चैनल वन वाले कानपुर मंडल में कइयों से लाखों लेकर चंपत

सेवा में, श्रीमान् सम्पादक, भडास 4 मीडिया डाट काम। विषय- बेरोजगारों को पत्रकार बनाने का झासा देकर कानपुर मण्डल से चैनल वन न्यूज के मार्केटिंग हेड ने ठगे लोगों से लाखों रुपये। महोदय, विधानसभा चुनाव के दौरान कानपुर में लान्च हुआ चैनल वन न्यूज ने कानपुर नगर व मण्डल के अन्य जनपदों व तहसील स्तर के लोगों से आई.डी. देकर रुपये वसूलने व हफ्ते के भीतर अथारिटी लेटर व आई.कार्ड. देने का वादा कर किसी से नगद किसी से चेक किसी से डी.डी. लेकर लाखों रुपये अपनी जेब मोटी कर चले गये बल्कि चुनाव कवरेज करने के दौरान आई ओ.वी. वैन का डीजल व स्टाफ का खर्चा भी इन बेरोजगारों को अपनी जेब से करना पड़ा। चुनाव खत्म होने के बाद समय गुजरता गया।

रुपये देने वालों की धड़कने बढती गयी क्योंकि चुनाव के बाद चैनल पहले डेन नेटवर्क पर से गायब हुआ, फिर कुछ समय बाद रिलान्यस बिग टीवी के प्लेटफार्म न. 428 से गायब हो गया। नोएडा आफिस में फोन कर बताया कि आपका चैनल कानपुर में कहीं दिख नही रहा है, तब वहां से बताया गया कि आप को मुझे प्रति माह दो लाख रुपये दो तो मैं चैनल चालू करूंगा जबकि हम लोगों द्वारा चुनाव कवरेज व अन्य समाचारों को कवर करने में जो रूपया खर्च हुआ उसका कोई भुगतान न तो पत्रकारों को मिला न ही कैमरामैन को मिला।

फिर लोगों ने सोचा कि मुझे बेवकूफ बना कर इन लोगों ने चारसौबीसी कर रूपये ऐठ लिये क्योंकि फोन करने पर चैनल का कोई भी अधिकारी या कार्यकर्ता सही जबाव नहीं देता है। ज्यादा फोन करने पर फोन काटकर स्विच आफ कर देता है। इस तरह की गयी ठगी से रूपये देने वालों के अन्दर से इलेक्ट्रानिक मीडिया से विश्वास हट गया है। मैं भडास मीडिया के माघ्यम से सभी नेशनल व रीजनल चैनल मालिकों से गुजारिश करता हूं कि इस तरह से गरीब बेरोजगारों की जिन्दगी से खिलवाड़ न करे। चैनल वन के ब्यूरो चीफ कानपुर मण्डल का नाम है रेहान अहमद सिद्की और मार्केटिंग हेड का नाम है अवनी सिन्हा।

कानपुर से एक पत्रकार द्वारा भेजे गए पत्र पर आधारित.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *