डीएनए ने हिम्मत दिखाई

: मुझे चिन्ता इस बात की है कि मीडिया के कारोबार में घुस आए लोग इसे बौद्धिक कर्म से दूर करने की कोशिश में लगे रहते है : डीएनए ने हिम्मत दिखाई और घोषणा करके एडिट पेज बन्द कर दिया। साथ में यह कहा कि इसे बहुत कम लोग पढ़ते हैं, बोरिंग होता है, अपनी ज़रूरत खो चुका है, सिर्फ जगह भरने का काम हो रहा था। आदित्य सिन्हा उत्साही और प्रखर पत्रकार हैं। पर उन्होंने सम्पादकीय पेज हटाने के बारे में जो बातें लिखीं हैं, वे नई नहीं हैं।