लोकप्रिय संसद में सेक्सप्रिय सांसद

संसद एक बार फिर शर्मसार है। पहले अभिषेक मनु सिंघवी और अब पीजे कुरियन। कुरियन राज्यसभा के उप सभापति हैं। ऊम्र 72 साल और इस उमर में माथे पर है सोलह साल की बाला से सीरियल रेप का कलंक। संसद की गरिमा कलंकित है। कुछ दिनों पहले सुप्रीम कोर्ट के अहाते के अपने दफ्तर में ही राज्यसभा सांसद अभिषेक मनु सिंघवी ने एक महिला वकील के साथ सेक्स करके अपने साथ अपने पिता लक्ष्मीमल्ल सिंघवी का भी नाम रोशन किया था। अभिषेक राजस्थान से कांग्रेस के राज्यसभा सांसद है। उनकी करतूत पर पूरा राजस्थान अब भी शर्मसार है।

कांग्रेस ने पहले हटा दिया था, पर कुछ दिन पहले अभिषेक को फिर से अपने प्रवक्ता पैनल में डाल दिया है। कांग्रेस को तो शर्म नहीं आई, लेकिन मीडिया को ऐसे दागदार आदमी से बात करने में शर्म आ रही है। सो, मीडिया दूरी बनाए हुए हैं। सुप्रीम कोर्ट में सेक्स करते सरेआम कैमरे में कैद हो जाने पर अभिषेक शर्मसार नही है। अब वे और तीखे तेवर में बात करते हैं। एक अबला वकील को पद का प्रलोभन देकर उसके साथ अपने ही दफ्तर में सेक्स करने का सर झुकाकर चलने और नजरें चुराकर बात करने वाला कुकर्म करने के बावजूद कांग्रेस मुख्यालय, सुप्रीम कोर्ट और संसद में अभिषेक ऐसे घूमते हैं, जैसे कांग्रेस और राजस्थान दोनों का नाम ऊंचा करनेवाला कोई काम किया हो।

ताजा मामला राज्यसभा के उपसभापति पी जे कुरियन का है। कुरियन 1996 के एक सीरियल रेप में शामिल थे। हालांकि कुरियन कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी और राज्यसभा के सभापति उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी से मिलकर अपनी सफाई दे चुके हैं। लेकिन मामला गंभीर है। कुरियन ने कक्षा आठ में पढ़नेवाली एक नाबालिग लड़की के साथ बलात्कार किया जिसे केरल के बहुचर्चित सूर्यनेल्ली रेप कांड के रूप में जाना जाता है। जनवरी – फरवरी 1996 में कक्षा आठ में पढ़नेवाली इस लड़की को अगवा कर लिया गया था और उसके साथ 41 दिनों तक 42 लोगों ने बलात्कार किया था। करीब दो महीने तक उसे पूरे केरल में घुमाया जाता रहा और उसका सौदा किया जाता रहा। पूरे दो महीने बाद उस लड़की को यह कहकर छोड़ दिया कि उसने किसी से कुछ बताया तो जान से मार देंगे। लेकिन जांच के दौरान एक दिन अखबार में एक फोटो देखकर उस लड़की ने चौंकानेवाली जानकारी दी कि जिन 42 लोगों ने उसके साथ रेप किया है उसमें यह व्यक्ति भी शामिल है जो फोटो में दिख रहा है। फोटो कुरियन की थी। फोटोवाले आदमी ने कुमिली गेस्ट हाउस में उस लड़की के साथ बलात्कार किया था। जांच में मिले संकेत कुरियन पर शक को गहरा करते हैं। जिस दिन उस लडकी के साथ कुरियन ने बलात्कार किया, उस दिन कुरियन ने पुलिस सुरक्षा छोड़ दी थी। ताकि किसी को पता नहीं चले कि वे उस दिन कहां थे।

इस कांड के मुख्य आरोपी धर्मराजन ने भी पुलिस के सामने अब यह स्वीकार कर लिया है कि गेस्ट हाउस में उस लड़की को लेकर वह खुद ही गया था। अब जब मामला गरम हो गया है तो कुरियन के चेहरे पर हवाईयां उड़ रही हैं। हालात बता रहे हैं कि मामला संगीन है। शर्म कांग्रेस को भी आ रही है। क्योंकि कांग्रेस के ही एक वरिष्ठ नेता पर नाबालिग से बलात्कार का आरोप साबित होने की तरफ है। लेकिन मामला सिर्फ एक कांग्रेसी का नहीं, कलंक हमारे लोकतंत्र की सर्वोच्च संस्था हमारी संसद के उप सभापति जैसे गरिमामयी पद पर लगा है। वैसे अपना मानना है कि कांग्रेस को शर्म कुछ कम ही आती है फिर भी कुरियन के मामले में कोई सख्त फैसला करना पड़ सकता है। लेकिन यह राजनीति है हुजूर… सो, यह भी हो सकता है कि कुछ दिन बाद कुरियन फिर से अपने कलंकित चेहरे के साथ पद पर आ बैठें। सही बात है, कुछ भी हो सकता है। हमारे लोकप्रिय और सेक्सप्रिय सांसद अभिषेक मनु सिंघवी के पाप को भूलकर कांग्रेस ने प्रवक्ता के पद पर फिर से बिठा ही दिया हैं न!

लेखक निरंजन परिहार राजनीतिक विश्लेषक और वरिष्ठ पत्रकार हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *