पायनियर के पत्रकार की मोटरसाइकिल का सुराग नहीं, एक और बाइक हो गई चोरी

 

लखनऊ : राजधानी पुलिस एक तरफ जहां कानून व्यवस्था बनाये रखने का दम्भ भरती घूम रहीं है, वहीं लखनऊ शहर में वाहन चोरों का आतंक थमने का नाम नहीं ले रहा है। बीते सात नवम्बर को लेखराज स्थित सहारा शॉपिंग सेंन्टर के सामने से पायनियर के पत्रकार हरीराम मिश्र की चोरी हुई मोटर साइकिल अब तक बरामद नहीं हो पाई है कि पिछली रात ठीक उसी स्थान से एक ट्रैवल एजेंसी संचालक की मोटर साइकिल फिर चोरी हो गई है। सूत्रों की माने तो पिछले दो माह के भीतर ही उक्त स्थान से कई मोटर साइकिलें गायब हो चुकी है। और हर बार पुलिस खानापूर्ति करके बरामदगी का आश्वासन देती रहती है। 
 
चोरों के हौसले के बुलंदी का आलम यह है कि उन्होंने पत्रकार की प्रेस लिखी बाइक हीरो होण्डा पैशन प्रो को मेंन लॉक के अलावा अलग से पहिये में जंजीर का लॉक लगा होने बावजूद उठा लिया। श्री मिश्र ने चोरी की घटना के सम्बंध में मुकदमा न केवल गाजीपुर थानें में दर्ज कराया, बल्कि क्षेत्राधिकारी, एसपी ट्रान्स गोमती, एसएसपी /एडीजी कानून व्यवस्था से भी गाड़ी बरामदगी की गुहार लगाई। इतना ही नहीं पिछले दिनों प्रेस क्लब में आयोजित समारोह में पहुंचें सरकार के कबीना मंत्री शिवपाल सिंह यादव से भी पत्रकार की मोटर साइकिल चोरी होने की शिकायत की जिस पर उन्होंने वरिष्‍ठ पुलिस अधीक्षक से बात भी की। 
 
हैरत की बात ये है कि पत्रकार की मोटर साइकिल को चोरी हुये अब तक अठारह दिन बीत चुके हैं और इस सम्बंध में राजधानी के विभिन्न प्रतिष्ठित समाचार पत्रों में भी खबर पकाशित हो चुकी है, फिर भी अभी तक गाड़ी बरामदगी तो दूर किसी भी संदिग्ध व्यक्ति को उठाकर पूछताछ भी नहीं की जा सकी। पुलिस की इसी लापरवाही से निश्चिंत वाहन चोर ने बीते 22 नवम्बर की रात को ठीक उसी स्थान से एक और गाड़ी पर भी हाथ साफ कर दिया। श्री मिश्र कहते हैं कि व्यवसायी व धनाड्य लोगों के लिए मोटर साइकिल भले ही कोई खास अहमियत न रखती हो पर एक ईमानदार पत्रकार के लिए मोटरसाइकिल चोरी हो जाना बड़ी घटना है। और उनका काम बुरी तरह प्रभावित हो रहा है।
 
लखनऊ से विवेक त्रिपाठी की रिपोर्ट. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *