नवभारत के पत्रकार एमपी दुबे का हार्टअटैक से निधन

 

: रवि भारती के निधन पर इंडियन मीडिया वेल्‍फेयर एसोसिएशन ने जताया दुख :  मुंबई : मुंबई से प्रकाशित होने नवभारत के उप संपादक एमपी दुबे की 19 नवम्बर को दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गयी। एमपी दुबे की मृत्यु पर नवभारत के पूर्व उपसंपादक और वरिष्ठ पत्रकार अजय भट्टाचार्य ने संदेह जताया है। गौरतलब है कि नवभारत के सानपाडा स्थित कार्यालय में पिछले कई वर्षों से कार्यरत एमपी दुबे को 19 नवम्बर को दिल का दौरा पड़ा था। इसके बाद उनकी मौत हो गई थी। श्री दुबे की मौत की घटना से मुंबई के हिंदी भाषी पत्रकारों तथा उन्हें जानने वाले लोगों को बहुत ही सदमा पहुंचा है।  
 
इसी बीच मामला उस समय ज्‍यादा गरम हो गया जब नवभारत के पूर्व उप संपादक अजय भटाचार्य ने श्री दुबे की मौत पर संदेह जताया। फेसबुक के माध्यम से अजय भटाचार्य ने संदेह जताते हुए लिखा है कि "नवभारत के टेंसन के शिकार हुए दुबेजी"। जिस के बाद से एमपी दुबे की मृत्‍यु को लेकर पत्रकारों में भी चर्चा बढ़ गई है। बता दें कि नवभारत में इस समय कर्मचारियों की कमी है। कम कर्मचारियों से अधिक कम लिया जा रहा है। 
 
दूसरी तरफ इंडियन मीडिया वेल्फेयर एसोसिएशन के उपाध्यक्ष और वरिष्ठ पत्रकार रवि भारती की एक्सिडेंट में मौत…पर मीडिया को लगा बडा सदमा लगा है।  रवि दिल्ली आज तक में कई साल से कार्यरत थे। उससे पहले सहारा को भी अपनी सेवादें दे चुके थे। इंडियन मीडिया वेल्फेयर ऐसोसिएशन के सभी सदस्यों ने उनकी आस्तमिक मौत पर गहरा दुख प्रकट की तथा भगवान से कामना की कि ऐसे दुख के समय में उनके परिवार को शक्ति दें। इंडियन मीडिया वेल्फेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष राजीव निशाना नें पुलिस प्रशासन से मांग की है कि वो इस एक्सिडेंट को साधारण ना समझे और गहराई से इस मामले की जांच करें, कही किसी नें कोई दुश्मनी तो नही निकाली।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *