अंबिका सोनी ने दिया इस्तीफ़ा, अजय माकन को मिल सकता है सूचना और प्रसारण मंत्रालय

 

नई दिल्ली।। कैबिनेट में रविवार को होने वाले फेरबदल के मद्देनजर केंद्रीय मंत्रियों के इस्तीफे का दौर जारी है। शुक्रवार को विदेश मंत्री एस.एम कृष्णा ने इस्तीफा सौंपा तो, आज सूचना व प्रसारण मंत्री अंबिका सोनी, सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री मुकुल वासनिक, पर्यटन मंत्री सुबोध कांत सहाय और राज्य मंत्री महादेव सिंह खंडेला ने भी इस्तीफे दे दिए। अपने इस्तीफे पर अंबिका सोनी ने कहा कि वह संगठन के लिए काम करती रहेंगी। उधर, वासनिक ने कहा कि उन्होंने अपना इस्तीफा कल ही सौंप दिया था। उधर, शहरी विकास मंत्री कमलनाथ का प्रमोशन किया गया है। उन्हें संसदीय कार्य मंत्रालय की अतिरिक्त जिम्मेदारी सौंपी गई है।
 
चर्चा है कि कुछ और महत्वपूर्ण मंत्री भी इस्तीफा दे सकते हैं। इसमें एचआरडी व आईटी मिनिस्टर कपिल सिब्बल और कॉर्पोरेट मामलों के मंत्री आनंद शर्मा के नाम की भी चर्चा है। इससे पहले कृष्णा ने शुक्रवार दोपहर अपना इस्तीफा मनमोहन सिंह को भेजा, जिसे पीएम ने मंजूर कर लिया। कृष्णा ने कहा कि युवाओं को मौका देने के लिए मैंने अपने पद से इस्तीफा दिया है। बतौर कार्यकर्ता मैं पार्टी के लिए काम करता रहूंगा। माना जा रहा है कि कर्नाटक के सीएम रह चुके कृष्णा को राज्य में कुछ समय बाद होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए कोई जिम्मेदारी दी जा सकती है।
 
कैबिनेट में शामिल होने वाले नए मंत्रियों को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म है। आइए आपको बताते हैं किसके बारे में क्या है चर्चा…
 
1- 'टाइम्स नाउ' के सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी को मानव संसाधन मंत्रालय का जिम्मा सौंपा जा सकता है। मंत्री पद संभालने को लेकर राहुल विचार विमर्श कर रहे हैं। उनके कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष बनाए जाने की भी चर्चा है।
 
2-कृष्णा के इस्तीफे से खाली हुई विदेश मंत्री की कुर्सी कर्ण सिंह या फिर आनंद शर्मा को सौंपी जा सकती है। सूत्रों के मुताबिक आनंद शर्मा इस रेस में आगे दिख रहे हैं।
 
3-अपनी प्रजाराज्यम पार्टी के साथ कांग्रेस में आने वाले ऐक्टर चिरंजीवी को केंद्रीय पर्यटन मंत्री बनाया जा सकता है।
 
4-मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री डी. पुरंदेश्वरी का प्रमोशन हो सकता है। उन्हें वाणिज्य मंत्री बनाया जा सकता है।
 
5-खबर है कि गुलाम नबी आजाद मंत्री पद छोड़ने के लिए तैयार नहीं हैं।
 
6-पश्चिम बंगाल के सांसद ए. एच. खान को भी मंत्री बनाए जाने की चर्चा है। खान कांग्रेस के नेता मरहूम गनी खां चौधरी के भाई हैं।
 
7-बताया जा रहा है कि कैबिनेट फेरबदल में युवाओं को तरजीह दी जाएगी।
 
8-केंद्रीय संसदीय कार्य और कृषि राज्य मंत्री हरीश रावत का भी प्रमोशन हो सकता है। चर्चा है कि उन्हें कैबिनेट में लाया जा सकता है।
 
9-पवन बंसल को संसदीय कार्य मंत्रालय वापस मिल सकता है।
 
10-खेल मंत्री अजय माकन को मिल सकता है सूचना प्रसारण मंत्रालय।
 
11- आज शाम 6.30 बजे सोनिया गांधी प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से मुलाकात करेंगी। इसमें कैबिनेट फेरबदल पर चर्चा होने की संभावना है।
 
मंत्रियों के इस्तीफे के पीछे हालांकि वजह यह बताई जा रही है कि उन्हें आगामी विधानसभा और आम चुनावों के मद्देजनर संगठन में भेजा जा रहा है, लेकिन राजनीतिक विश्लेषकों की मानें तो यह बात कुछ के लिए ही सही है। इस बहाने विवादित मंत्रियों को भी इस्तीफे का दबाव डालकर साइडलाइन किया जा रहा है। मसलन पर्यटन मंत्री सुबोधकांत सहाय के कोयला घोटाले में घिरने के बाद उन पर इस्तीफे को लेकर भारी दवाब था। अगर इस्तीफों का यह सिलसिला आगे बढ़ता है और इसमें विवादित मंत्री भी दिखते हैं, तो हैरत नहीं होनी चाहिए। (नभाटा)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *