आगरा में बीपीएन टाइम्‍स को जिंदा करने की तैयारी, फर्म का नाम भी बदला गया

आगरा में आखिरी सांस ले रहे रहे चिटफंडियों के अखबार बीपीएन टाइम्‍स को फिर से नया जीवन देने की तैयारी हो रही है. ग्‍वालियर में इस अखबार के चिटफंड आफिसों पर छापा पड़ने तथा सील होने के बाद अखबार का प्रकाशन लटक गया था. पर अब खबर है कि चिटफंडिए नया फर्म बनाकर इसे फिर से जीवित करने की कोशिश में लग गए हैं. इसके संपादन की जिम्‍मेदारी शिव शंकर तिवारी को सौंपी गई है.

बीपीएन टाइम्‍स आगरा से आरई अमी आधार निडर सहित बीस का इस्‍तीफा

: अखबार की हालत दयनीय : चिटफंड कंपनी बीपीएन ग्रुप का अखबार बीपीएन टाइम्‍स आगरा में भी बंद होने के कगार पर पहुंच गया है. खबर है कि आगरा के स्‍थानीय संपादक अमी आधार निडर समेत डेढ़ दर्जन से ज्‍यादा लोगों ने अखबार को अलविदा कह दिया है. बताया जा रहा है कि ग्‍वालियर में चिटफंड कंपनी के प्रेस समेत कई संपत्तियों पर सरकारी कब्‍जा होने के बाद से ही अखबार की स्थिति दयनीय हो गई थी, जिसके बाद एक साथ इतने लोगों ने प्रबंधन को अपना इस्‍तीफा सौंप दिया.

प्रशासन ने बीपीएन टाइम्‍स की सम्‍पत्ति भी कुर्क की

मध्‍य प्रदेश में जनता का धन लूटने वाले चिटफंड कंपनियों पर प्रशासन ने कार्रवाई जारी रखी है. प्रशासन ने इन कंपनियों पर कार्रवाई करते हुए उनकी सम्‍पत्ति को कुर्क करने का अभियान चला रखा है. पहले परिवार टुडे के कार्यालय एवं प्‍लांट पर सरकारी ताले चढ़े अब बीपीएन टाइम्‍स की सम्‍पत्ति पर भी प्रशासन ने सरकारी ताला लटका दिया है. इसके बाद से तमाम चिटफ‍ंडियों में हड़कम्‍प मचा हुआ है.

बीपीएन और इसके मालिक बघेल को भड़ास ने क्यों बख्श दिया?

संपादक, भड़ास4मीडिया, महोदय, आपके पोर्टल पर कई चिटफंड कंपनियों के नाम, उनकी करतूत और उनके खिलाफ हो रही कानूनी व प्रशासनिक कार्यवाहियों की खबर छपी है पर आपने न जाने क्यों बीपीएन का नाम गोल कर दिया. सही कहा जाए तो मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा चिटफंड माफिया यह बीपीएन वाला ही है. इसके मालिक का नाम है वकील सिंह बघेल. इसकी कंपनी बीपीएन एलायड और बीपीएन रीयल इस्टेट पर भी मुकदमें दर्ज हैं.

बीपीएन टाइम्‍स, रायपुर की लांचिंग हुई

बीपीएन टाइम्‍सबीपीएन ग्रुप का अखबार बीपीएन टाइम्‍स, रायपुर की लांचिंग एक सादे समारोह में हुई. ग्रुप के डायरेक्टर संजीवसिंह बघेल ने मशीन पूजन कर संस्करण की शुरुआत की. इस मौके पर श्री बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ़वासियों के अपार स्नेह से वे अभिभूत हैं. छत्तीसगढ़ के सामाजिक सरोकार के मुद्दे इस समाचार पत्र की पहली प्राथमिकता होगी. उन्होंने कहा हमारा प्रयास होगा कि यह समाचार-पत्र यहां के आवाम की आवाज बने. बीपीएन टाइम्स शुरुआती दौर से ही समूचे छत्तीसगढ़ के प्रत्येक जिले में पहुंचा है. श्री बघेल ने बताया कि रायपुर तो एक पड़ाव है, अभी मंजिलें और भी हैं…।

आगरा से निकलेगा बीपीएन टाइम्‍स, निडर बने संपादक

: पूरी टीम तैयार : सिटी चीफ बनाये गए दिनेश : ताज की नगरी आगरा में शीघ्र ही एक नये अखबार बीपीएन टाइम्‍स का कदम पड़ने वाला है. सूचना है कि नवम्‍बर के पहले पखवारे के अंत तक इसका प्रकाशन शुरू हो जायेगा. वरिष्‍ठ पत्रकार डा. अमी आधार निडर को अखबार का रे‍जीडेंट एडिटर बनाया गया है. दिनेश भदौरिया सिटी चीफ के रूप में ज्‍वाइन किया है.