देहरादून से जनवाणी की दमदार लांचिंग, राज्‍यपाल कुरैशी एवं हरीश रावत ने किया लोकार्पण

: जनसरोकारों की पत्रकारिता जीवित रखने की जरूरत – महामहिम : देहरादून : उत्तर प्रदेश में दमदार उपस्थिति दर्ज कराने के बाद रविवार को दैनिक जनवाणी ने उत्तराखंड में शानदार तरीके से दस्तक दी। राज्यपाल डा. अज़ीज़ कुरैशी, केंद्रीय जल संसाधन मंत्री हरीश रावत, देहरादून के मेयर विनोद चमोली, गॉडविन मीडिया समूह के निदेशक भूपेंद्र सिंह बाजवा व जितेंद्र सिंह बाजवा, दैनिक जनवाणी के समूह संपादक यशपाल सिंह और उत्तराखंड स्टेट हेड योगेश भट्ट समेत सैकड़ों लोग उत्तराखंड में दैनिक जनवाणी के लोकार्पण के गवाह बने।

 
रविवार अपराह्न हाथीबड़कला स्थित सर्वे आफ इंडिया आडिटोरियम में दैनिक जनवाणी के उत्तराखंड संस्करण का लोकार्पण कार्यक्रम आयोजित किया गया। अपने संबोधन में प्रदेश के राज्यपाल डा. अजीज़ कुरैशी ने आशा जताई कि दैनिक जनवाणी अपने नाम के अनुरूप ही समाज के उपेक्षित और कमजोर वर्ग की वाणी बनेगा। उन्होंने कहा कि प्रतिस्पर्द्धा के इस दौर में भी बिना समझौता किए जनसरोकारों की पत्रकारिता को जीवित रखने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि एक सकारात्मक सोच दैनिक जनवाणी का विचार इसको विशिष्ट बनाता है। केंद्रीय जल संसाधन मंत्री हरीश रावत ने कहा कि लोकतंत्र के चौथे स्तंभ के रूप में पिछले कुछ समय में पत्रकारिता के स्तर में गिरावट आई है। उन्होंने उम्मीद व्यक्त करते हुए कहा कि दैनिक जनवाणी पत्रकारिता के उच्च मानदंडों को पुन: स्थापित करेगी।
 
 
देहरादून के मेयर विनोद चमोली ने कहा कि दैनिक जनवाणी के उत्तराखंड संस्करण को लेकर लोगों में भी खासा उत्साह और उत्सुकता है। एक प्रदेश, एक संस्करण की सोच जनवाणी को अन्य सभी समाचार पत्रों से अलग करती है। गॉडविन समूह के निदेशक जितेंद्र सिंह बाजवा ने कहा कि उत्तर प्रदेश में दैनिक जनवाणी पिछले दो वर्षों में अपनी दमदार उपस्थिति दर्ज कराने में सफल रहा है। उत्तराखंड संस्करण के स्थापित होने के बाद उन्होंने हिमाचल प्रदेश संस्करण शुरू करने की भी घोषणा की। 
 
 
कार्यक्रम में दैनिक जनवाणी के समूह संपादक यशपाल सिंह, उत्तराखंड स्टेट हेड योगेश भट्ट, राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष सुशीला बलूनी, नगर पालिकाध्यक्ष मसूरी ओपी उनियाल, आरएसएस के प्रांत प्रचारक डा. हरीश, विधायक राजकुमार, नगर निगम में नेता प्रतिपक्ष अशोक वर्मा, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना, पूर्व दायित्वधारी रविंद्र जुगराण, उमेश अग्रवाल, प्रांतीय चिकित्सा सेवा संघ के महामंत्री डा. डीपी जोशी, राज्य मौसम विभाग के निदेशक आनंद कुमार शर्मा, राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के प्रदेश अध्यक्ष प्रहलाद सिंह, गढ़वाल केंद्रीय विवि शिक्षक संघ अध्यक्ष डा. प्रदीप मोहन सकलानी, सचिव डा. महावीर नेगी, डा. एसपी सती, पीएचएमएस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डा. एसडी जोशी, जनकवि डा. अतुल शर्मा, पद्मश्री अवधेश कौशल, वीरेंद्र पैन्यूली, राजकुमार वालिया, जयसिंह रावत, प्रदीप कुकरेती, अल्पाईन ग्रुप आफ इंस्टीट्यूट के निदेशक अनिल सैनी, लालचंद शर्मा, सुभाष गुप्ता, राजेन टोडरिया, प्रवीन पुरोहित, प्रकाश पुरोहित समेत कई गणमान्य लोग मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *