पहले जागरण के पत्रकार को पीटा, फिर माफी मांग ली

भिवानी में दैनिक जागरण के संवाददाता अशोक ढिकाव व इलेक्ट्रोनिक मीडिया कर्मी व पुरस्‍कृत साहित्‍यकार जगजीत लौहट पर 9 अप्रैल की देर शाम कृष्‍णा चौक पर हुए हमले मामले में बॉक्सिंग कोच के माफी मांग लेने के बाद मामला सुलट गया है. थाना शहर पुलिस की मौजूदगी में लगभग दो घंटे तक चली वार्ता के बाद बॉक्सिंग कोच भूपेंद्र उर्फ भूप्‍पी माफी मांगने को तैयार हुआ. पुलिस आरोपी कोच एवं उसके साथियों पर कार्रवाई करने की बजाय माफी दिलाकर मामला रफा दफा कर दिया.

गौरतलब है कि दैनिक जागरण संवाददाता अशोक ढिकाव व उनके साढू जगजीत लौहट 9 अप्रैल की शाम करीब साढ़े सात बजे बाइक पर सवार होकर भिवानी रेलवे स्टेशन से अपने घर हालू मोहल्ला वाल्मीकि कालोनी जा रहे थे. इसी दौरान कृष्णा कालोनी चौक पर सड़क किनारे फल लेने के लिए बाइक रोकी. पीछे से आए कोच भूपेंद्र उर्फ भूप्पी ने बाइक रोक कहा कि ये तुम्हारे बाप की सड़क है, जो यहा खड़े हो. दोनों ने इस तरह से बोलने का विरोध किया तो उसने जेब से रिवाल्वर निकाल कर दोनों पर तानते हुए जान से मारने की धमकी दी और मारपीट शुरू कर दी. भूप्‍पी ने दोनों को जातिसूचक गालियां भी दी. दोनों पत्रकारों को चोटें आई.

इस घटना के विरोध में मीडियाकर्मियों ने एसपी सत्‍येंद्र कुमार गुप्‍ता से मुलाकात कर आरोपियों के गिरफ्तारी की मांग की थी, लेकिन पुलिस ने आरोपी से माफी मंगवाकर मामले को रफा दफा कर दिया. इस दौरान काफी संख्‍या में पत्रकार तथा वाल्‍मीकि समाज के लोग भी मौजूद थे. पुलिस के सामने कोच भूपेंद्र उर्फ भूप्पी ने इस घटना पर दुख जाहिर करते हुए माफी मांगी. जिसके बाद मामला का निपटारा हो पाया. शहर थाना प्रभारी संदीप सिंह ने भी भविष्य में पत्रकारों या आमजन के साथ ही तरह की घटना होने पर कड़ी कार्रवाई किए जाने का भरोसा दिलाया. कोच के साथ आए वैश्य कालेज लेक्चरर ने भी इस पर दुख प्रकट किया दोनों के बीच सौहार्द व प्रेम की अपील की.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *