दिल्‍ली में हुए हादसे में जनवाणी के पत्रकार नितिन समेत चार की मौत

: मृतकों में पत्रकार के पिता-भाई भी शामिल : दिल्‍ली में शुक्रवार को हुए एक सड़क हादसे में मेरठ से प्रकाशित दैनिक जनवाणी के युवा पत्रकार, उसके पिता व भाई समेत चार लोगों की मौत हो गई. एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत ने सभी को झकझोर दिया है. मेरठ के सरूरपुर थाना के भूनी गांव के रहने वाले राजबीर त्‍यागी (50 वर्ष) अपने बड़े बेटे एवं जनवाणी के पत्रकार नितिन त्‍यागी उर्फ मोनू (26 वर्ष) एवं छोटे बेटे राजदीप उर्फ सोनू (24 वर्ष) तथा गांव के रहने वाले कार चालक जॉनी के साथ दिल्‍ली स्थित बुराड़ी अपने भांजे की शादी में भात देने गए थे.

 

भात देकर चारों लोग शाम को सेंट्रो कार से वापस मेरठ आ रहे थे. इसी बीच बुराड़ी इलाके के प्रधान एंक्‍लेव स्थित यमुना पुश्‍ता रोड़ पर सेंट्रो कार अनियंत्रित होकर 10 फुट गहरे नाले में जा गिरी. गाड़ी का शीशा बंद होने से कोई भी कार से बाहर नहीं निकल पाए. स्‍थानीय लोगों ने किसी तरह कार का शीशा तोड़कर चारों लोगों को बाहर निकाला. पर इस बचाव कार्य में काफी देर हो चुकी थी. सभी को अरुणा आसफ अली अस्‍पताल में भर्ती कराया गया, जहां डाक्‍टरों ने सभी को मृत घोषित कर दिया.

इस घटना की जानकारी मिलते ही भूनी गांव में कोहराम मच गया. राजबीर की पत्‍नी पूनम कैंसर से पीडि़त हैं. उनके सामने से दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है. एक साथ अपने पति तथा दो पुत्रों को खो दिया है. सबसे दुखद यह है कि उनके पत्रकार पुत्र निनित की 28 जनवरी को सगाई तथा 1 फरवरी को शादी होनी थी. पर आंगन में खुशियों की शहनाई गूंजने की बजाय मातम शोर पसर गया है. चालक जॉनी की शादी हो चुकी थी. उसका एक तीन साल का पुत्र है. उसे सिर से भी पिता का साया उठ गया है. इस हादसे के चलते पूरे भूनी गांव में शोक की लहर है.  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *