हिंदुस्‍थान समाचार के राष्‍ट्रीय प्रभारी श्रीकांत जोशी का निधन

नई दिल्ली। हिन्दुस्थान समाचार के संरक्षक व राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के वरिष्ठ प्रचारक मा. श्रीकान्त जोशी का मंगलवार सुबह पांच बजे मुम्बई में निधन हो गया। वह 76 वर्ष के थे। उनका अंतिम संस्कार आज सायंकाल मुम्बई में होगा। श्री जोशी के निधन से हिन्दुस्थान समाचार सहित आरएसएस को गहरी छति पहुंची है। उनके निधन पर आरएसएस, भाजपा सहित कई सामाजिक व राजनीतिक संगठनों से शोक व्यक्त किया।

जोशी जी ने अंतिम सांस मुंबई के संघ कार्यालय में ली। वह पिछले कुछ दिनों से सांस की बीमारी से पीड़ित थे। दो दिन पूर्व ही वह दिल्ली प्रवास पर आये थे और संवाद समिति के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ आगामी योजनाओं की विचार विमर्श किया था। गत् 22 दिसम्बर को इलाहाबाद में हुए संवाद समिति के केन्द्रीय निदेशक मण्डल बैठक की अध्यक्षता करने पहुंचे जोशी जी की तबियत कुछ ठीक नहीं थी। उसके बाद वह नागपुर में अपना इलाज करा रहे थे।

विदित हो कि श्री जोशी पिछले चार दशक से संघ के प्रचारक रहे। उनका चार भाई और एक बहन का परिवार था। वह मुंबई के गिरिगांव से संघ से जुड़े। बीए कर वह एलआईसी में नौकरी करने लगे। इसी दौरान उनका संपर्क शिवरायजी तेलंग से हुआ और वह 1956 में गृह त्यागकर संघ के प्रचारक बन गये। शुरुआत में वह नांदेड़ में प्रचारक रहे। बाद में विषम परिस्थितियों में 1961 असम गये और कई वर्षों तक असम में प्रांत प्रचारक रहे। इसके बाद वह आपातकाल में संघ के तृतीय सरसंघचालक बालासाहेब देवरस के सहायक के रुप में रहे और पूरे देश का भ्रमण किया। इसके अलावा वह अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख रहे। इस समय वह महिला समन्वय, अखिल भारतीय ग्राहक पंचायत और हिन्दुस्थान समाचार के संरक्षक थे।

संघ के विभिन्न दायित्वों का निर्वहन करते हुए उन्होंने हिन्दुस्थान समाचार संवाद समिति को पुनर्जीवित करने का संकल्प लिया। उनके अथक परिश्रम से गत् एक दशक में इस संवाद समिति ने न केवल अपना विस्तार किया अपितु भारत सहित विदेशों में भी अपनी धाक जमाने में सफल रही। उनकी प्रेरणा से आज भारत सहित मारिशस, नेपाल, त्रिनिनाड, थाईलैण्ड सहित कई देशों में इस संवाद समिति के ब्यूरो कार्यालय सफलता पूर्वक चल रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *