15 फरवरी के बाद आजतक के कर्मियों की सुरक्षा सरकार के हवाले!

: फिर बंद हो जाएगा मार्निंग पिकअप : दिल्‍ली गैंगरेप के मामले को लेकर दिल्‍ली में महिलाओं की सुरक्षा के मामले को आजतक ने बड़ा जोरदार तरीके से उठाया था. अपने एंकरों को रात के अंधेरों में भेजा, पर यह शोर उस समय ढकोसला लगा जब कटौती के नाम पर मार्निंग पिकअप बंद कर दिया गया था. टीवी टुडे प्रबंधन अपने स्‍टाफ को भगवान भरोसे छोड़ दिया था. शिफ्ट को सात से बढ़ाकर साढ़े सात कर दिया गया था, परन्‍तु जिन लोगों को बाहरी दिल्‍ली या जनकपुरी, उत्‍तमनगर या पूर्वी दिल्‍ली के इलाकों से नोएडा पहुंचना था, उन्‍हें घंटों पहले निकलना पड़ता था.

सर्दी में पांच-छह बजे कितना अंधेरा रहता है इसका अंदाज़ा लगाना मुश्किल नहीं है. खासकर महिला कर्मचारियों के सामने बड़ी समस्‍या थी. सुबह सुबह सुरक्षित ऑफिस पहुंचना. सूत्रों का कहना है कि भड़ास पर खबर आने के बाद टीवी टुडे प्रबंधन ने फिर से मार्निंग पिकअप की व्‍यवस्‍था लागू कर दी है. पर इस से कर्मचारियों को ज्‍यादा इतराने की जरूरत भी नहीं है क्‍योंकि टीवी टुडे सिर्फ 15 फरवरी तक ही अपने कर्मचारियों की सुरक्षा का बोझ उठा पाएगा. यानी मार्निंग पिकअप की व्‍यवस्‍था को 15 फरवरी के बाद बंद कर दिया जाएगा.

सूत्रों का कहना है कि प्रबंधन की सोच है कि 15 फरवरी के बाद मौसम में सुधार हो जाएगा. छह बजे तक उजाला हो जाया करेगा, फिर खुद नौकरी करने वाले आ जाएंगे. यानी टीवी टुडे अपने कर्मचारियों खासकर महिला कर्मियों की सुरक्षा की जिम्‍मेदारी 15 फरवरी के बाद सरकार-पुलिस के भरोसे छोड़ देगा. हालांकि ये सारा मसला कुछ महीनों पहले तब से शुरू हुआ है जब से नए हेड ऑफ ऑपरेशंस राहुल कुलश्रेष्ठ ने ज्वाइन किया है. उन्होंने अपनी मोटी तनख्वाह को जस्टिफाई करने के लिये स्टाफ पर होने वाले खर्चे को ही कम करने का फैसला किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *