”मुझे फोन पर जान से मारने की धमकी दी जा रही है”

यशवंत जी, मैं राजकुमार यादव, फिरोजाबाद में ए2जेड न्‍यूज चैनल का रिपोर्टर हूं. करीब दो महीने पहले मैंने आरटीआई के माध्‍यम से मैनपुरी के एक गांव केशोपुर में हुए विकास कार्यों का ब्‍योरा मांगा था, जो ब्‍योरा मुझे दिया गया उसमें दो सौ बीपीएल कार्ड फर्जी पकड़े गए. इस मामले में मैंने मैनपुरी के जिलाधिकारी को पत्र लिखकर तथा एसएमएस भेजकर अवगत कराया. इस मामले में अभी कोई कार्रवाई नहीं हुई है.

पर इसके बाद से ही मुझे जान से मारने की धमकी मिल रही है. मेरे मोबाइल नम्‍बर 9808898695 पर लगातार इस नम्‍बर 9457881780 से धमकी आ रही है, जिसमें मुझे सबक सिखाने तथा जान से मारने की बात कही जा रही है. मैंने कई लोगों को इससे अवगत करा दिया है. अब आपसे आग्रह है कि इस बात को अपने पोर्टल पर रखें ताकि मुझे लोगों का साथ मिल सके और मुझे धमकी देने वालों का पर्दाफाश हो सके.

राजकुमार यादव

रिपोर्टर ए2जेड न्‍यूज

फिरोजाबाद

Comments on “”मुझे फोन पर जान से मारने की धमकी दी जा रही है”

  • सेवा में श्री यादव जी पहले तो आपने गलत लिखा की आप a2z में बतोर रिपोर्टर है। आप पहले तो यह समझ ले की आप बतोर स्ट्रिंगर है। और रही बात आपकी पत्रकारिता की तो में भली भाति परिचित हूँ की अगर में आपका ब्यूरो हैड कौन है। इसलिए कृपया करके अपनी राजा हरिश्चंदरा जैसी ईमानदारी भड़ास पर प्रकाशित नहीं करे। यह दुनिया जानती हैं की केवल छटे चोमासे लगने वाली खबरों से स्ट्रिंगरों ने चारपहिया गाड़ियां कैसे खरीद ली है।

    Reply
  • यादव जी आपको अवगत करना है की आप पत्रकार, स्त्रिन्गेर नहीं है फिर आप कैसे कहे सकते है की आप अ२ज़ म रिपोर्टर के पद पर कार्यत है जबकि नेवस चैनल के आगरा बुरु हेड है जिन्होंने आपको रिपोटर के पद पर नहीं तनत किया है फिर कैसे आप कहे सकते है

    Reply
  • patannjali dubey says:

    Kisi Jile ka reporter , dusre jile ke reporter ko Kabse Niyukt Karne Laga . Lokesh ji kripya Is Basic Gyan Ko Bhi Prapt Kar Len . Kya AtoZ ki I.d. va AUthority kya channel farzi dete hain. Aaj kal is tarah ki patrakarita o aapas me vamnasyata ko Janm deti hai Band Honi chayye. isse na patrakarita ka bhala hoga na samaj ka.

    Reply
  • lokesh je ye bataye ki ek jile ke reporter ko dusare jile ka reporter niyukt karta hai apase meri salah hai ki app kahi acche sansthan me gyan prapt kare………….

    Reply
  • patannjali dubey says:

    Lokesh ji Kisi ek Jile ka reporter Kabse Doosre jile K reporter Ko niyukt Karne Laga , Kripya Is baisk Gyan ki Vyavharik Knowledge Kahin Se Prapt Kar len , Aur Yeh Bhi jankari Kar le ki Channel me Input Head, H.R. head Aur Channel Head Ka kya Kaam hai. Kisi Channel ka I.D. Authority Hoalder REporter agar Farji Hai to , Sahi kaun hai vo bata dijye. Patrakaron ki yeh soach ki keval mai hi shai hun , ne Patrakarita ka nuksan kiya hai.Agar koi stringer Jan hit me koi kam kar raha hai to Kripaya uski sarahna Karen Na ki Bal me Khaal Nikalen……

    Reply
  • thankyou dubey je kass apane to bataya ki ek jile ka reporter ko koan niyukt karta hai our rahi bat char pahia gadi me chalne ke ye to batt bo hi jane jo usame chalate hai…meri unse ek salah hai ki patrkarita ka chola pahankar apane dhande our kale karobar karte hai usaki sabhi ko jankari hai..esase n to samaj ka bhala hoga na hi patrakarita ka ab yuvao ki vari hai jo datkar mukabala kar sakte hai mathadhisi karna band karo..our dusre ke kandhe par banduk rakhakar mat chalao …..rajkumar

    Reply
  • sudhir.gautam says:

    मेरे बेटे ने तो “भिन्डिया टीवी” के लिए लाइने भी बनानी शुरू कर दी हैं…अभी से…
    क्या गोली लगने से पहले पूछेगी की राजकुमार-स्ट्रिंगर हो या पत्रकार…
    क्या गोली लगने से स्ट्रिंगर मर जायेगा और पत्रकार जिन्दा रहेगा…
    क्या करेंगे मैनपुरी के डी एम् इस मामले में…क्या कानून की आंखे देख पाएंगी…
    जो हुआ उसे रोका जा सकता था क्या…
    जानने के लिए देखें बंदरिया छाप साबुन प्रेसेंट “दस्तक-गुनाह की-आहट जुर्म की” रात १२ बजे के बाद कई बार…क्योंकि हम टेप लगा देंगे भैया.
    हमें ऐसे मुद्दों को गंभीरता से लेकर प्रसासन और गुंडा तत्वों पर उचित दबाव बनाना चाहिए.
    अंत में राजकुमार सिर्फ तुम्हारे लिए लिखा शेर एक बार और…इरशाद(This word is usually used in Urdu Shayri mehfil for encouraging the person who is about to speak a Shayri)…बाकी भाई लोग भी गौर फरमाएं…
    “दुश्मनों का डर नहीं बेदाग़ हूँ जीदार हूँ ,
    दोस्तों का खौफ है, कौन जाने मार ले ”
    राजकुमार और है सिर्फ तुम्हारे लिए…पढना और फोलो भी करना बाकी न पढ़ें न ही फोलो करें
    http://medianukkad.blogspot.com/2011/09/blog-post.html

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *