हरियाणा में दैनिक भास्कर के एक और पत्रकार को मिली लाल बत्ती

हुड्डा साब ने "तुरंत प्रभाव" से एक और पत्रकार को सरकारी बना दिया है। ये सज्जन हैं अलवर (राजस्थान) मूल के श्री प्रमोद वशिष्ठ जी। वर्षों से दैनिक भास्कर में सेवायें दे रहे थे ..साथ ही कांग्रेस की सेवा भी कर रहे थे। कहते हैं कि चुनाव में भास्कर और कांग्रेस के बीच पेड न्यूज़ को लेकर जो फाइनेंसियल डील हुई थी, उसके तहत भास्कर ने खबरें लिखने के लिए उन्हें कांग्रेस को प्रति-नियुक्ति पर दिया था।

उन दिनों के दैनिक भास्कर पढ़ कर देख लीजिये ..पता चल जाएगा कि कैसे पत्रकार रहे हैं जनाब..। एक और पत्रकार के सरकारी और कांग्रेसी होने पर समस्त सृष्टि को बधाई….। निराश न हों अभी और भी पत्रकारों का "कल्याण" होना है। गौरतलब है कि महोदय को मीडिया कोऑर्डिनेटर नियुक्त किया गया है।

वरिष्ठ पत्रकार सतीश त्यागी की टिप्पणी.


हरियाणा के मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ने भास्कर से निष्कासित पत्रकार प्रमोद वशिष्ठ को अपना मीडिया एडवाइजर बना कर लाल वत्ती से नवाजा है। वीरवार को विधिवत रूप से प्रमोद वशिष्ठ की नियुक्ति की घोषणा कर दी गई है। पिछले सप्ताह ही मुख्यमंत्री ने भास्कर के रोहतक के सम्पादक हेमंत अत्री को सूचना आयुक्त बनाया था। एक तरह से मुख्यमंत्री हुड्डा की चमचागीरी करने वाले दो पत्रकारों के घरों में दीपावली पर घी के दीए जला दिए हैं। 

दोनों पत्रकार हेमंत अत्री और प्रमोद वशिष्ठ जब तक भास्कर में रहे मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा के गुरगान करने के अलावा कुछ नहीं किया। प्रदेश भर के पत्रकार इनकी कार्यप्रणाली पर सदैव गुंगली उठाते रहे हैं। प्रमोद वशिष्ठ को भास्कर तीन माह पहले निष्कासित कर चुका है। हेमंत अत्री ने तो रोहतक में मुख्यमंत्री हुड्डा की चमचागीरी करने की हदें ही पार की हुई थी। कांग्रेस की खिलाफत करने वाले कई पत्रकारों की नौकरी खा चुका था। रोहतक की जनता की आवाज दब कर रह गई थी। जनता कितनी भी परेशान रही लेकिन प्रशासन के खिलाफ कभी खबर नहीं छपी।

एक पत्रकार द्वारा भेजे गए पत्र पर आधारित.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *