प्‍लानमैन मी‍डिया की हालत खस्‍ता, चेक हुए बाउंस, कर्मचारी आंदोलित

मैनेजमेंट गुरु अरिंदम चौधरी की कंपनी प्लानमैन में बगावत नें दस्तक दे दी है। सैलरी समय से न मिलने से कर्मचारियों में गुस्सा है। कंपनी के नाजुक हालत की दुहाई देकर पत्रकारों का शोषण करने वाले मैनेजमेंट द्वारा हाल ही में एक अंग्रेजी अखबार के पहले पन्ने पर ऐड छपवाए ( इस ऐड का खर्चा करोडों में हुआ है) जाने से पत्रकार इस कदर भड़क उठे हैं कि वो करो या मरों की स्थिति में आ गये है। 

गौरतलब है कि कुछ दिन पहले ही कंपनी से निकाले गये लोगों ने काटजू से गुहार लगाते हुए प्लानमैन पर कार्रवाई की मांग की थी, जिसके बाद तमाम निकाले गये कर्मचारियों को उनका पूरा बकाया चार हिस्सों में दिया गया। सूरते हाल ये है कि यहां पर घी सिर्फ टेढ़ी उंगली से ही निकाली जा रही है। मैनेजमेंट के लोग कानों में तेल डाले बैठे रहते हैं और मोटिवेशन का राग अलाप कर अपना-अपना उल्लू सीधा करने में लगे हुए है। ताजुब की बात तो ये है कि खुद कंपनी के मालिक अरिंदम चौधरी को किसी भी बात की जानकारी नहीं दी जाती है, जिस वजह से पिछले आठ सालों में खड़ा किया गया ये बिजनेस एंपायर अब डूबने की कगार पर है।

पत्रकारों से लेकर सफाई कर्मचारी तक सभी की हालत पंचर है। चार पांच महीने से सैलरी न मिलने से यहां पर काम करने वालों की माली हालत बिगड़ी हुई है। हाल ही में प्लानमैन मीडिया की मैग्जीन द संडे इंडियन में काम करने वाले पत्रकारों ने कार्यलय में जमकर नारेबाजी की और मैनेजमेंट को खूब खरीखोटी सुनाई, जिससे डर कर मैनेजमेंट के तमाम आला अधिकारी वक्त की नज़ाकत को समझते हुए पतली गली से निकल गये। हद तो तब हो गई जब गुरुवार को कर्मचारियों को दिए गये पोस्ट डेटेड चेक भी बाउंस हो गये। दरअसल कंपनी ने कुछ महीने पहले ही स्टाफ को उनकी दो महीने की सैलरी पोस्ट डेटेड चेक में दी थी, जिस पर हर महीने की बीस तारीख लिखी हुई थी पर कंपनी के खाते में प्रर्याप्‍त बैलेंस ने होने के कारण गुरुवार को एक-एक करके सभी को चेक बाउंस के अलर्ट मैसेज आने शुरु हो गये। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *