Fraud Nirmal Baba (63) : नरूला मिनरल 65 हजार लेकर फरार

: कौन हैं निर्मल बाबा? (भाग आठ) : रांची : नरूला मिनरल झारखंड राज्य खनिज विकास निगम (जेएसएमडीसी) का 65 हजार रुपये लेकर फरार है. कहा जा रहा है कि यह कंपनी निर्मल जीत सिंह नरूला उर्फ निर्मल बाबा की ही थी. इस कंपनी ने पूर्वी सिंहभूम के बहरागोड़ा में कायनाइट पत्थर के खनन का काम लिया था. 1999 में कंपनी के लोग अचानक से गायब हो गये. कंपनी ने अपना पता निरूला मिनरला, अरगोड़ा, रांची लिखा था. जेएसएमडीसी ने कई बार इस पते पर पत्र भेजा. पर गलत पता होने के कारण पत्र वापस आ जाता है.

1999 में तत्कालीन बिहार राज्य खनिज विकास निगम (अब जेएसएमडीसी) ने बहरागोड़ा स्थित ज्योति पहाड़ पर कायनाइट खनन के लिए रेजिंग कांट्रैक्टर नियुक्त किया था. इसके तहत कांट्रैक्टर कायनाइट की खुदाई कर जेएसएमडीसी को देता है. यदि कांट्रैक्टर को मिनरल की आवश्यकता होती, तो वह निगम से खरीदता. बताया जाता है कि 1999 में ही नरूला मिनरल ने कायनाइट पत्थर की खरीदारी की थी. इसकी कीमत 65 हजार रुपये थी. पत्थर की खरीदारी के बाद से ही कंपनी फरार हो गयी. हर बार बकायेदारों की लिस्ट में होता है नाम : 15 नवंबर 2000 को झारखंड अलग राज्य बना.

इसके बाद 2001 में बीएसएमडीसी को झारखंड के अधीन करते हुए जेएसएमडीसी बना दिया गया. मार्च में जब भी फाइलों की जांच होती है, तब बकायेदारों की लिस्ट में नरूला मिनरल का नाम दर्ज रहता है. जेएसएमडीसी के सूत्रों ने कहा कि यह कंपनी निर्मल जीत सिंह नरूला की ही थी. 1999 के बाद से न तो कंपनी का अता-पता है और न ही निर्मल जीत सिंह नरूला का. नरूला मिनरल के बारे में बहुत ज्यादा जानकारी नहीं है. विभाग बहरागोड़ा में इसकी विस्तृत जांच करायेगा कि किसकी कंपनी थी और अभी कहां है. – (एके सरकार, अपर मुख्य सचिव खान विभाग सह एमडी जेएसएमडीसी)

– निर्मल बाबा की कंपनी बतायी जा रही है
– बहरागोड़ा में इसी कंपनी को मिला था ज्योति पहाड़ से पत्थर के खनन का काम
– 1999 से लापता हो गयी कंपनी
– जेएसएमडीसी से खरीदा था 65 हजार का पत्थर, नहीं दिये पैसे
– फाइलों की हो रही जांच
– रांची के अरगोड़ा का पता दर्ज है
– कई बार लिखा गया पत्र, पर पता गलत होने के कारण लौट जाता है

प्रभात खबर में प्रकाशित विजय पाठक का लेख. इस खबर पर आप अपनी प्रतिक्रिया vijay.pathak@prabhatkhabar.in  पर भेज सकते हैं.


प्रभात खबर में प्रकाशित खबरों को पढ़ने के लिए क्लिक करें –

Fraud Nirmal Baba (28) : प्रभात खबर ने खोली पोल – कौन हैं निर्मल बाबा?

Fraud Nirmal Baba (33) : प्रभात खबर ने खोली पोल – कौन हैं निर्मल बाबा? (भाग दो)

Fraud Nirmal Baba (42) : एक एकाउंट में 109 करोड़

Fraud Nirmal Baba (49) : बाबा के निजी खाते में भी डाले गये 123 करोड़

Fraud Nirmal Baba (53) : भक्तों के पैसे से खरीदा 30 करोड़ का होटल

Fraud Nirmal Baba (62) : निर्मल बाबा पर कानूनी शिकंजा

सीरिज की अन्य खबरें, आलेख व खुलासे पढ़ने के लिए क्लिक करें–   Fraud Nirmal Baba

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *