जेएनयू सेक्स एमएमस स्कैंडल : जनार्दन से कई राज उगलवा रही है पुलिस

: कल पुलिस के सामने छात्र ने किया था सरेंडर : कोर्ट ने दो दिन के रिमांड पर सौंपा :  जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) में हुए एमएमएस कांड के आरोपी 23 वर्षीय छात्र जनार्दन ने खुद को पुलिस के हवाल कर दिया है. जनार्दन गया (बिहार) का रहने वाला है. वह शनिवार को वसंतकुंज थाने पहुंचा और आत्मसमर्पण कर दिया.

दक्षिण जिला पुलिस उपायुक्त छाया शर्मा ने बताया कि आरोपी जनार्दन वर्ष 2008 में जेएनयू में बीए (कोरियाई भाष) में दाखिला लिया था. अगले वर्ष अनिता (बदला नाम) ने भी जेएनयू में दाखिला लिया. जनार्दन और अनिता एक दूसरे को पहले से जानते थे. अनिता भी उसी हॉस्टल में रहने लगी. इस बीच जनार्दन ने अनिता के साथ यौन संबंध बनाए और उसकी वीडियो क्लिप बना ली. जनार्दन ने यह काम राहुल नाम के दोस्त के घर में किया. वहां पर उसने अपने दोस्त बलबीर की मदद से छात्र की क्लीपिंग बनाई.

कुछ दिनों बाद अनिता से रिश्तों में खटास आने पर उसने यह एमएमएस साथियों में बांट दिया. इस अश्लील एमएमएस का खुलासा होने के बाद जेएनयू के चीफ प्रोक्टर ने मामले की जांच कराई थी. इसके बाद गत 12 फरवरी को जेएनयू के मुख्य सुरक्षा अधिकारी ने वसंत कुंज नॉर्थ थाने में इस संबंध में शिकायत दर्ज कराई थी. जांच में पुलिस ने जनार्दन को दोषी पाया. इस मामले में पुलिस को जनार्दन की तलाश थी, लेकिन उसका कोई पता नहीं चल पा रहा था.

वह विश्वविद्यालय से बर्खास्त होने के बाद नवादा में कोचिंग सेंटर चला रहा था. जनार्दन पर दबाव बढ़ता जा रहा था. सो, उसने वसंतकुंज थाने में आत्मसमर्पण कर दिया. हालांकि पुलिस अपनी पीठ थपथपाने के लिए इसे गिरफ्तारी दिखा रही है. पुलिस ने उसे कोर्ट में पेश किया जिसके बाद उसे दो दिन की रिमांड पर भेज दिया गया है. पुलिस अब जनार्दन से पूछताछ के आधार पर उन चीजों को बरामद करने की कोशिश करेगी, जिसका इस्तेमाल उसने एमएमएस बनाने में किया था.

इसे भी पढ़ सकते हैं-

जेएनयू में सेक्स- आइए लड़का लड़की को गोली मार दें

‘यशवंत, ऐसे सेक्स की पैरोकारी पर अपना इरादा स्पष्ट करो’

अपने मोबाइल पर भड़ास की खबरें पाएं. इसके लिए Telegram एप्प इंस्टाल कर यहां क्लिक करें : https://t.me/BhadasMedia

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *