श्याम साल्वी, गिरीश जुनेजा, सुधीर सुधाकर, श्वेता श्रीवास्तव, पवन जैन की नई पारी

: सभी ने न्यूज एक्सप्रेस ज्वाइन किया : नेशनल लेवल पर लांच होने जा रहे हिंदी न्यूज चैनल ”न्यूज एक्सप्रेस” में दाखिल होने की रफ्तार तेज होने लगी है. कई वरिष्ठों के इस चैनल के साथ जुड़ने की खबर है. श्याम साल्वी ने इस चैनल में हेड टेक्निकल आपरेशन के रूप में ज्वाइन कर लिया है. अभी तक वो इस चैनल से सलाहकार के रूप में जुड़े हुए थे. गिरीश जुनेजा ने क्रिएटिव हेड के रूप में काम करना शुरू कर दिया है.

इससे पहले गिरीश जुनेजा के बारे में भड़ास पर जो खबर छपी थी, उस पर जुनेजा को आपत्ति ये थी कि उनके पास प्रस्ताव आया है काम करने के लिए, उन्होंने खुद अभी ज्वाइन नहीं किया है. सो, अब यह कहा जा सकता है कि गिरीश जुनेजा ने न्यूज एक्सप्रेस की तरफ से गए प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया और काम शुरू कर दिया है. पहले न्यूज24 और फिर पी7न्यूज से अलग होने के बाद सुधीर सुधाकर अब न्यूज एक्सप्रेस के साथ जुड़ गए हैं. वे यहां डिप्टी एक्जीक्यूटिव प्रोड्यूसर बने हैं.

श्वेता श्रीवास्तव ने भी इस चैनल के साथ काम शुरू कर दिया है. श्वेता रांची में न्यूज11 में एंकर थीं और उससे पहले सहारा समय बिहार-झारखंड के लिए काम करती थीं. पवन जैन ने भी न्यूज एक्सप्रेस के साथ कदमताल शुरू कर दिया है. वे प्रोड्यूसर बनाए गए हैं. सूत्रों के मुताबिक इस न्यूज चैनल को अप्रैल आखिर या मई मध्य तक लांच किया जाएगा. मशीनों की खरीद और स्थापना का काम तेज हो चुका है.

Comments on “श्याम साल्वी, गिरीश जुनेजा, सुधीर सुधाकर, श्वेता श्रीवास्तव, पवन जैन की नई पारी

  • naveen sharma says:

    salvi sir aap ne jo kaha woh kar dikhaya aa se ye he umeed thee lekin vishvaas tha ki aa ye jarur karenge aap ka well wisher naveen sharma: aap great ho.

    Reply
  • अजय ढौंडियाल तुमको तो पूरा मीडिया जान चुका है कि तुम गुटबाजी करते हो और संस्थान को नुकसान पहुंचाते हो। साधना में तुमने सभी एडिटरों की हड़ताल करा दी थी नतीजतन आजतक न तुमको नौकरी मिली और न ही उन एडिटरों को। तुम तो लोगों के घर जलाना जानते हो।

    Reply
  • manish pant says:

    अजय ढौंडियाल तुमको तो पूरा मीडिया जान चुका है कि तुम गुटबाजी करते हो और संस्थान को नुकसान पहुंचाते हो। साधना में तुमने सभी एडिटरों की हड़ताल करा दी थी नतीजतन आजतक न तुमको नौकरी मिली और न ही उन एडिटरों को। तुम तो लोगों के घर जलाना जानते हो।

    Reply
  • ankit pant says:

    अजय ढौंडियाल तुमको तो पूरा मीडिया जान चुका है कि तुम गुटबाजी करते हो और संस्थान को नुकसान पहुंचाते हो। साधना में तुमने सभी एडिटरों की हड़ताल करा दी थी नतीजतन आजतक न तुमको नौकरी मिली और न ही उन एडिटरों को। तुम तो लोगों के घर जलाना जानते हो।

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *