इस पूर्व प्रधानमंत्री को लोन चाहिए था

अंचल सिन्‍हा: विदेश डायरी : आज छड़ी टेकते हुए एक बुजुर्ग से सज्जन मेरे आफिस में घुसे तो मुझे बहुत नई बात नहीं लगी। यहां अनेक लोग रोज आते हैं और इस या उस काम के लिए लोन लेते हैं। यह सज्जन एक दिन पहले भी मेरे पास आ चुके थे और क्योंकि नके पास उस समय कोई सेक्योरिटी जैसी चीज नहीं थी इसलिए मैंने उन्हें मना कर दिया था। उस समय मेरा बॉस भी आफिस में नहीं था इसलिए मैं अपनी ओर से कोई रिस्क लेना नहीं चाहता था। आज बॉस भी था फिर भी वे पहले मेरे पास ही आए, मुझसे हाथ मिलाया और सीधे बॉस के कमरे में चले गए। थोड़ी देर बाद बॉस ने मुझे बुलाया। वे सज्जन वहीं बैठे थे।

मैं अपना पोस्टर-बनैर नहीं लगवा सका

अंचल सिन्हा बैंक की नौकरी छोड़कर पत्रकारिता करने आए तो बिजनेस भास्कर, हमारा महानगर और चौथी दुनिया की छोटी-छोटी पारियों के बाद अब वे पत्रकारिता को भी पूरी तरह अलविदा कह चुके हैं. फिर से बैंक की दुनिया में वापस लौट गए हैं. पहले सरकारी नौकरी थी. अबकी प्राइवेट मिली. उसी बैंक की नौकरी के प्रोजेक्ट पर इन दिनों विदेश प्रवास पर हैं.

हमारा महानगर, दिल्ली संग चार पत्रकार जुड़े

बिजनेस भास्कर, दिल्ली से कुछ माह पहले इस्तीफा देने वाले अंचल सिन्हा ने नई पारी दिल्ली से लांच होने जा रहे हिंदी दैनिक हमारा महानगर के साथ शुरू की है। अंचल ने स्पेशल करेस्पांडेंट के पद पर ज्वाइन किया है। वे बिजनेस भास्कर से पहले बैंक में अधिकारी थे। इसी तरह सुरेंद्र पंवार और सिंधु झा ने भी हमारा महानगर, दिल्ली में स्पेशल करेस्पांडेंट के पद पर ज्वाइन किया है। कई अखबारों में काम कर चुके अजय मिश्रा फीचर एडिटर के बतौर हमारा महानगर, दिल्ली का काम देखेंगे। इस अखबार के दिल्ली संस्करण के प्रभारी वरिष्ठ पत्रकार राजीव रंजन नाग हैं।

इस्तीफानामा : आशा है परेशानी कम होगी

[caption id="attachment_14965" align="alignnone"]अंचल सिन्हाअंचल सिन्हा : ज़िंदगी और बता, तेरा इरादा क्या है…[/caption]

अंचल सिन्हा जब तक बैंक की नौकरी करते हुए शौकिया तौर पर पत्रकारिता करते थे, उन्हें यह पढ़े-लिखों, विचारवानों और सरोकारों की दुनिया समझ में आती थी।

अंचल, संतोष सुमन व यामिनी ने बिजनेस भास्कर छोड़ा

बिजनेस भास्कर, दिल्ली के सीनियर रिपोर्टर अंचल सिन्हा के इस्तीफा देने की सूचना मिली है। अंचल बिजनेस भास्कर के पहले बैंक आफ बड़ौदा, गाजियाबाद में ज्वाइंट मैनेजर थे। बैंक की नौकरी के बावजूद आर्थिक पत्रकारिता में गहरी रूचि होने के नाते वे विभिन्न अखबारों में स्वतंत्र पत्रकार के बतौर पिछले 25 वर्षों से लिखते-पढ़ते रहे हैं। वे नवभारत टाइम्स, पटना और हिंदुस्तान, पटना से भी थोड़े-थोड़े समय के लिए जुड़े रहे।

जागरण नोएडा से दो गए, अंचल बिजनेस भास्कर में

दैनिक जागरण, नोएडा  से दो लोगों ने नई दुनिया की राह पकड़ ली है। ये हैं- प्रभात मिश्रा और विवेकानंद झा। प्रभात मिश्रा लंबे समय से दैनिक जागरण, नोएडा में कार्य कर रहे हैं। वे यहां सेंट्रल डेस्क की स्थापना से ही इस डेस्क पर  कभी इंचार्ज तो कभी वरिष्ठ भूमिका में अपने दायित्वों का निर्वहन करते रहे हैं। इससे पूर्व वे दैनिक जागरण, नोएडा में ही जनरल डेस्क के इंचार्ज हुआ करते थे। इसी तरह विवेकानंद झा यहीं पर संपादकीय विभाग में स्पोर्ट्स पेज के साथ जुड़े रहे हैं।

दूसरी खबर बिजनेस भास्कर की। अंचल सिन्हा ने लंबे समय तक बैंक की नौकरी करने के बाद अब यहां से इस्तीफा देकर पूरी तरह से पत्रकारिता के क्षेत्र में कदम रखा है।