श्यामा चिड़िया की भविष्यवाणी- यूपी में 2012 में मायावती की सरकार नहीं बनेगी!

यशवंत जी, ये खबर सौ फीसदी सही है. मैं आपका नियमित पाठक हूं, कृपया मेरे नाम का उल्लेख न करें. बनारस की श्यामा चिड़िया ने वर्ल्ड कप को लेकर भारत की जीत की भविष्यवाणी की थी. और वह भविष्यवाणी सच साबित हुई. अब सुनिया श्यामा चिड़िया की नई भविष्यवाणी. इसने कह दिया है कि सन 2012 में यूपी में मायावती की सरकार नहीं बनेगी. कल देर शाम जब सहारा यूपी चैनल पर लाइव चल रहा था तो चिड़िया से पूछा गया कि क्या 2012 में उत्तर प्रदेश में मायावती सरकार की वापसी होगी या नहीं होगी?

इस सवाल पर पंडित जी ने एक कागज पर लिखकर एक लिफाफे में डाला. इस कागज पर लिखा कि मायावती की सरकार बनेगी. और दूसरे कागज पर लिखकर लिफाफे में डाला कि 2012 में माया की सरकार नहीं बनेगी. इसके बाद ज्योतिषी ने सभी लिफाफों को ताश के पत्तों की तरह फेंट लिया. इसके बाद एक के बाद एक लिफाफे श्यामा चिड़िया के सामने से गुजारे गए. कुछ देर तक श्यामा ने किसी पर ध्यान नहीं दिया. थोड़ी देर बाद श्यामा ने एक लिफाफे से लपक कर एक पर्ची खींच ली जिस पर लिखा था कि 2012 में मायावती की सरकार नहीं बनेगी. अगर ये श्यामा की भविष्यवाणी सही निकली तो माया के सभी सम्बन्धी बने अधिकारियों का अगली सरकार में क्या होगा! ये तो श्यामा ही जाने. लगता है ये अधिकारी और नेता जल्द ही श्यामा की पैजोरी (पांव छुवाई) में लगे नज़र आयेंगे.

एक पत्रकार द्वारा भेजे गए पत्र पर आधारित.

Comments on “श्यामा चिड़िया की भविष्यवाणी- यूपी में 2012 में मायावती की सरकार नहीं बनेगी!

  • Devendra patel says:

    जनता को गुमराह करना अपराध ,श्यामा को मृत्यु दंड दिया जाय

    किस पार्टी की सरकार बनेगी यह निर्णय जनता करेगी या स्यामा चिड़िया जैसे गधे !जिन्हें स्वम अपने विषय में ही नहीं मालूम, कि अगली घडी में उसे क्या होगा ! यदि उस गधे को मालूम हो तो मेरे पास आकर दावा करे यदि वह सच बता देगा तो उसे एक लाख रूपये मै तत्काल सभी के समक्ष दूंगा ! ऐसे गधों को जो धन लेकर जनता (मतदाता )को गुमराह करते है सजाये -मौत दी जानी चाहिए ! मतदाता को गुमराह करना अपराध है और जागरुक करना नैतिक कार्य है !

    यशवंत भाई, पत्रकारिता के मिशन को इसी तरह आगे बढाओगे, क्या तुम्हारे पास लेखों की कमी हो गयी है जो जनता को जागरूक करने के वजाय गुमराह करने वाले लेखों को तरजीह दे रहे हो !हाँ आपसे क्या मतलब हर लेखक के अपने विचार है जिनसे बडास४ मीडिया के संपादक का सहमत होना जरूरी नहीं ,तो अश्लील साहित्य को अपनी वेब साईट में क्यों नहीं डाल देते हो , जिससे पाठको की संख्या में दिन दूना रातचौगुना बढोत्तरी होगी और करोड़ों रूपया विज्ञापन में आएगा और तुम्हारी पत्रकारिता खूब फूले फरेगी !अवाम को जागरूक करने का कोई आप ठेका थोड़े ही ले रखा है जो श्यामा जैसों को मना करोगे !
    धन्यवाद
    देवेन्द्र
    फतेहपुर

    Reply
  • Devendra patel says:

    भिक्षावृत्ति रुपी फकीरी वेनाब
    बहुत सही आज कोई लेख मिला जिसको पढ़कर पूरी आत्मसंतुष्टि हुई इस लेख में यह महत्वपूर्ण नहीं कि किस महापुरूष के विषय में लिखा है इसकी महत्ता इस बात में है कि समाज में फकीरी या संत का नाम बदनाम करने वालों को वेनाब किया गया है फकीराना अंदाज वेताज बदशाहियत है जिसे जीना नामुमकिन नहीं तो मुश्किल अवश्य है नक़ल करना तो हर व्यक्ति के वश में है असल बनना ………………फकीरी में किसी के समक्ष हाथ फैलाना अपनी गैरत को एक रोटी के टुकड़े के लिए अपमानित करना व्यक्ति के व्यक्तित्व का अपमान है ऐसा करना इंसानियत नहीं ,कुत्तापन ,सुअरपन के सिवा कुछ नहीं जो समाज को कुछ दे तो नहीं सकता है ,समाज के लिए अभिशाप जरूर बन जाता है क्योंकि भिक्षावृत्ति मानव के लिए अभिशाप है
    धन्यवाद
    देवेन्द्र
    फतेहपुर

    Reply
  • vishal shukla says:

    हम भारतवासियों का भी जवाब नही। फुटबाल वर्ल्ड कप में आक्टोपस उर्फ पॉल बाबा की भविष्यवणियों को सच मानते है। अब अगर किसी भारतीय चिडिया ने क्रिकेट वर्ल्ड में भविष्यवाणी कर दी तो इतना बवाल क्यों और रही बात 2012 यूपी चुनाव की तो समच का इन्तजार करिए आईने में हकीकत साफ हो जाएगी।

    Reply
  • pappupandit says:

    “जनता को गुमराह करना अपराध ,श्यामा को मृत्यु दंड दिया जाय” यह पंक्ति केवल एक चिड़िया के लिए है या फिर हर दो पांव वाले जीवधारी के लिए | आज़ादी के बाद हिंदुस्तान की रहनुमाई भरने वालो के बारे में आप क्या कहेंगे ? जिनके कृत्यों से दुखी होकर आज एक नही हजारो अन्ना हजारे आमरण अनशन के साथ ही अपना विरोध प्रकट कर रहे है | रही बात सरकार की तो वह किसी की जागीर नही है | जिस दिन जाति – धर्म का पत्ता ख़त्म हो जायेगा उस दिन से तास के पत्ते की तरह जनता को फेंट कर सत्ता का खेल खेला जा रहा है | उस दिन से निरीह प्राणी श्यामा को मृत्यु दंड के सुर भी बदल जायेगे | भाई…….. यह भडास 4 मिडिया आप के विचार के लिए है जिसके लिए यशवंत भाई साधुवाद के पात्र है | आक्टोपस की भविष्यवाणी पर इतना घटिया विचार कही नही मिला जितना आप की सोच है | रही एक लाख देने की तो जानकारी कर ले भदोही में जहरीली शराब के तांडव के बाद सात लोगो की मौत में दलित बिरादरी के चार अबोध बच्चे भीख मांगते हुए दर दर भटक रहे है | आप उन्हें ही यह रकम देने के साथ उन्हें गोद ले ले …………. दलितों की हितैषी सरकार नही जाग रही | आप ही अपने कथनी करनी में समानता लाये और एक भारतीय होने का फर्ज अदा करे सच में बहुत आनंद आएगा ………… | परम शांति न मिले तो पैसा वापस कर देगा भगवान | पप्पू पंडित

    Reply
  • kuldeep dev dwivedi says:

    dewender fatpuriya , ye baspa ke agent ki bhasha kyo bol rahe ho. ticket mil gaya kya. jo bahan ji ke bare me ki gayi bato me itna bura lag raha hai jaise mausi ka kajal. kyo bahan ji ki pad pooja se 4 salon me itna maza nahi aaya jo abhi kuchh banki hai..
    kair mujhe is bat se koi fark nahi padta ki kiski sarkar banegi par patrakar hone ke guno ke anusar hawa ka rukh jaroor janta hu kis taraf chal rahi hai sidhi ya ulti. aise me sarkar ke liye ek be juban ne jo bhavishyawani ki hai wo adbut to nahi par samy ke bahaw aur hawao ke rukh ke sath sath parti aur sarkar ke guno ko dekhte huye bure bhi nahi lagte. aur sahsa hi shyama ki bat par vishwas to nahi par sahmati jaroor banayi ja sakti hai.
    patel ji….?

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *