गीत दीक्षित का तबादला, जितेंद्र रिछारिया जबलपुर के आरई बने

पीपुल्स समाचार से सूचना है कि जबलपुर के स्थानीय संपादक गीत दीक्षित का ट्रांसफर कर दिया गया  है. सूत्रों के मुताबिक उन्हें भोपाल में स्टेट एडिटर बनाकर बुलाया गया है. वे अब पूरे स्टेट का काम देखेंगे. जबलपुर की जिम्मेदारी जितेंद्र रिछारिया को सौंपी गई है. जितेंद्र रिछारिया सहारा के ब्यूरो चीफ हुआ करते थे. इधर वे प्रदेश टुडे में थे लेकिन प्रदेश टुडे का प्रोजेक्ट लेट होने के कारण उन्होंने पीपुल्स समाचार ज्वाइन कर लिया. सूत्रों के मुताबिक अवधेश बजाज के नेतृत्व में पीपुल्स समाचार अब कंटेंट पर कम, पैसे जुटाने और खर्च कम करने पर ज्यादा जोर दे रहा है.

अपने मोबाइल पर भड़ास की खबरें पाएं. इसके लिए Telegram एप्प इंस्टाल कर यहां क्लिक करें : https://t.me/BhadasMedia

Comments on “गीत दीक्षित का तबादला, जितेंद्र रिछारिया जबलपुर के आरई बने

  • raja trivedi says:

    जितेंद्र रिछारिया का पीपुल्स समाचार में चले जाना इस अखबार के लिए एक बड़ा दुखद समाचार है। मैं जबलपुर ·की पत्र·कारिता से अच्छी तरह से वाकिफ हूं और यह भी जानता हूं कि जितेंदे रिछारिया विशुद्ध रूप से एक दुकानदार ·के अलावा ·कुछ नहीं है। वे बिल्डर होने ·के साथ-साथ लाइजनिंग ·का ·काम भी बखूबी जानते है। सहारा समय में ब्यूरो चीफ ·के पद से भी इन्हें गंभीर आर्थिक· अनियमितताओ ·के आरोपों ·के चलते हटाया गया था। जबलपुर और पीपुल्स समाचार, जबलपुर ·के पत्र·कारों ·को भी यह अच्छी तरह से मालूम है ·कि जितेंद्र रिछारिया जबलपुर ·के रेल्वे स्टेशन स्थित फूड सप्लायर ·के मालिक· ·के साथ सांठगांठ ·कर ·काम ·करते है । लगता है अब पीपुल्स समाचार जबलपुर मे भी लाइजनिंग ·की पत्र·कारिता में अपना नाम रोशन ·करेगा।

    Reply
  • awadesh bajaj peoples samachar ki lutiya dubokar rahega.achchhe khase chalte sansthan ka bhatta bhetha diya.maal nahi mila to geet ji ko hata diya.vese isme galti bajaj ki kam maliko ki jyada he.bichchhu-saanp paloge to kya hoga,iska andaja ab maliko ko ho hi gaya hoga.bichchhu (bajaj) ne aesa dank mara he ki malkin (ruchi vijaivargiya) ko na niglate ban raha he aur na ugalte ban raha he.

    Reply
  • sanjeev choudhary says:

    यशवंत जी
    किसी अज्ञात ने इसी जगह लिखा था की गीत दीक्षित दस वी पास है , जो आपने हटा दी , शुक्रिया , क्योकि इस तरह आप भड़ास की विश्वशनीयता को दाव पर नहीं लगाओ गे यह विश्वास अभी भी है , मै उन महाशय को जिन ने अपना नाम भी नहीं लिखा था बताना चाहता हु की मै गीत जी को कई सालो से जनता हु आपके अनुसार वे १० वे पास हो न हो लकिन मेरी जानकरी में उन ने पत्रकारिता में डिग्री हासिल की है इतना ही नहीं उन ने मनोविज्ञान में भी मास्टर्स की डिग्री ली है , हां यह मुझे नहीं पता की ये दोनों डिग्री के पाहिले उन ने १० वे पास की थी या नहीं …….. यह आप से ही पता चला वाह
    संजीव चौधरी जबलपुर

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *