वसूली करने के आरोप में दो फर्जी पत्रकार अरेस्‍ट

ग्रेटर नोएडा के कासना कोतवाली पुलिस ने दो फर्जी पत्रकारों को अरेस्‍ट करके जेल भेज दिया है। इनके पास से एक कार और कैमरा बरामद हुआ है। इन दोनों पर आरोप है कि चैनल से जुड़ा बताकर पुलिस से रुपयों की मांग कर रहे थे। बाद में जब जांच की गई तो पता चला कि वे किसी भी चैनल में नहीं है। इसके बाद पुलिस ने दोनों को हिरासत में ले लिया।

पुलिस ने बताया कि पीसीआर पर तैनात दो पुलिसकर्मी सिटी पार्क के पास डम्‍परों को चेक कर रहे थे। उसी दौरान एक होंडा सिटी कार में सवार होकर दो युवक पहुंचे और खुद को पत्रकार बताया। दोनों वहां खड़े तीन डम्‍परों के बारे में भी जानकारी ली। कासना के कोतवाल प्रवीन यादव ने बताया कि दोनों एक साइड में खड़ा होकर पूरे मामले का वीडियो बनाने लगे। बाद में ये पुलिसकर्मियों के पास पहुंच गए और बीस हजार रुपये मांगने लगे। उन्होंने खुद को एक न्यूज चैनल का पत्रकार बताया।

उन्‍होंने पुलिसकर्मियों पर आरोप लगाया कि दोनों डम्‍परों से वसूली कर रहे थे। पुलिस ने इस संबंध में दोनों के बताए गए चैनल प्रबंधन से उनकी जानकारी मांगी। चैनल से बताया कि इस नाम से कोई पत्रकार चैनल में कार्यरत नहीं है। इसके बाद पुलिस ने दोनों को पकड़ लिया। इनकी पहचान मूलरूप से ग्वालियर निवासी अंशुल और हरेद्र के रूप में हुई है। ये फिलहाल स्वर्णनगरी सेक्टर में रह रहे थे। पुलिस ने कार और कैमरा को जब्त कर लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *