हस्‍त लिखित अखबार ‘दीन दलित’ के संपादक गौर शंकर का निधन

 

झारखंड के दुमका में साप्ताहिक हस्तलिखित समाचार पत्र 'दीन दलित' निकालने वाले वरिष्‍ठ पत्रकार एवं अखबार के संपादक गौरी शंकर रजक का शुक्रवार को निधन हो गया. वे काफी समय से बीमार चल रहे थे. उनके निधन की खबर से दुमका के पत्रकारिता जगत में शोक की लहर दौड़ गई. दुमका सूचना भवन में एक शोक सभा आयोजित कर शोक संतप्त परिवार के सदस्यों के प्रति संवेदना जताई गयी तथा भगवान से उनकी आत्‍मा की शांति के लिए प्रार्थना किया गया. 
 
गौरी शंकर रजक बिना किसी सहयोग के दो नवंबर 1986 से आठ पृष्ठों का हस्तलिखित अखबार निकाल रहे थे. इस अखबार को उनके द्वारा खुद वितरित भी किया जाता था. वे अपने पीछे चार पुत्र एवं दो पुत्रियों का भरा पूरा परिवार छोड़ गए हैं. भारतीय रेडक्रास सोसाइटी ने रजक के दाह संस्‍कार के लिए दो हजार रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की. दूसरी तरफ शोक सभा में पत्रकार  राजकुमार उपाध्याय, अमरेन्द्र सुमन, आनंद जायसवाल, शैलेन्द्र सिन्हा, उज्जवल कुमार, ब्रजेश वर्मा, अनूप कुमार वाजपेयी, संतोष कुमार, गौतम कुमार, सिकंदर कुमार, मनोज कुमार, मृत्युंजय पांडेय समेत कई लोग उपस्थित रहे.

अपने मोबाइल पर भड़ास की खबरें पाएं. इसके लिए Telegram एप्प इंस्टाल कर यहां क्लिक करें : https://t.me/BhadasMedia 

Leave a Reply

Your email address will not be published.