डिजिटलाइजेशन के बाद भी ऑपरेटरों को कैरेज फीस देंगे समाचार चैनल

 

समाचार प्रसारकों ने कहा कि केबल सेवाओं के डिजिटलीकरण के बाद वह उपयुक्त शुल्क (कैरेज फी) देने को तैयार हैं. दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) प्रमुख राहुल खुल्लर की अध्यक्षता में हुई बैठक में इस बात पर सहमति बनी थी. कैरेज शुल्क वह राशि है जो प्रसारक मल्टी सिस्टम आपरेटरों (एमएसओ) तथा स्थानीय केबल आपरेटरों (एलसीओ) को अपना चैनल दर्शकों को दिखाने के लिये देते हैं. इस मुद्दे को लेकर एमसओ तथा एलसीओ के बीच विवाद था.
 
समाचार प्रसारकों ने कहा कि 11 अक्तूबर को ट्राई प्रमुख की अध्यक्षता में हुई बैठक में इस मुद्दे पर चर्चा की गयी थी. बैठक में एमएसओ एलायंस तथा प्रसारकों के प्रतिनिधि शामिल हुए थे. प्रसारकों के अनुसार खुल्लर ने प्रसारकों तथा एमएसओ से इस प्रकार का समझौता करने को कहा था. इसके मद्देनजर समाचार चैनला यथोचित राशि का भुगतान करने पर रजामंदी जतायी है. (समय)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *