राज्‍यमंत्री के परिवार व समर्थकों ने हंगामा मचा रखा है. बसपा नेता आशीष शुक्‍ला की पुत्री ने दो दिनों पूर्व घर से भागकर एनजीओ आली के पास पहुंची तथा आरोप लगाया कि उसके पिता और भाई उससे छेड़छाड़ कर रहे हैं. उसने थाने में दोनों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करा दिया. इसकी सूचना जब बसपा नेता आशीष शुक्‍ला को मिली तो उनके समर्थक आली के ऑफिस पहुंच गए तथा हंगामा मचाने लगे.

दैनिक जागरण, बरेली से तीन लोगों का इस्‍तीफा

दैनिक जागरण, बरेली से खबर है कि इस यूनिट से जुड़े तीन लोगों ने माहौल से नाराज होकर इस्‍तीफा दे दिया है. ये लोग अपनी नई पारी कहां से शुरू करेंगे इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है. बरेली में कार्यरत सीनियर सब एडिटर रंजीत सिन्‍हा, जूनियर स‍ब एडिटर सौरभ दीक्षित तथा बदायूं में कार्यरत जूनियर सब एडिटर किशन बाबू मिश्रा ने इस्‍तीफा दे दिया है. बताया जा रहा है कि ये लोग यहां की परिस्थितियों से सामंजस्‍य नहीं बैठा पा रहे थे.

वीरेंद्र यादव के विमर्श के वितान में आइस-पाइस यानी छुप्पम-छुपाई का खेल

: इस आलेख को पढ़ने के पूर्व कृपया नोट कर लें कि वामपंथी अवधारणा के तहत वीरेंद्र यादव की नज़र में राम मनोहर लोहिया फ़ासिस्ट हैं। न सिर्फ़ फ़ासिस्ट हैं, नाज़ी हैं, हिटलर के अनुयायी भी हैं लोहिया :

भाजपा की कानपुर रैली में धूप में तपते रहे मीडियाकर्मी, मीडिया प्रभारी रहे मस्‍त

भाजपा का मीडिया मैनेजमेंट कितना कारगर है, यह कानपुर में नरेंद्र मोदी की रैली में देखने को मिला. इस रैली में मीडिया को उचित व्‍यवस्‍था देने के लिए राष्‍ट्रीय मीडिया प्रभारी श्रीकांत शर्मा और प्रदेश मीडिया प्रभारी मनीष शुक्‍ला ने कई राउंड की मीटिंग की थी, लेकिन जब सुविधाएं देने की बारी आई तो यह सारी मीटिंग फेल हो गई. मीडियाकर्मियों को धूप में बैठकर रैली की रिपोर्टिंग करनी पड़ी. इस अव्‍यवस्‍था से मीडियाकर्मियों में खासी नाराजगी देखने को मिली.

शाहजहांपुर में श्रीटाइम्‍स ने हिस्‍ट्रीशीटर को बनाया संवाददाता

: संपादक से शिकायत : पत्रकारिता को लोकतंत्र का चौथा स्तंभ कहा जता है। समय के साथ-साथ लोकतंत्र के चौथे स्तंभ को दीमक लगने लगी है। अब पत्रकारिता में आने वाले ज्यादातर पत्रकारों का मकसद पैसा कमाना हो गया है। इसी क्रम में अखबार प्रबंधन ऐसे लोगों को भी पैसे लेकर पत्रकार बना दे रहा है, जो गैरकानूनी कामों में संलिप्‍त रहे हैं। ताजा मामला श्री टाइम्‍स, शाहजहांपुर से जुड़ा हुआ है। यहां एक हिस्‍ट्रीशीटर को अखबार का संवाददाता बना दिया गया है।

हां, दलाली भी करते हैं चैनल

Deepak Sharma : फेसबुक में मैसेज और कमेंट्स में बहुत से मित्र पूछते हैं कि न्यूज़ चैनलों का कंटेंट इतना चीप क्यूँ है? खासकर हिंदी चैनलों में छिछले और चीप शो क्यूँ दिखाए जाते हैं? हाँ एक और सवाल जो लोग पूछते हैं …क्या पत्रकार सरकार (के दफ्तरों )में दलाली और लाइजनिंग भी करते हैं?

लेखपाल को गाली देने वाले सुधाकर शर्मा को अमर उजाला ने हटाया

अमर उजाला की प्रतिष्ठा की आड़ में बवाल करने के लिए कुख्यात हो चुके सुधाकर शर्मा को अमर उजाला ने आउट कर दिया है, जिससे उसके द्वारा सताये लोग राहत महसूस कर रहे हैं। सुधाकर के स्थान पर फ़िलहाल बदायूं कार्यालय में तैनात तरुण नाम के रिपोर्टर को ही बिसौली तहसील की रिपोर्टिंग की अतिरिक्त जिम्मेदारी दे दी गई है।

आजतक उपर चढ़ा, इंडिया टीवी नीचे गिरा, जी न्यूज और न्यूज24 की बुरी स्थिति

चालीसवें सप्‍ताह की टीआरपी आ गई है. पिछले सप्‍ताह के मुकाबले चैनलों की स्थिति में कोई परिवर्तन नहीं हुआ है. आजतक नम्‍बर एक पर बना हुआ है. दूसरे नम्‍बर पर मौजूद इंडिया टीवी को मामूली अंकों का नुकसान हुआ है. एबीपी न्‍यूज नम्‍बर तीन तथा इंडिया न्‍यूज नम्‍बर चार पर मौजूद है. इसके अलावा इस सप्‍ताह कोई बड़ा बदलाव देखने को नहीं मिला है. नीचे 40वें सप्‍ताह की टीआरपी.. 

लक्ष्‍मीकांत ने राजस्‍थान पत्रिका तथा मुकेश पांडेय ने दैनिक जागरण ज्‍वाइन किया

अमर उजाला, मुरादाबाद से खबर है कि लक्ष्‍मीकांत दुबे ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर चीफ रिपोर्टर के पद पर कार्यरत थे. लक्ष्‍मीकांत ने अपनी नई पारी जयपुर में राजस्‍थान पत्रिका के साथ शुरू की है. उन्‍हें यहां पर डीएनई बनाया गया है. उन्‍होंने जयपुर में ज्‍वाइन कर लिया है. लक्ष्‍मीकांत दैनिक भास्‍कर से इस्‍तीफा देकर कुछ महीने पहले ही अमर उजाला ज्‍वाइन किया था, लेकिन उन्‍हें इस अखबार की पारी रास नहीं आई.

