यूएनआई से भंडारी जा रहे हैं!

देश की प्रतिष्ठित न्यूज एजेंसी यूएनआई राजनीति के अखाड़े में तब्दील है. यूनियन में दो गुट हैं. एक भंडारी समर्थक और एक भंडारी विरोधी. भंडारी विरोधी गुट ने जाने कबसे हवा बांध रखा है कि भंडारी जा रहे हैं, भंडारी जा रहे हैं और फाइनली भंडारी जा रहे हैं. पर भंडारी कहते हैं कि वे कहीं नहीं जा रहे हैं, कुछ लोगों की हल्ला-गुल्ला करने और अफवाह फैलाने की आदत है, और वे पिछले छह महीने से यही सब अफवाह फैला रहे हैं, सो, जान लीजिए कि भंडारी कहीं नहीं जा रहे हैं.