Connect with us

Hi, what are you looking for?

प्रिंट

भोपाल अपकंट्री में भास्कर ने दाम घटाए

: तेजी से गिरते प्रसार को संभालने की कवायद : 3 की जगह डेढ़ में मिलेगा भास्कर : ‘जन-जागृति’ का भी रेट कम हुआ : पत्रिका की सफलता से परेशान है भास्कर :

: तेजी से गिरते प्रसार को संभालने की कवायद : 3 की जगह डेढ़ में मिलेगा भास्कर : ‘जन-जागृति’ का भी रेट कम हुआ : पत्रिका की सफलता से परेशान है भास्कर :

कभी मध्य प्रदेश में अपने एकछत्र राज का दंभ भरने वाले भास्कर को अपनी अस्मत बचाने के लिए नए-नए हथकण्डे अपनाने पड़ रहे है। ताजा घटनाक्रम में भास्कर ने भोपाल अपकंट्री में अपने रेट दो तिहाई से भी कम कर दिए है। अब यहां भास्कर का मूल्य 3 रुपये से घटाकर 1.50 रुपये कर दिया गया है। पत्रिका एवं अन्य अखबारों द्वारा कड़ी टक्कर मिलने से दैनिक भास्कर की प्रसार संख्या पर आश्चर्यजनक रूप से नकारात्मक प्रभाव पड़ा है।

संकट की स्थिति भांपते हुए चतुर प्रबंधन ने अखबार का मूल्य सप्ताह में चार दिन आधा कर दिया है। घटती प्रसार संख्या एवं कमजोर सेल्स टीम ने भास्कर जैसे स्थापित ब्राण्ड को भी प्राइस वार में कूदने पर मजबूर कर दिया है। खबर है कि पिछले कुछ माह में भास्कर की प्रसार संख्या भोपाल लोकल एवं अपकंट्री में बहुत तेजी से गिरी है जिसने उच्च प्रबंधन को सकते में डाल दिया है। यही वजह है कि अभी हाल ही में भास्कर ने अपने छोटे प्रोडक्ट ‘जन-जागृति’ का रेट कम करके 1.50 रुपये प्रतिदिन अर्थात् 45 रुपये मासिक कर दिया था और अब अपकंट्री के रेट गिरा दिये हैं।

बताया जाता है भास्कर के चेयरमैन रमेश अग्रवाल भोपाल के मामले में बहुत गंभीर हैं और इस संबंध में पिछले कुछ सप्ताह से मैदानी टीम की लगातार मीटिंग ले रहे हैं। भास्कर के लिए सबसे बड़ी चिन्ता की वजह पत्रिका बना हुआ है। इतने कम समय में भोपाल में भास्कर के बराबर प्रसार संख्या खड़ी कर इस अखबार ने पूरे भास्कर खेमे में खलबली मचा रखी है। परेशानियों का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि भास्कर भोपाल में सेल्स को लेकर हर सप्ताह नए-नए प्रयोग किए जा रहे हैं, कभी पाठक योजना, कभी हॉकर स्कीम तो कभी दिल्ली और यूपी से नए-नए अधिकारियों की भर्ती।

Click to comment

0 Comments

  1. amit virat

    July 22, 2010 at 10:03 am

    dalali kareinge to yahi hoga na yato khabar chhapo ya dalali kario pathak ko jyada din tak to moorkh nahin banaya ja sakta. Use jo akhbar achchha lagega use padega.

  2. rakesh pathak. gwl

    July 22, 2010 at 10:09 am

    yha bhaskar hamesha karta hai. dawawab padne par price war suru karne. ka.

  3. Bhopal

    July 22, 2010 at 1:18 pm

    Credit for price down goes to Mr. V P S Bhadoria AGM Circulation Patrika Bhopal.

  4. mahesh bihari sharma lalsot raj

    July 22, 2010 at 1:50 pm

    abhi to dkho patrika k samne kis trh bhaskar nachta hi

  5. A Bhaskar Agent

    July 22, 2010 at 2:47 pm

    Baat to bilkul thik he. Bhaskar abhi jin pareshaniyo se bhopal me gujar raha he vaisa inke sath pahle kabhi nahi hua. Bhopal k mamle me Sudhir jee aur Ramesh jee direct baat karte he. Bahut had tak iska credit Circulation head Bhadoriya jee ko jata he. Unki himmat aur team ko ekjut rakhne ki kwaliti lajwab he. Personality aisi he ki bhopal ka har hawker unhe janta he aur to aur sabhi press k employee kahi na kahi unki respect k karan patrika k khilaf kuch bhi karne se darte he.

  6. ABC

    July 23, 2010 at 2:41 am

    ab bhaskar ko naya hathiyar chunanaa hoga, akhbar scheem se nahi story se bechna hoga.

  7. ashish soni

    July 23, 2010 at 12:23 pm

    bhaskar ko ab smjhna hoga ki pathak news ki vailu janne lga he hr page par ad. to news ke liye jagh hi nahi he mana ki bina ad. ke paper ko nahi chalaya ja skta par kebal ad. ke liye to 3 ru nhi de skta pathak . me bhaskar ka 22 saal purana pathak hu par aaj dekhkar accha nahi lagta ki koye or aage ja raha he
    meri shubhakamna aage bhaskar he ho
    ashish soni

  8. journalist

    July 23, 2010 at 7:33 pm

    bhaskar ke paas sab kuch hai, kami hai to ek pakki team ki. achche log chunkar bhaskar patrika ko mat do sakta hai. bhaskar ko naya rang dena hai to delhi ke patrakaron ko mouka dena hoga.

  9. sanjeev mehra

    July 27, 2010 at 7:40 am

    bhaskar ne apni hathdarmita ke chalte or ahankaar ke vashibhoot hokar jo galat nirnay liye,, yeh usi ka parinaam hai…
    apne purane employie ka vetan sirf isliye nahi badhaya kyonki wo pahle se hi bhaskar main kaam kar raha tha…jabki fresher’s or naye employe ko purane se just double sellary par rakha
    yahi woh wajah rahi ki bhaskar prabandhan se purane employe naraj rahe or ek.ek kar chod gaye
    jiska faayda patrika ne uthaya or aaj parinaam sabke saamne hai…

  10. Gwalior

    July 28, 2010 at 3:25 pm

    Patrika ki safalta ka mukhy karan pichala 60 salo ka anubhav or ek majboot team or durdarshita ha.

  11. Gwalior

    July 28, 2010 at 3:41 pm

    :(>:(8)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You May Also Like

Uncategorized

भड़ास4मीडिया डॉट कॉम तक अगर मीडिया जगत की कोई हलचल, सूचना, जानकारी पहुंचाना चाहते हैं तो आपका स्वागत है. इस पोर्टल के लिए भेजी...

टीवी

विनोद कापड़ी-साक्षी जोशी की निजी तस्वीरें व निजी मेल इनकी मेल आईडी हैक करके पब्लिक डोमेन में डालने व प्रकाशित करने के प्रकरण में...

हलचल

: घोटाले में भागीदार रहे परवेज अहमद, जयंतो भट्टाचार्या और रितु वर्मा भी प्रेस क्लब से सस्पेंड : प्रेस क्लब आफ इंडिया के महासचिव...

प्रिंट

एचटी के सीईओ राजीव वर्मा के नए साल के संदेश को प्रकाशित करने के साथ मैंने अपनी जो टिप्पणी लिखी, उससे कुछ लोग आहत...

Advertisement