जागरण ने ब्‍यूरोचीफ की हत्‍या में जेल जा चुके डाक्‍टर को बनाया कवि सम्‍मेलन का प्रायोजक

दैनिक जागरण जैसे घोर बाजारू अखबार से किसी नैतिकता की उम्‍मीद तो कतई नहीं की जा सकती है, लेकिन कम से कम अपने कर्मचारियों के सम्‍मान के लिए थोड़ी बहुत शर्म तो होनी ही चाहिए. जागरण समूह मुश्किल में फंसने वाले अपने कर्मचारियों से पल्‍ला झाड़ने के लिए कुख्‍यात रहा है, लेकिन शाहजहांपुर में इसने बेशर्मी की हद ही पार कर दी है. हल्‍ला बोल के दौरान हल्‍ला बोलने वाले के चरणों में लोट जाने वाला यह समूह हमेशा से बिना रीढ़ का रहा है. पत्रकारिता की आड़ में सही गलत धंधों को चलाने के लिए बुराइयों से टकराव नहीं बल्कि उनके चरणों में लोटना ही सबसे ज्‍यादा मुफीद मार्ग होता है.

जनसंदेश टाइम्‍स, बनारस के हालात खराब, अफरा-तफरी का माहौल

: दो महीने से नहीं मिली सैलरी : जनसंदेश टाइम्‍स, बनारस में हालात काफी बिगड़ चुके हैं. पिछले दो महीनों से कर्मचारियों का पगार नहीं मिला है. कर्मी बिलबिला गए हैं. अखबार में भगदड़ जैसी स्थिति है. कर्मचारी अपने अपने तरीके से नई नौकरी की तलाश कर रहे हैं, जिसे मौका मिल रहा है वो निकल जा रहा है. बताया जा रहा है कि लापरवाह रवैये के चलते दो वरिष्‍ठ पत्रकारों ने प्रंबंधन को अपने इस्‍तीफे भी सौंप दिए, लेकिन कर्मचारियों की लगातार कम होती संख्‍या के चलते इसे मंजूर नहीं किया गया. 

शाहजहांपुर में थाने में हिस्‍ट्रीशीटर ने प्रेस फोटोग्राफर को दी धमकी

शाहजहांपुर में खादी-खाकी अपराधी का गठजोड़ व्यापारियों के साथ साथ पत्रकारों पर भी भारी पड़ रहा है। मैरिज लान के संचालक नवीन बत्रा को खाकी-खादी का संरक्षण प्राप्त एक हिस्ट्रीशीटर अपराधी ने फिल्मी स्टाइल में घर से मैरिज लान जाते समय बीच सड़क पर दौड़ा दौड़ा के पीटा। भीड़ तमाशा देखती रही। पुलिस ने कई घंटों के बाद रिपोर्ट दर्ज की, पर अपराधी के खिलाफ सजातीय थानेदार किसी तरह की कार्रवाई करने से बच रहे थे।

राष्‍ट्रीय सहारा के प्रिंट लाइन से जयव्रत राय एवं सुशांतो राय का नाम हटा

: गोरखपुर के स्‍थानीय संपादक अनिल पांडेय का नाम भी नदारद : सहारा समूह के अखबार राष्‍ट्रीय सहारा के प्रिंट लाइन में कुछ बदलाव हुए हैं. हालांकि किस कारण प्रबंधन ने यह बदलाव किए हैं इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है. लेकिन माना जा रहा है कि किसी कानूनी अड़चन से बचने के लिए प्रबंधन ने यह फैसला लिया है. वहीं गोरखपुर के स्‍थानीय संपादक का नाम भी प्रिंट लाइन से हटा दिया गया है.

आईने पर इल्ज़ाम लगाना फ़िज़ूल है, सच मान लीजिए, चेहरे पर धूल है

: यह सब देख कर मन तो करता है कि एक नया दर्पण फिर से पेश कर दूं? : बचपन से सुनता और पढ़ता आया हूं कि कींचड़ में पत्थर फेंकने से बचना चाहिए, क्यों कि कीचड़ के छींटे अपने कपड़ों पर भी आते हैं। आज पुस्तक मेले में एक मित्र यही बात मुझ से कहने लगे। तो मैं ने उन से पूछ ही लिया कि, 'आखिर आप यह बात मुझे क्यों याद दिला रहे हैं? मैं ने कीचड़ में कोई पत्थर फेंक दिया है क्या?' वह बोले, 'लगता तो यही है।' मैं ने उन्हें दुष्यंत कुमार का शेर सुना दिया :

यौन उत्पीड़न का आरोपी दूरदर्शन का वरिष्‍ठ अधिकारी हुआ निलंबित

नई दिल्ली : सरकारी प्रसारक प्रसार भारती ने यौन उत्पीड़न के आरोपी दूरदर्शन के वरिष्ठ अधिकारी को निलंबित कर दिया है। अधिकारी की सहकर्मी ने उनके खिलाफ यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है। सूत्रों ने बताया कि प्रसार भारती ने अधिकारी के निलंबन का आदेश जारी करते हुए कल वरिष्ठ महिला अधिकारी को कहा कि वह मामले में आगे की कार्रवाई कर सकती हैं। महिला अधिकारी आरोपी से वरिष्ठ हैं।

डीएनए ने लांच किए हिंदी तथा उर्दू के चार नए एडिशन

डेली न्‍यूज ऐक्टिविस्‍ट ने नवरात्रि के पहले दिन धूमधाम के साथ चार नए एडिशन लांच किए हैं. इसमें तीन हिंदी तथा एक उर्दू का एडिशन शामिल है. इसके साथ ही डीएनए हिंदी के एडिशनों की कुल संख्‍या पांच हो गई है. डीएनए ने कानपुर, बनारस तथा फैजाबाद में हिंदी एडिशन लांच किया है.

इंडियन एक्सप्रेस की पत्रकारिता (दो) : इसका मकसद संतोष भारतीय की प्रतिष्ठा पर हमला करना था

: अगर कोई अ़खबार या संपादक किसी के ड्राइंगरूम में ताकने-झांकने लग जाए और गलत एवं काल्पनिक कहानियां प्रकाशित करना शुरू कर दे तो ऐसी पत्रकारिता को कायरतापूर्ण पत्रकारिता ही कहेंगे. हाल में इंडियन एक्सप्रेस ने एक स्टोरी प्रकाशित की थी, जिसका शीर्षक था, सीक्रेट लोकेशन. यह इस अ़खबार में प्रकाशित होने वाले नियमित कॉलम डेल्ही कॉन्फिडेंशियल का एक हिस्सा थी. इस स्टोरी को पढ़कर कोई आदमी यही निष्कर्ष निकालेगा कि वी के सिंह और अन्ना हजारे, जो पारदर्शिता के स्वघोषित योद्धा हैं, वे हमेशा गुप्त तरीके से मिलते हैं, क्योंकि खुले में मिलना उनके लिए असहज होता है और यह भी कि चौथी दुनिया पूर्व सेनाध्यक्ष वी के सिंह का बहुत बड़ा समर्थक है. नीचे वह पूरी स्टोरी प्रकाशित की जा रही है, जो इंडियन एक्सप्रेस ने छापी है :

इंडियन एक्सप्रेस की पत्रकारिता (एक) : उस रिपोर्टर को क्यों छोड़ दिया गया?

: क्या इस देश की सेना पर हथियारों के दलालों का कब्जा हो गया है? जो लोग देश के साथ गद्दारी करते हैं, उन्हें ईनाम और जो लोग जान देने के लिए तत्पर हैं, उनके साथ अन्याय!  क्या ऐसे ही देश चलेगा? आज हम भारतीय सेना के एक ऐसे राज से पर्दा उठाएंगे, जिसे जानकर आपको हैरानी होगी. आज हम सेना में छुपे गुनहगारों और मीडिया के नेक्सस का पर्दाफाश करेंगे. हम आपको बताएंगे किस तरह इंडियन एक्सप्रेस अ़खबार का एक रिपोर्टर शक के घेरे में आया और किस तरह वह छूट गया? :

आजतक से इस्‍तीफा देकर जी न्‍यूज जाएंगे सुमित अवस्‍थी

आजतक से खबर है कि सुमित अवस्‍थी ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे कई सालों से आजतक को अपनी सेवाएं दे रहे थे. सुमित जल्‍द ही अपनी नई पारी जी न्‍यूज के साथ शुरू करने जा रहे हैं. उन्‍हें यहां किस पद पर लाया जा रहा है इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है. वे आजतक …

”मेरे टीवी करियर के उस्‍ताद दीपक चौरसिया ही हैं”

शाम के तकरीबन ५ बजे थे …आफिस के फोन की घंटी फिर बजी और दूसरे छोर से दीपक भाई की आवाज़ आई, "बाबा एक बार फिर सोचो ….एक बार कोशिश करो …बात करो," मैं उस वक्त तय नहीं कर पाया लेकिन अगले दिन इरादा बदला और दीपक के कहने पर दिल्ली के निक्को होटल में आजतक के इनपुट एडिटर अजय उपाध्याय से मिला.. उपाध्यायजी ने कहा कि वो मेरी खोजी ख़बरें अखबार में पढ़ते रहते हैं पर उन्हें टीवी में स्क्रीन टेस्ट तो लेना होगा. मैं फिर पीछे हटा लेकिन दीपक…जी हां दीपक चौरसिया ने जोर दिया कि बाबा टेस्ट दे दो मुश्किल चीज़ नहीं है…दो-तीन दिन बाद कैमरामैन वाल्टर ने टेस्ट लिया और मेरी पीटीसी पास हो गयी. हफ्ते भर में मुझे आजतक में विशेष संवादाता का पत्र मिल गया. फिर स्टूडियो में दीपक चौरसिया और संजय बरागटा ने मुझे प्रिंट और टीवी का अंतर समझाया. ये बात अक्टूबर २००२ की है.

यशवंत ने 68 दिन में जेल को बना लिया जानेमन

भड़ास ब्लॉग और भड़ास4मीडिया वेबसाइट के संस्थापक एवं संचालक यशवंत सिंह ने एक मामले में 68 दिन जेल में जिए। डासना जेल में। यहां मैंने 'जिए' शब्द जानबूझकर इस्तेमाल किया है। यशवंतजी ने जेल में दिन काटे नहीं थे वरन इन दिनों को उन्होंने बड़े मौज से जिया और सदुपयोग भी किया। यह बात आप उनके जेल के संस्मरणों का दस्तावेज 'जानेमन जेल' पढ़कर बखूबी समझ सकेंगे।

दैनिक जागरण ने पहले गलत खबर प्रकाशित की, फिर छापा खंडन

दैनिक जागरण अक्‍सर ऐसी गलतियां करता है, जिससे किसी की छवि धूमिल होती है। इसी तरह की गड़बड़ी दैनिक जागरण, शाहजहांपुर ने की। पहले तो उसने गलत खबर प्रकाशित करके शाहजहांपुर के जिलाधिकारी राजमणि यादव का तबादला करा दिया, जबकि शासन की तरफ से इस तरह का कोई फैसला नहीं लिया गया था। गलत खबर छपने पर जब राजमणि यादव ने नाराजगी दबाई तब दैनिक जागरण के लोग आनाकानी करने लगे।

ये कैसा ब्रेकिंग न्यूज भाई… देखिए जी न्‍यूज की गलती

‘ब्रेकिंग न्यूज’ और ‘सबसे पहले इसी चैनल’ पर दिखाने और अपना टीआरपी बढाने के चक्कर में निजी चैनल वाले कितनी गलतियां करते हैं इसका सबूत यह तस्वीर है। आज रांची स्थित सीबीआई की अदालत ने जब चारा घोटाला मामले में लालू यादव सहित कई राजनेताओं की सजा के बिन्दुओं पर वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से फैसला सुनाया तो इसे ‘ब्रेकिंग न्यूज’ बनाने के चक्कर में कई चैनलों ने गलत न्यूज ब्रेक कर दिया।

भाजपाइयों के मीडिया प्रेम से कोई भी पीसी बन जाती है छोटी-मोटी नुक्‍कड़ सभा

लखनऊ : भाजपा राज्‍य मुख्‍यालय पर चैनल के पत्रकारों में हुए संघर्ष की घटना ने भाजपा के मीडिया प्रभारी और एक प्रवक्‍ता का मीडिया प्रेम भी खोल कर रख दिया है। मीडिया प्रभारी को बड़े नेताओं के सामने मीडिया पर अपनी पकड़ की ताकत दिखाने का इतना शौक है कि वे आंय-बांय-सांय अखबार और चैनल के पत्रकारों को नेवता देकर भीड़ जुटा लेते हैं। इसी मैनेजमेंट के बल पर पूर्वांचल के एक जिले से टिकट पाकर विधानसभा चुनाव भी हार चुके हैं। हां, जब भाजपा का कोई विशेष कार्यक्रम हो तो इसमें फिर चुनिंदा लोगों को ही आमंत्रित किया जाता है, खास कर स्‍वजातीय बंधुओं और बड़े संस्‍थानों के पत्रकारों को। 

लखनऊ में जनता से ज्‍यादा हो चुकी है पत्रकारों की आबादी!

कुकुरमुत्‍तों की तरह उग आए छोटे-मोटे चैनलों ने लखनऊ की पत्रकारिता की वाट लगा डाली है. किसी भी राजनीतिक दल की पीसी हो, ऐसे ऐसे चैनल और अखबार के कथित पत्रकार पहुंच जाते हैं, जिनके संस्‍थानों का कोई अस्तित्‍व नहीं दिखता है.

बड़े अखबारों ने बनाया ‘हिन्दी दिवस’ का मजाक, जनसंदेश टाइम्स ने खोली पोल

30 सितम्बर को हिन्दी पखवाड़े का समापन हो गया। इस दौरान हिन्दी की दशा-दिशा और दुर्दशा को लेकर जमकर कार्यक्रम हुये। इस ‘आंदोलन’ में सभी अखबारों ने भी कोई कोर-कसर नहीं छोड़ी। हर बार की तरह इस बार भी हिन्दी पखवाड़ा शान्ति के साथ बीत जाता लेकिन इसके बीतते बीतते जनसंदेश टाइम्स के इलाहाबाद संस्करण ने एक बड़ा सवाल उठा दिया, जिसको लेकर शहर के साहित्यकार एक बार फिर हिन्दी की चर्चा करने लगे हैं।

वेंकैया के पीसी में भिड़े इलेक्‍ट्रानिक मीडिया के पत्रकार, असली-नकली का संघर्ष

लखनऊ : भाजपा के मीडिया कांफ्रेंस रूम मंगलवार को उत्तर प्रदेश की विधानसभा की शक्ल अख्तियार करता नजर आया। असली नकली को लेकर इलेक्ट्रानिक मीडिया कर्मी आपस में ही भिड़ गए। यह सब हुआ भाजपा के पूर्व राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष वेंकैया नायडू के प्रेस कांफ्रेंस के दौरान। दोनों पक्ष एक दूसरे को नकली साबित करने में लगे थे। ऐसे में जो वाकई फट्टेबाज टाइप के पत्रकार थे उन्होंने कांफ्रेंस मे मिलने वाले नाश्ते का डिब्बा लिया और किनारे से बाहर जाने का रास्ता पकड़ा।

सुधाकर अदीब का नया रोमांस है शाने तारीख!

सुधाकर अदीब एक निहायत रोमैंटिक आदमी हैं। उन के रोमांस का दायरा, उस का फलक इतना बड़ा है कि बस पूछिए मत। वह कब कहां और किस से रोमांस कर बैठें यह वह भी नहीं जानते। इश्क जैसे उन की तबीयत में समाया हुआ है। आखिर वाज़िद अली शाह के शहर से वाबस्ता हैं इन दिनों। तो वह कभी पौराणिक कथाओं से इश्क फ़रमाते हैं तो कभी ऐतिहासिक कथाओं से। बताइए कि अभी बीते साल ही वह राम कथा से इश्क के लिए बदनाम हुए थे। बरास्ता सौमित्र। इसी पुस्तक मेले में उन के राम कथा से इश्क के किस्से कई लोग सुना गए थे। यकीन न हो तो उदयप्रताप सिंह जी गवाह हैं। गवाह हैं इस मोती महल के फूल-पत्ते, यह तंबू-कनात, यह मंच और माइक। और तमाम पुस्तक प्रेमी।

अवनीश ने हिंदुस्‍तान, शोभित ने जागरण तथा वंदना ने खबरें अभी तक ज्‍वाइन किया

डेली न्‍यूज ऐक्टिविस्‍ट, लखनऊ से खबर है कि अवनीश जायसवाल ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर रिपोर्टर के रूप में कार्यरत थे. अवनीश ने अपनी नई पारी हिंदुस्‍तान के साथ शुरू की है. उन्‍हें यहां भी रिपोर्टर बनाया गया है. अवनीश इसके पहले कुबेर टाइम्‍स, दैनिक जिम्‍मेदार समेत कई अखबारों को अपनी सेवाएं दे चुके हैं. अवनीश की गिनती अच्‍छे पत्रकारों में की जाती है. 

नईदुनिया एवं पत्रिका को न्‍यायालय की अवमानना की चेतावनी

इंदौर। इंदौर से प्रकाशित जागरण ग्रुप के नईदुनिया व उभरते प्रमुख दैनिक समाचार पत्र पत्रिका को मप्र उच्च न्यायालय की इंदौर खंडपीठ ने मौखिक तौर पर न्यायालय की अवमानना की चेतावनी देने की चर्चाओं इन दिनों प्रेस जगत में है।

होटल पर बवाल करने वाला एक पत्रकार अरेस्‍ट, दो फरार

अमृतसर : जंडियाला बाईपास स्थित होटल में तीन पत्रकारों ने शुक्रवार की रात मैनेजर को धमकाया. खाने में छूट देने को लेकर तीनों जमकर हुड़दंग मचाया. मैनेजर ने पुलिस को सूचना देकर मौके पर बुलाया. पुलिस ने लोकल केबल में काम करने वाले एक पत्रकार को अरेस्‍ट कर लिया है, जबकि दो अन्‍य निजी चैनल के पत्रकार भागने में सफल रहे. पुलिस दोनों की तलाश कर रही है.

भारतीय पत्रकार रविशंकर चीन में सम्‍मानित

बीजिंग : एक प्रमुख सरकारी अंग्रेजी दैनिक के साथ काम करने वाले एक भारतीय पत्रकार रवि शंकर को देश के आर्थिक और सामाजिक विकास में योगदान के लिए विदेशी विशेषज्ञ के नाते चीन के सर्वोच्च सम्मान ‘फ्रैंडशिप अवार्ड’ से सम्मानित किया गया है। चाइना डेली के अंतरराष्ट्रीय संस्करण के कार्यकारी संपादक शंकर 20 देशों के उन 50 विदेशी मामलों के विशेषज्ञ पत्रकारों में शामिल हैं जिन्हें कल यह सम्मान प्रदान किया गया।

नलिन मेहता बने हेडलाइंस टुडे के मैनेजिंग एडिटर, राहुल कंवल एडिटर एट लार्ज बनाए गए

टीवी टुडे समूह ने नलिन मेहता को अपने अंग्रेजी चैनल हेडलाइंस टुडे का मैनेजिंग एडिटर नियुक्‍त किया है. उन्‍होंने अपनी जिम्‍मेदारी संभाल ली है. वे दिल्‍ली में बैठेंगे. उन्‍हें राहुल कंवल की जगह लाया गया है. राहुल को प्रमोट करके एडिटर एट लार्ज बना दिया गया है. वे हेडलाइंस टुडे के साथ हिंदी चैनल आजतक की जिम्‍मेदारी भी एडिटर एट लार्ज के रूप में देखेंगे.

सुपरवाइजर ने पत्रकार को पीटा, एफआईआर दर्ज

पश्चिम बंगाल में मनरेगा योजना की रिपोर्टिग करने पहुंचे एक पत्रकार की जॉब सुपरवाइजर ने पिटाई कर दी। घायल पत्रकार ने नारायणपुर इंवेस्टीगेशन सेंटर में सुपरवाइजर के खिलाफ शिकायत दर्ज करायी है। आसनसोल जिले के आछड़ा ग्राम पंचायत में मनरेगा योजना के तहत काम चल रहा था। स्थानीय पत्रकार काजल मित्र ने जब कार्य की प्रगति के बारे में सुपरवाइजर बाबी मजि से पूछताछ शुरू की तो उसने पत्रकार को उसे पीट दिया। उसका कैमरा भी तोड़ दिया।

Hindustan Advertisement Scandal : Sharma files his counter-affidavit in Supreme Court

New Delhi : Mr.Mantoo Sharma, Respondent No.-02 in the Special Leave Petition (Criminal) No. 1603 of 2013, filed by the Shobhana Bhartia, the chairperson of M/S Hindustan Media Ventures Limited (New Delhi), has filed his counter-affidavit in 315 pages in the Supreme Court on Sept, 16 recently. Mr.Mantoo Sharma is the informant in the Munger Kotwali P.S Case No. 445/2011 in Bihar.

नवीन जोशी ने इस सूरमा पत्रकार को उल्‍टे पांव लौटा दिया था

लखनऊ। राजधानी में खुद को सूरमा पत्रकार समझने वालों की कोई कमी नहीं हैं। गलत सही सारे धंधे करते हैं, लेकिन दिखावा ऐसा करते हैं कि इनसे ईमानदार कोई नहीं है। यहां से प्रकाशित एक अंग्रेजी के हिंदी दैनिक संस्करण के एक ऐसे ही तथाकथित ईमानदार और डेस्क पर काम करने वाले एक अखबार कर्मी अपनी इसी स्‍वनिर्मित छवि की बदौलत नई पारी शुरू करने की तैयारी कर रहे हैं। हालांकि जब तक वो स्वतंत्र भारत और वायस आफ लखनऊ में रहे तब अपने काम की कोई छाप नहीं छोड़ नहीं पाए। लेकिन उन्हें लगता है कि वे ईमानदारी की बात लिखकर टॉप के तीन में से किसी अखबार में जाकर अपने फन का लोहा मनवा लेंगे।

एसओ को ओबलाइज करने के लिए दैनिक जागरण ने दो बार छाप दी खबर

दैनिक जागरण में अधिकारियों को ओबलाइज करने का धंधा पुराना है. मैनेजमेंट और पत्रकार अपने उल्‍टे सीधे काम करवाने के लिए अधिकारियों की छोटी-छोटी उपलब्धियों को तो तानकर छापते हैं, लेकिन कोई पीडि़त ऐसे लोगों के खिलाफ खबरें देता है तो उस खबरों को कूड़ेदान में फेंक दिया जाता है. जागरण में सबसे ज्‍यादा पुलिसवालों को ओबलाइज किया जाता है ताकि समय आने पर उनका गलत इस्‍तेमाल किया जा सके. ऐसा ही मामला शाहजहांपुर में सामने आया है.

फोटो जर्नलिस्‍ट गैंगरेप के एक आरोपी को लेकर खोया-पाया का खेल

मुंबई : मुंबई में एक महिला फोटो पत्रकार के साथ गैंगरेप के पांच आरोपियों में से एक के बारे में बताया गया कि वह 'लापता' है, लेकिन बाद में ठाणे के अतिरिक्त महानिदेशक (कारागार) ने बताया कि वह जेल में है। सिराज रहमान खान नामक इस आरोपी को आज कोर्ट में पेश किया जाना था, लेकिन उसे पेश नहीं किया जा सका और मामला शुक्रवार तक के लिए टल गया।

खबर छपने से नाराज विधायक समर्थकों ने राष्‍ट्रीय सहारा, पटना के संपादक को पीटा

पटना से खबर है कि राष्‍ट्रीय सहारा के संपादक दयाशंकर राय के साथ जदयू विधायक सतीश कुमार यादव के समर्थकों ने मारपीट की है. समर्थक एक अखबार में विधायक को अपराधियों का संरक्षक बताए जाने से नाराज थे. संपादक की परेशानी यह थी कि वे अपना बचाव भी नहीं कर सकते थे, क्‍योंकि वे उसी विधायक के आवास में रहते थे, जिसके खिलाफ उनके अखबार में खबर प्रकाशित हुई थी. इस मामले की जांच करने नोएडा से एडमिनिस्‍ट्रेशन हेड सीबी सिंह जाने वाले हैं. 2 अक्‍टूबर को समूह संपादक रणविजय सिंह के भी जाने की योजना है.

एडीजी लॉ एंड आर्डर अरुण कुमार का तबादला, मुकुल गोयल को जिम्‍मेदारी

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर अरुण कुमार का तबादला कर दिया गया है। उन्हें पुलिस हेडक्वार्टर से अटैच कर दिया गया है। अरुण कुमार की जगह मुकुल गोयल को नया एडीजी लॉ एंड आर्डर बनाया गया है। इससे पहले मुकुल जीआरपी में तैनात थे।

जम्‍मू में पुलिस और सेना कैंप पर आतंकी हमला, लेफ्टिनेंट कर्नल समेत 12 की मौत

श्रीनगर : जम्मू के कठुआ और सांबा में आतंकियों ने दोहरा हमला कर पुलिसकर्मियों और सैनिकों समेत 12 लोगों की हत्या कर दी है। सूत्रों के मुताबिक मारे गए लोगों में सेना का एक लेफ्टिनेंट कर्नल भी शामिल है। इन हमलों में कई लोग घायल भी हुए हैं, जिनमें सेना के कमांडिंग ऑफिसर भी शामिल हैं। सेना ने जवाबी कार्रवाई जारी रखी है। सेना की वर्दी पहनकर आए चार में से दो आतंकी भी मारे गए हैं।

भाजपा के इस प्रवक्‍ता का जवाब नहीं, पत्रकार मित्रों से कराते हैं विरोधियों की हजामत

लखनऊ : कहते हैं कि कोई मरे, कोई मौजै गावें। अखबारों में छपने की भूख और टीवी चैनलों पर दिखने की अतृप्त लालसा ने उत्तर प्रदेश भाजपा के एक प्रदेश प्रवक्ता को इस कदर दीवाना बना दिया है कि उनके अपने गाडफादर तो मेडिकल कालेज में डेंगू से जूझ रहे हैं, लेकिन यह प्रवक्ता महोदय कलफ लगा कुर्ता और पायजामा पहनकर भाजपा मुख्‍यालय में आकर डंट जाते हैं। जबकि गॉडफादर की बदौलत ही उन्‍होंने नाम और दाम दोनों बनाया।

वीरेंद्र यादव का यादव हो जाना!

: लाभ (सम्मान) जब थूकता है तो उसे हथेली पर लेना पड़ता है -परसाई : बहुत पहले यह पढ़ा था, अब साक्षात देख रहा हूं। आप भी ज़रा इस का ज़ायका और ज़ायज़ा दोनों लेना चाहें तो गौर फ़रमाइए। और आनंद लीजिए परसाई के इस कथन के आलोक में।

दीपक चौरसिया चबा जाएगा विनोद कापड़ी को! इंडिया न्यूज की टीआरपी में फिर उछाल

दीपक चौरसिया ने हिंदी टीवी न्यूज इंडस्ट्री के ठेकेदार संपादकों को धूल चटा दिया है. जो संपादक लोग टीआरपी को माई-बाप बताकर इसके लिए दिन भर लोटते-फेंकते-लपेटते रहते थे, अब उन्हें उन्हीं की भाषा में जवाब दिया है दीपक चौरसिया ने. इस हफ्ते फिर इंडिया न्यूज की टीआरपी बढ़ गई है. अब यह न्यूज चैनल इंडिया टीवी के गर्दन तक पहुंच गया है. हिंदी न्यूज इंडस्ट्री के विश्लेषकों का कहना है कि इंडिया न्यूज और किसी को नहीं बल्कि इंडिया टीवी का नंबर दो का स्थान लेगा.

यूपी में लांच होगा नेटवर्क10, मुकुल त्रिपाठी एवं ज्ञान स्‍वामी समेत कई जुड़े

देहरादून से संचालित होने वाला न्‍यूज चैनल नेटवर्क10 जल्‍द ही यूपी में भी अपना पांव पसारने जा रहा है. लोकसभा चुनाव से पहले नेटवर्क10 को यूपी में लांच करने की तैयारी है. गोमती नगर में चैनल का ऑफिस बनकर तैयार है. चैनल का स्‍टेट हेड मुकुल त्रिपाठी को बनाया गया है. मुकुल इसके पहले अमर उजाला और लोकमत में लंबे समय तक कार्य कर चुके हैं.

सफेदपोश नटवरलाल की ढाल और दुधारू गाय बना स्वतंत्र भारत

लखनऊ। गौरवशाली अतीत वाला दैनिक समाचार पत्र स्वतंत्र भारत सफेदपोश नटरवर लाल केके श्रीवास्तव के लिए दुधारू गाय बन गया है। स्वतंत्र भारत के सेन्ट्रल बैंक का खाता नम्बर 1233701786 के स्टेटमेंट से यही संकेत मिल रहे हैं। खाते में प्रतिमाह लगभग तीस लाख रुपए का ट्रांजेक्शन हो रहा है। इसके बावजूद जहां सरकारी और गैरसरकारी संस्थाओं करोड़ों रुपए का ऋण बकाया है वहीं स्वतंत्र भारत के कर्मचारियों को छह माह से वेतन नहीं मिला है। कर्मचारियों की बदहाली पर मीडिया के स्वंयभू नेता और सरकार चुप्पी साधे हुए हैं।

राष्‍ट्रीय सहारा में प्रबंधन ने कई लोगों को इधर-उधर किया

राष्‍ट्रीय सहारा, नोएडा से खबर आ रही है कि समूह में बड़े पैमाने पर तबादले किए जा रहे हैं. कई यूनिटों में कार्यरत लोगों को इधर से उधर किया जा रहा है. सूत्र बताते हैं कि यह दबाव बनाने के लिए किए जा रहा है ताकि कर्मचारी सेलरी बढ़ाने की मांग न करें बल्कि अपनी नौकरी की चिंता करें. पिछले दो सालों से राष्‍ट्रीय सहारा के कर्मियों को इंक्रीमेंट नहीं मिला है. पहली खबर है कि नोएडा में तैनात इंजीनियर वीरेंद्र सिंह का तबादला पटना किया गया है. वे पटना से ही नोएडा बुलाए गए थे.

राष्‍ट्रीय सहारा में सिफारिश से तीन को मिला इंक्रीमेंट, अन्‍य नाराज

सहारा समूह में प्रमोशन और इंक्रीमेंट पाने के लिए मेहतन करने की नहीं बल्कि किसी बड़े आदमी की सिफारिश कराने की जरूरत हैं. अगर सिफारिश ठीक ठाक आदमी ने कर दी तो यहां एक झटके में दस हजार रुपए तक का इंक्रीमेंट मिल सकता है. सूत्र बता रहे हैं कि कुछ दिन पहले तीन लोगों ने इसी जुगाड़ तंत्र का सहारा लेते हुए अपना इंक्रीमेंट तथा प्रमोशन करवाया है. इससे अन्‍य कर्मचारी प्रबंधन से नाराज हैं.

मतवाले अब जेल चले….

मुजफ्फरनगर के दंगे को लेकर जिन नेताओं पर आरोप है, वे सब शहीदाना अंदाज में नजर आ रहे हैं। गिरफ्तारी देने के लिए वे शायद इसी अंदाज में निकल रहे है, जैसे कोई रणबांकुरा युद्ध जीतने के बाद निकलता है। भाजपा विधायक संगीत सोम विधानसभा से इस हनक से चले, जैसे कोई बहुत बड़ा युद्ध जीत कर आये हो। स्वतंत्रता संग्राम आन्दोलन में आन्दोलनकारियों को माला पहना कर गिरफ्तारी के लिए विदा किया जाता था, पीछे पीछे नारा लगता था… “कहां चले भाई कहां चले, मतवाले अब जेल चले।” 

दंगों के व्यापारी!

: देश पर वोट बैंक भारी : जी हां, लगभग सभी दल, सामाजिक तनाव के कारोबारी हैं. धर्म, जाति और गोत्र के रूप में ‘वोट बैंक’ विकसित करना, इसी राजनीति की कड़ी है. इसका ही प्रतिफल है, दंगा, जातीय-क्षेत्रीय संघर्ष. आप लगातार धर्म, जाति, द्वेष, घृणा, पक्षपात, ‘फेवर’ की राजनीति-रणनीति पर चलेंगे, तो समाज में नफरत, घृणा, द्वेष की ही फसल लगायेंगे. दंगे, जातीय संहार, आपसी कटुता, वैमनस्य तो इसी फसल की स्वाभाविक उपज हैं.

राजेश वर्मा के परिवार के एक सदस्‍य को सरकार देगी नौकरी

मुजफ्फरनगर में हिंसा के दौरान मारे गए आईबीएन7 के पत्रकार राजेश वर्मा के एक परिजन को राज्‍य सरकार ने नौकरी देने की घोषणा की है. मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव रविवार को दंगा प्रभावित जिले मुजफ्फरनगर के दौरे पर मृतक पत्रकार के घर जाकर उनके परिजनों से मुलाकात की. उन्‍हें ढांसस बंधाया. मुख्‍यमंत्री ने कहा कि पत्रकार राजेश वर्मा के एक परिजन को सरकार नौकरी देगी. इसके अलावा और भी जो मदद जरूरी होगी, वो सरकार की तरफ से दी जाएगी.

गए थे पत्रकारों को सम्‍मानित करने, खुद के कदम लड़खड़ा गए

शाहजहांपुर : उप्र श्रमजीवी पत्रकार यूनियन द्वारा हिन्दी दिवस पर आयोजित एक कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश के सलाहकार राज्यमंत्री राजनैतिक पेंशन विभाग हनुमान प्रसाद सिंह को मुख्य अतिथि बनाया गया। मंत्री महोदय 13 सितम्बर को ही शाहजहांपुर आ गए यूनियन के पदाधिकारियों ने उनका बड़ी गर्म जोशी से स्वागत किया। 14 सितम्बर को शहर के एक होटल में हिन्दी दिवस पर गोष्ठी और साहित्यकारों को सम्मानित करने के बाद यूनियन के पदाधिकारियों द्वारा पत्रकारों के लिए भारी मात्रा में लालपरी का इंतजाम किया गया था। पत्रकार लालपरी की बहती नदी में पत्रकार गोते लगा रहे थे।

दिग्गज पत्रकारों को ठगा सफेदपोश नटवर लाल ने

लखनऊ। भगवान राम का 14 वर्ष में वनवास पूरा हो गया था, लेकिन स्वतंत्र भारत के कर्मचारियों का वनवास अभी भी जारी है। सफेदपोश नटवरलाल स्वतंत्र भारत के मालिक के.के. श्रीवास्तव ने अपने जालसाजी और राजनीतिक पहुंच के बल पर बड़े-बड़े दिग्गज पत्रकारों को छला है। वर्ष 1998 में स्वतंत्र भारत में तालाबंदी से सड़क पर आए सैकड़ों कर्मचारी आज भी न्याय के लिए लड़ रहे हैं।

जनसंदेश टाइम्‍स, मिर्जापुर का ब्‍यूरोचीफ नीरज सिंह हत्‍या में नामजद

जनसंदेश टाइम्‍स, मिर्जापुर से खबर है कि अखबार के ब्‍यूरोचीफ नीरज सिंह के खिलाफ पुलिस ने हत्‍या तथा हत्‍या की साजिश रचने के आरोप में मामला दर्ज किया है. नीरज पहले से भी विवादित रहे हैं. इनकी नियुक्ति के समय भी पैसे लेकर अखबार से जोड़ने के आरोप लगे थे. बताया जा रहा है कि मिर्जापुर में मनीष सिंह उर्फ चिंटू सिंह नामक शख्‍स की हत्‍या कर दी गई थी. मनीष के परिजनों ने इसमें छह लोगों को नामजद कराया है.

जी, नवभारत टाइम्‍स अपने दूध वाले के यहां पढ़ता हूं

लखनऊ में नवभारत टाइम्‍स को लांच हुए लगभग एक महीने से ज्‍यादा हो चुके हैं. पर यह अखबार आम पाठकों के बीच अपनी कोई खास जगह नहीं बना पाया है. राजनीति और क्राइम की खबरों में विशेष दिलचस्‍पी दिखाने वाले यूपी की धरती पर दिल्‍ली के कूड़ेदान स्‍टाइल का अखबार बहुत पसंद नहीं किया जा रहा है. फिर भी इसके एक 'खास' प्रजाति के पत्रकार अपना सीना ताने घूमते दिखते हैं. वाकया विधानसभा प्रेस रूम का है. नाम के अंत में 'शुकुल' लगाने वाले सज्‍जन विधानसभा सत्र का पास बनवाने के लिए पहुंचे थे.

बेटी को फ्री में पढ़वा रहे हैं पूर्व संपादक, स्‍कूल ने की प्रबंधन से शिकायत

एक दौर में वे देहरादून में हिंदी के चौथे नम्‍बर के अखबार के संपादक हुआ करते थे. बाद में संपादक बनाकर बनारस भेजे गए. वहां भी प्रबंधन की उम्‍मीदों पर खरे नहीं उतरे तो नोएडा बुला लिए गए. इन पूर्व संपादक महोदय की शिकायत देहरादून के एक जाने माने स्‍कूल ने अखबार प्रबंधन से की है कि यह अपनी बेटी को लंबे अर्से से दबाव डालकर, डरा धमकाकर फ्री में पढ़वा रहे हैं. प्रबंधन ने मामले की जांच कराया और तय पाया कि स्‍कूल की शिकायत सही है.

अंग्रेजी के बढ़ते वर्चस्व ने हिन्दीभाषियों की सोच को प्रभावित किया है

चन्दौली : जनहित भारतीय पत्रकार एसोसिएशन के तत्वाधान में हिन्दी दिवस पर धानापुर कस्बा स्थित शहीद पार्क में संगोष्ठी का आयोजन किया गया। इसमें हिन्दी भाषा के महत्व पर चर्चा की गई। पत्रकारों ने कहा कि हिन्दी भाषा हमें भारतीय होने का गर्व महसूस कराती है। देश में सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा हिन्‍दी राष्ट्रीय एकीकरण की सबसे शक्तिशाली माध्यम है।

अमर उजाला से हरीश का इस्‍तीफा, महेंद्र प्रजापति जिया न्‍यूज से जुड़े

अमर उजाला, लखनऊ से खबर है कि हरीश तिवारी ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे ब्‍यूरो में कार्यरत थे. कुछ समय पहले ही उन्‍होंने लोकल से प्रमोट करके ब्‍यूरो में भेजा गया था. हरीश अपनी नई पारी कहां से शुरू करेंगे इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है. माना जा रहा है कि संपादकीय की मौजूदा परिस्थितियों में वे अपने को फिट नहीं पा रहे थे.

दैनिक जागरण का पत्रकार मोटरसाइकिल चोरी में उत्‍तराखंड पुलिस के हत्‍थे चढ़ा

पीलीभीत से खबर है कि गजरौला से दैनिक जागरण के लिए रिपोर्टिंग करने वाले महेंद्र कुमार को उत्‍तराखंड पुलिस अरेस्‍ट करके ले गई है. महेंद्र पर मोटरसाइकिलों की चोरी करने का आरोप है. बताया जा रहा है कि कुछ आरोपियों के पकड़े जाने के बाद उत्‍तराखंड की हल्‍द्वानी पुलिस के हाथ महेंद्र तक पहुंचे हैं. पुलिस महेंद्र को पकड़कर उत्‍तराखंड ले गई है। उनसे पूछताछ के बाद आगे की कानूनी कार्रवाई की जाएगी. हालांकि हर बार की तरह दैनिक जागरण महेंद्र को अपना पत्रकार मानने से भी इनकार कर रहा है.

उत्‍पीड़न के खिलाफ झांसी के पत्रकारों ने डीएम को ज्ञापन सौंपा

झाँसी में पत्रकारों के लगातार उत्पीड़न की घटनाओं के विरोध में इलेक्ट्रानिक मीडिया क्लब ने डीएम को ज्ञापन देकर कार्रवाई की मांग की है। इसके साथ ही कई अन्य पत्रकार संगठनों के लोग भी जिलाधिकारी कार्यालय ज्ञापन देने पहुंचे। ज्ञापन में जिलाधिकारी से अनुरोध किया गया है कि इलेक्ट्रानिक और प्रिंट मीडिया के पत्रकार महीने से पुलिस और प्रशासन की मनमानी कार्रवाई से परेशान हैं।

रजनीश ने हिंदुस्‍तान तथा रामानुज ने जनसंदेश टाइम्‍स ज्‍वाइन किया

दैनिक जागरण, लखनऊ से खबर है कि रजनीश रस्‍तोगी ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे मेडिकल बीट कवर करते थे. रजनीश ने अपनी नई पारी लखनऊ में ही हिंदुस्‍तान के साथ शुरू की है. उन्‍हें यहां भी मेडिकल बीट की जिम्‍मेदारी सौंपी गई है. हिंदुस्‍तान के साथ यह उनकी दूसरी पारी है. हिंदुस्‍तान से इस्‍तीफा देकर ही वे दैनिक जागरण पहुंचे थे.

स्‍वतंत्र भारत : मालिक लूटे मजा, कर्मचारी काटे सजा

लखनऊ। एग्रो पेपर मोल्डस लिमिटेड जगदीशपुर, एग्रो फाइबर जगदीशपुर, एग्रो पेपर एंड पल्प, एग्रो फाइनेंस एवं प्राइवेट लिमिटेड की स्थापना धोखाधड़ी और भ्रष्टाचार की नींव पर हुई थी। यही वजह है की चारों कम्पनियां दम तोड़ चुकी है। जहां इन कम्पनियों पर सरकारी और गैर सरकारी वित्तीय संस्थाओं का करोड़ों रुपए बकाया है वहीं निवेशकों का पैसा भी डूब गया है। जबकि इन कम्पनियों का मालिक विलासतापूर्ण जीवन जी रहा है।

हिंदुस्‍तान, देहरादून से मनीष देंगे इस्‍तीफा, तीन का तबादला, एक नोटिस पर

हिंदुस्‍तान, देहरादून से खबर है कि मनीष भट्ट इस्‍तीफा देकर अमर उजाला जा रहे हैं. वे यहां पर सिटी रिपोर्टर के पद पर कार्यरत थे. अमर उजाला में उन्‍हें सीनियर रिपोर्टर बनाया जा रहा है. मनीष पिछले पांच सालों से हिंदुस्‍तान को अपनी सेवाएं दे रहे थे. मनीष के जाने से हिंदुस्‍तान में मैन पॉवर की कमी हो गई है. इसके पहले प्रबंधन ने यहां कार्यरत तीन लोगों का तबादला कर दिया था, जबकि एक पत्रकार नोटिस पीरियड पर चल रहे हैं.

ब्रजेंद्र निर्मल एवं नितिन अग्रवाल ने कैनविज टाइम्‍स ज्‍वाइन किया

बरेली से खबर है कि हिंदुस्‍तान से इस्‍तीफा देने वाले वरिष्‍ठ पत्रकार ब्रजेंद्र निर्मल ने अपनी नई पारी कैनविज टाइम्‍स के साथ शुरू की है. उन्‍हें वरिष्‍ठ पद पर लाया गया है. सूत्रों का कहना है कि ब्रजेंद्र को अखबार लांच करने की जिम्‍मेदारी दी गई है. वे इसके पहले बरेली में अमर उजाला तथा हिंदुस्‍तान को भी अपनी सेवाएं दे चुके हैं. पिछले दिनों उन्‍हें हिंदुस्‍तान में स्‍थानीय संपादक कुमार अभिमन्‍यु के साथ हुए विवाद के बाद इस्‍तीफा देना पड़ा था. उन पर संपादक पर कुर्सी तानने का आरोप लगा था. 

समरेंद्र रावत न्‍यूज एक्‍सप्रेस तथा हरिदत्‍त पंजाब की शक्ति से जुड़े

समरेंद्र रावत ने न्‍यूज एक्‍सप्रेस के साथ अपनी नई पारी शुरू की है. उन्‍हें ओडिसा में न्‍यूज एक्‍सप्रेस का हेड बनाया गया है. वे ओडि़सा में चैनल की पूरी जिम्‍मेदारी संभालेंगे. इसके पहले प्रबंधन ने चैनल के विस्‍तार के लिए यूपी में योगेश मिश्र, बिहार में विकास झा, झारखंड में दीपक अंबष्‍ठ को अपने साथ जोड़ चुकी है. समरेंद्र ओडिसा के जाने माने टीवी पत्रकार हैं.

डीएनए के साथ चार लोगों ने शुरू की नई पारी

लखनऊ से प्रकाशित डीएनए से चार लोगों ने अपनी नई पारी शुरू की है. चारों को रिपोर्टिंग की जिम्‍मेदारी सौंपी गई है. श्रीटाइम्‍स, लखनऊ से इस्‍तीफा दे कर वीर सिंह यादव ने डेली न्‍यूज ऐक्टिविस्‍ट (डीएनए) के साथ अपनी नई पारी शुरू की है. इन्‍हें रिपोर्टर बनाया गया है. वीर इसके पहले दैनिक प्रभात को भी अपनी सेवाएं दे चुके हैं.

हिंदुस्‍तान, बरेली से एचआर हेड मोहित राजपूत एवं सर्कुलेशन हेड पराग शर्मा का इस्‍तीफा

हिंदुस्‍तान, बरेली से खबर है कि मोहित गुप्‍ता ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे एचआर हेड के पद पर कार्यरत थे. मोहित लंबे समय से हिंदुस्‍तान को अपनी सेवाएं दे रहे थे. इन्‍होंने अपनी नई पारी टीवीएस के साथ रुद्रपुर से की है. इन्‍हें यहां भी एचआर में वरिष्‍ठ पद पर जिम्‍मेदारी सौंपी गई है. मोहित हिंदुस्‍तान से पहले भी कई बड़े संस्‍थानों में कार्यरत रह चुके हैं.

<