ठीक किया गोपाल राय ने, अन्ना का भड़कना अनुचित

खबर है कि जन लोकपाल पर अनशन कर रहे अन्ना हजारे के रालेगण सिद्धि में उनके पूर्व और मौजूदा सहयोगियों में टकराव की स्थिति पैदा हो गई है. विवाद के बाद 'आप' नेता गोपाल राय ने रालेगण छोड़ दिया है. दरअसल, अन्ना को समर्थन देने के लिए पूर्व सेना प्रमुख जनरल वीके सिंह आज रालेगण पहुंचे. जब वीके सिंह ने नाम लिए बिना 'आप' नेताओें पर टिप्पणी की तो गोपाल राय ने ऐतराज जताया. जनरल सिंह ने कहा था कि कुछ लोगों ने अन्ना के आंदोलन का फायदा उठाया और फिर अन्ना का साथ छोड़ गए.

अन्ना के साथ ही अनशन कर रहे गोपाल राय इससे नाराज हो गए. जनरल सिंह और गोपाल राय के बीच कहासुनी को देखकर अन्ना ने दखल दिया और वह गोपाल राय पर भड़क गए. उन्होंने गोपाल राय से कहा कि अगर वह इस तरह से विवाद खड़ा करना चाहते हैं तो रालेगण से चले जाएं. इसके बाद गोपाल राय ने रालेगण छोड़ दिया. इस प्रकरण पर सोशल मीडिया में बहस तेज हो गई है.

ज्यादातर लोग अन्ना के भड़कने से आहत हैं और उनके रवैये, शार्ट टैंपर्ड रुख को उचित नहीं बता रहे हैं. गोपाल राय के आपत्ति जताने को उचित माना जा रहा है क्योंकि केजरीवाल और उनकी टीम ने पहले ही साफ कर दिया था कि अगर सरकार हड़ताल, अनशन आदि से नहीं मान रही तो सिस्टम के भीतर जाकर सरकार को घुटने टेकने को मजबूर करना होगा. कुल मिलाकर यह तय था कि अन्ना बाहर से और केजरीवाल की टीम सिस्टम के भीतर से लड़ाई लड़ेगी. ऐसे में वीके सिंह जैसे लोग अगर अन्ना के आंदोलन का फायदा उठाने का आरोप केजरीवाल और उनकी टीम पर लगाते हैं तो यह समझ से परे है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *