तेरा क्या होगा अमर उजाला!

अतुल जी चले गए. किसी के जाने के बाद कुछ दिन तक चीजें थम जाती हैं. लेकिन राजुल माहेश्वरी ने एक प्रोफेशनल टीम लीडर की भांति कुछ भी थमने नहीं दिया. बड़े भाई के अचानक चले जाने से अंदर से अपार दुखी होते हुए भी बाहर से अपनी टीम के सभी लोगों को प्रेतिर-उत्प्रेरित करते रहे और ऐसे नाजुक मोड़ पर भावुक होने की बजाय ज्यादा ऊर्जा से काम कर अतुल जी के सपने को पूरा करने का आह्वान करते रहे. राजुल के इस स्नेह और प्रेरणा से सभी विभागों और सभी यूनिटों के लीडर्स ज्यादा एक्टिव हो गए और एक मुश्किल घड़ी को सबों ने अदभुत एकजुटता से पार कर लिया.

अतुल माहेश्वरी, अंकुल चावला, वासुदेवन हाजिर हों!

[caption id="attachment_18518" align="alignleft" width="71"]अतुल माहेश्वरीअतुल माहेश्वरी[/caption]: कोर्ट ने अमर उजाला के मालिक अतुल माहेश्वरी और कंपनी लॉ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष आर. वासुदेवन समेत पांच को 24 नवंबर को तलब किया : अमर उजाला के सर्वेसर्वा बनने की चाहत अतुल माहेश्वरी को कहीं का नहीं छोड़ रही है. कंपनी लॉ बोर्ड (सीएलबी) में रिश्वत देकर अमर उजाला के मालिकों के झगड़े में फैसला अपने पक्ष में कराने की कोशिश अतुल माहेश्वरी पर भारी पड़ने लगी है. सीबीआई की तरफ से दाखिल चार्जशीट को संज्ञान में लेते हुए दिल्ली की एक अदालत ने पांचों आरोपियों को अदालत में अगली सुनवाई पर हाजिर होने को कहा है.

सुभाष राय ने छोड़ा अजय अग्रवाल का साथ

डा. सुभाष राय: जनसंदेश टाइम्स के संपादक के रूप में नाम फाइनल : 13 अक्टूबर को लखनऊ में ग्रहण करेंगे नया कार्यभार : लखनऊ से जल्द प्रकाशित होने जा रहे हिंदी दैनिक जनसंदेश टाइम्स के संपादक पद के लिए सुभाष राय का नाम फाइनल किया जा चुका है. खबर है कि डा. सुभाष राय ने डीएलए अखबार के चेयरमैन अजय अग्रवाल को संपादक (विचार) पद से अपना इस्तीफा भेज दिया है. अमर उजाला के निदेशक रह चुके अजय अग्रवाल का लंबे समय से साथ सुभाष राय दे रहे थे. अमर उजाला में बंटवारे के दौरान भी सुभाष राय पूरी मजबूती से अजय अग्रवाल के पक्ष में खड़े रहे. नौकरी के दर्जनों प्रस्तावों, साथ छोड़ने के अनेकों प्रलोभनों को लगातार ठुकराते रहने वाले सुभाष राय ने बहुत लंबे समय बाद अजय अग्रवाल का साथ छोड़कर किसी दूसरे ग्रुप का दामन थामने जा रहे हैं.

अजय की मेहनत है डीएलए : अशोक अग्रवाल

डीएलए का चौथा स्थापना दिवस सुलहकुलनगरी आगरा में धूमधाम से मनाया गया. आगरा के सेंट पीटर्स कॉलेज में आयोजित कार्यक्रम में हजारों की संख्या में नागरिक उपस्थित थे. समारोह में अमर उजाला पत्र समूह के चेयरमैन अशोक अग्रवाल ने कहा कि मैं बहुत रोमांचित हूं. उन्होंने सम्मानित शख्सियतों को अंतर्मन से बधाई देते हुए कहा कि आज डोरीलाल जी का सारा परिवार यहां मौजूद है, अगर कोई एक नाम खो रहा है तो वह नाम है, मेरे छोटे भाई अनिल का. उन्होंने कहा कि सबसे छोटे भाई अजय अग्रवाल की लगन, परिश्रम, परिस्थितियों से जूझने की क्षमता का परिणाम है डीएलए.