Fraud Nirmal Baba (99) : भड़ास को बधाई, पर चैनल वाले तो चोर लगते हैं

नमस्कार, सबसे पहले में भड़ास टीम को हार्दिक बड़ाई देता हूँ कि यह पाखंडी निर्मल बाबा के बारे में लोगों को जागरूक कर रही है। इस में योगदान देने के लिए मैं भी सदैव तैयार हूँ। और आप जो ये सामाजिक कार्य कर रहे हैं तो वो भी अपने आप में एक बहुत बड़ी उपलब्धि है। मैं भी निर्मल जैसे पाखंडियों के बारे में बहुत कुछ करना-कहना चाहता हूँ मगर मेरे पास इतना कुछ साधन नहीं हैं और समझ में नहीं आता कि क्या करूँ?

मुझे तो इन पाखंडियों पर इतना गुस्सा आता है कि पूछो ही मत। मगर एक तो इस बात से यह सब करने से रह जाता हूँ कि प्रशासन के पास जब इतने सारे अधिकार होने के बाबजूद वो कुछ नहीं कर रहा है तो अकेला में कैसे कर सकता हूँ? प्रशासन क्यों इतना चुप है? ये सब लोग मुझे तो चोर लगते हैं चाहे वो प्रशासन के कुछ लोग हों या फिर न्‍यूज चैनल वाले। मीडिया ने इस कदर इसे हाइलाइट कर दिया है कि एक आम आदमी भी हमारी बात पर विश्वास नहीं कर पा रहा है। वैसे मैं भी इस के खिलाफ कुछ सबूत ढूंढ रहा हूँ और सोच रहा हूँ कि इन जैसे लोगों के खिलाफ केस दायर कर करूँ। मगर दैनिक जीवन में इतने सारे काम रहते हैं कि उस बात से दिमाग ही हट जाता है और प्रॉब्लम तो तब आती है जब बन्दा रात में ड्यूटी करता है, किराये के घर में रहता है, हर चीज़ के बारे में सोचना, काफी बातें हैं।

आज में जिसे भी अनैतिक देखता हूँ बड़ा गुस्सा आता है मगर बेबस कि तरह रह जाता हूँ। न्‍यूज चैनल मेरी लाइफ का सबसे बड़ा झटका है जहाँ निर्मल के कार्यक्रम में कोई भी विज्ञापन नहीं देता, मगर जब ही कोई अच्छी खबर होगी तो उस पर समाचार सबसे कम और ब्रेक सबसे ज्यादा होते हैं। ये एक कड़वा सच नहीं है तो क्या है? मगर क्या करे सब लोग मिले हुए हैं और ज्यादातर लोग भ्रष्ट हैं। वैसे ये ज्यादातर काम सरकार की कमी से हो रहे हैं क्योंकि आज कि सरकार में ज्यादातर लोग भ्रष्ट हैं और अपनी कमियों और भ्रष्टता को दबाने के लिए ही ये लोग प्रणब मुखर्जी को राष्ट्रपति बनने चाहते हैं, जिस से इनकी सारी कमी छुप जाये। फिर ना तो 2जी स्‍पेक्‍ट्रम, बोफोर्स, सीडब्‍ल्‍यूजी आदि कुछ भी नहीं होगा भले ही लोकपाल आ जाये। आज की सरकार जब इस निर्मल जैसे पाखंडियों का कुछ नहीं कर सकती तो फिर ये ये सोनिया, दिग्विजय, कलमाणी, राजा आदि का क्या कर सकती है? आज का पूरा प्रशासन लगभग भ्रष्ट है और कुछ भी नहीं हो सकता। मैं तो बस दिसम्बर 2012 का इंतज़ार कर रहा हूँ क्योंकि मैंने ये सुना था कि उस दिन दुनिया ख़त्म हो जाएगी। वैसे ऐसे भ्रष्ट लोगों की संतान इनके सामने पल पल मरे मुझे तब ख़ुशी होगी और उस समय ये कुछ भी ना कर पाए पूरी पॉवर होने के बाबजूद भी।

सुनील शर्मा

सीनियर इंटरनेट मार्केटिंग स्‍पेशलिस्‍ट

सेक्‍टर 63, नोएडा, यूपी

संपर्क : +91 9718744453


फ्राड निर्मल बाबा सीरिज की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें- Fraud Nirmal Baba

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *