बाबू सिंह कुशवाहा खबर प्रकरण : डीएनए ने अपने अंदाज में जटा को दिया जवाब

: जनसंदेश टाइम्स अखबार को पाखंड याद दिलाया : खबरों के तात्कालिक व दीर्घकालिक सच को समझाया : लखनऊ में इन दिनों दो अखबार आपस में भिड़े हुए हैं. बसपा के बाबू सिंह कुशवाहा पर एक्सक्लूसिव खबर डेली न्यूज एक्टिविस्ट (डीएनए) अखबार में प्रकाशित हुई. समाजवादी तेवर वाले इस अखबार की खबर के आधार पर जब न्यूज चैनलों ने बाबू सिंह कुशवाहा को मायावती द्वारा निपटा दिए जाने की खबर चलाई तो बसपा और सरकार में हड़कंप मच गया.

यूपी में बाबू सिंह कुशवाहा की खबर पर बसपा-सपा के अखबार आमने-सामने

उत्तर प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी के नेता बाबू सिंह कुशवाहा को पार्टी महासचिव पद से हटाए जाने और मुख्यमंत्री आवास व पार्टी कार्यालय जाने पर प्रतिबंध लगाए जाने संबंधी एक खबर का प्रकाशन लखनऊ व इलाहाबाद से प्रकाशित डेली न्यूज एक्टिविस्ट अखबार ने किया. राजेंद्र कुमार बाइलाइन खबर के छपने के बाद यही समाचार जी न्यूज और न्यूज24 समेत कई न्यूज चैनलों पर प्रसारित किया गया.