तिहाड़ में वीआईपी सुविधा का मजा उठा रहा है कांडा!

नई दिल्ली। क्या गीतिका शर्मा सुसाइड केस के अभियुक्त गोपाल कांडा को तिहाड़ जेल में वीआईपी सुविधाएं दी जा रही हैं? तिहाड़ जेल के सूत्रों ने ऐसी ही जानकारी दी है। उनके मुताबिक, कांडा कई दफा जेलर के ऑफिस में चाय पीते और आराम करते देखे गए हैं। जिस वक्त सभी कैदियों की मुलाकात का वक्त खत्म हो जाता है, उस समय के बाद भी जेल के कुछ अफसर नियमों को ताक पर रखकर परिजनों से उनकी मुलाकात करा रहे हैं। आम कैदियों की परिजनों से भेंट जहां मुलाकात कक्ष में कराई जाती है, वहीं कांडा जेल की ड्योढ़ी पर जेलर के ऑफिस में अपने परिजनों से मिलते हैं। बताया जाता है कि इसकी फुटेज वहां लगे सीसीटीवी कैमरे में भी कैद है।

सूत्रों ने यह भी बताया कि कांडा को सोने के लिए अलग से एक बेड भी दिया गया है, जबकि जेल में बेड की सुविधा केवल 60 साल या इससे अधिक उम्र के कैदियों को ही दी जाती है। इसके अलावा कांडा की 'सेवा' करने के लिए उनके सेल में अलग से दो विचाराधीन कैदियों को रखा गया है। ये दोनों कैदी कांडा की हर फरमाइश पूरी करते हैं। कांडा के सेल में ही खाना लाया जाता है और उनके नहाने के लिए गर्म पानी की भी वहां सुविधा है। हालांकि, तिहाड़ जेल के प्रवक्ता सुनील कुमार ने इन सभी आरोपों का खंडन किया है। प्रवक्ता का कहना है कि गोपाल कांडा को भी उसी तरह से रखा जा रहा है जैसे जेल में अन्य विचाराधीन कैदियों को रखा जाता है। उन्हें अलग से कोई सुविधा नहीं दी जा रही है। प्रवक्ता का कहना है कि कांडा के बारे में लगाए गए ये सारे आरोप गलत हैं।

बता दें कि कांडा को उनकी कंपनी में एयर होस्टेस रही गीतिका शर्मा के सुसाइड मामले में पिछले साल 18 अगस्त को अशोक विहार पुलिस ने गिरफ्तार किया था। 28 अगस्त को कांडा को रोहिणी जेल भेज दिया गया था। शुरुआत में कांडा को रोहिणी जेल के उस सेल में रखा गया था, जहां आमतौर पर आतंकवादियों या फिर अन्य खतरनाक कैदियों को रखा जाता है। 29 अगस्त को कांडा का बीपी हाई होने पर उन्हें वहां के अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया था। बाद में कांडा को तिहाड़ की जेल नंबर-1 में शिफ्ट कर दिया गया था। अब पता लगा है कि यहां कांडा को जेल के कुछ अधिकारी वीआईपी सुविधाएं दे रहे हैं। जेल के बाहर की तमाम सुविधाएं तो वह कांडा को नहीं दे सकते, मगर इसके अलावा अन्य सभी पूरी कर सकने वाली सेवाएं जेल में उन्हें मुहैया कराई जा रही हैं।

हरियाणा के पूर्व मंत्री कांडा चूंकि अभी भी विधायक हैं, इस वजह से उनकी सुरक्षा के भी पूरे इंतजाम हैं। उनके सेल के आसपास तमिलनाडु स्पेशल पुलिस (टीएसपी) के जवानों को तैनात किया गया है, ताकि अन्य कोई कैदी उन्हें कोई नुकसान न पहुंचा सके। सूत्रों का कहना है कि कई बार नींद न आने की वजह से कांडा नींद की गोली खाकर सोते हैं। उनके स्वास्थ्य का भी पूरा ख्याल रखा जा रहा है। पिछले दिनों पड़ी कड़ाके की सर्दी से बचाने के लिए उन्हें गद्दा और कई कंबल मुहैया कराए गए थे। (नभाटा)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *