सीओ ने झूठी सूचना देकर पत्रकार को फंसाना चाहा, सुनें यह टेप

बीती रात मुज़फ्फरनगर के बाबरी थाना क्षेत्र के कासमपुर के जंगल में पूर्व जिला पंचायत मेम्बर एवं राष्ट्रीय लोकदल नेता देशराज भानेडा के साथ अज्ञात बदमाशों ने लूट की वारदात को अंजाम दिया था. इसकी सूचना पर खबरीलाल न्यूज़ नेटवर्क ने न्यूज़ फ्लैश कर दी. न्यूज फ्लैश किए जाने की जानकारी सीओ शामली शशि शेखर तक पहुंची तो उन्होंने खबरीलाल न्यूज़ नेटवर्क के चीफ एडिटर अमित सैनी के पास अपने सरकारी मोबाइल नंबर 9454401614 से फोन किया.

इस फोन के जरिए उन्होंने अमित को सूचित किया कि आपके द्वारा फ्लैश की गयी न्यूज़ अधूरी है और पूरी सही नहीं है. उन्होंने जानकारी दी कि सिर्फ लूट की घटना नहीं हुई है बल्कि तीन लोगों का मर्डर भी हुआ है और मर्डर कर भाग रहे दो हत्यारों को पुलिसवालों ने मुठभेड़ में मार गिराया है. पुलिस के एक जिम्मेदार अधिकारी के मुंह से यह सब सूचना सुनकर अमित सैनी स्तब्ध रह गये.

हालांकि इस पर उन्होंने एहतियातन पूछा भी कि कहीं आप मजाक तो नहीं कर रहे. पर सीओ शामली शशि शेखर ने अमित को पूरी तरह आश्वस्त किया और उनकी दी गई सूचना सच है, इसकी पुष्टि के लिए उन्होंने अपना फोन अपने पास खड़े एक ग्रामीण को देकर उससे पूछ लेने को कहा. उस कथित ग्रामीण और जिला पंचायत अध्यक्ष ने मोबाइल पर अमित से वही बातें दुहराईं जो सीओ शामली बता रहे थे. ऐसे में अमित को यह भरोसा करना पड़ा कि तीन लोगों का मर्डर हो गया है और मारने वाले दो लोग भी निपटा दिए गए हैं. यानि कुल पांच लोगों की जान गई है.

इतने बड़े घटनाक्रम की जानकारी मिलने पर अमित और अन्य पत्रकारों ने अपने सोर्सेज को सक्रिय किया और एक बार अपने स्तर पर पुष्टि का प्रयास किया. क्षेत्रीय पत्रकारों से इस बाबत जब संपर्क किया गया तो उन लोगों ने ऐसी किसी घटना के होने से इनकार किया. कई स्तरों पर छानबीन कराने पर पता चला कि सीओ झूठ बोल रहे थे और वह गलत सूचना देकर एक पत्रकार को गलत खबर फ्लैश करने के लिए उकसा रहे थे. अमित ने अच्छी बात ये की कि उन्होंने सीओ शामली से हो रही सारी बातचीत को रिकार्ड कर लिया था. लीजिए, सीओ और पत्रकार के बीच का वार्तालाप सुनिए और आगे से आप भी सतर्क रहिए कि कहीं कोई अधिकारी आपको गलत सूचना देकर फंसा न दे.

सीओ शामली (मुजफ्फरनगर) शशि शेखर फोन पर कैसे झूठी खबर एक पत्रकार को ब्रीफ कर रहे, सुनिए यह टेप…

There seems to be an error with the player !

Comments on “सीओ ने झूठी सूचना देकर पत्रकार को फंसाना चाहा, सुनें यह टेप

  • Deepak Dehradun says:

    in police walo ka or kuch kaam nai ya to inke kehne par khabar rok lo nahi to ye rasssi ka saap banane ki dhamki dete hai up se kahi acha vehvar to uttrakhand ki police ka hai jo kam se kam samazhti to hai ki kya hai kya nahi

    Reply
  • Vinod Kumar says:

    Dear Amit please contact with S.S.P and send it to me so i tak with DIG In Saharanpur Its Really very bad how can they do this please send a copy that recording on my email i m always with you.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *