बीबीसी में ऐतिहासिक हड़ताल

: रेडियो व टीवी के कई कार्यक्रम स्थगित : पुराने व रिकार्डेड कार्यक्रम दिखाए जा रहे : लंदन से समाचार एजेंसी ‘डीपीए’ ने खबर दी है कि बीबीसी (ब्रिटिश ब्राडकास्टिंग कार्पोरेशन) की हालत खराब हो गई है. ऐसा बीबीसी के पत्रकारों की हड़ताल के चलते हुआ है. ये पत्रकार शुक्रवार से 48 घंटे की हड़ताल पर चले गए हैं. हड़ताल के कारण बीबीसी रेडियो और बीबीसी टेलीविजन न्यूज के ढेर सारे कार्यक्रमों का प्रसारण ठप पड़ गया है. पत्रकार पेंशन प्रावधानों में बदलाव से खफा हैं और प्रबंधन के अड़ियल रवैये के कारण विरोध में हड़ताल पर चले गए हैं.

समाचार एजेंसी डीपीए के अनुसार हड़ताल का आह्वान एनयूजे (नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट) ने किया. हड़ताल के आह्वान के बाद बीबीसी रेडियो और बीबीसी टीवी के पत्रकारों, रिपोर्टरों और एंकरों ने कामकाज बंद कर दिया. हड़ताल के चलते बीबीसी रेडियो और बीबीसी टीवी के कई कार्यक्रमों को स्थगित कर दिया गया और कुछ कार्यक्रमों का समय कम कर दिया गया. रिकार्डेड और पुराने कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं. बीबीसी के पत्रकारों का कहना है कि अगर उनकी न सुनी गई और पेंशन प्रावधानों में बदलावों को रद न किया गया तो वे क्रिसमस के मौके पर भी हड़ताल पर चले जाएंगे.

वैसे, बीबीसी के अन्य संगठनों ने पेंशन प्रावधानों में हुए बदलावों को स्वीकार कर लिया है लेकिन एनयूजे का कहना है कि पेंशन घाटा बीबीसी प्रबंधन के दावों के अनुरूप नहीं है. बीबीसी के महानिदेशक मार्क थाम्पसन ने कहा कि घाटे से निपटने में देरी नहीं की जा सकती. उन्होंने कर्मियों को दिए संदेश में कहा कि एनयूजे के सदस्य निगम के कर्मचारियों की संख्या के करीब 17 प्रतिशत का प्रतिनिधित्व करते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *