5 लाख, 10 हजार का फर्जी आरोप लगा था

Bhadas4Media ko mai batana chahta hoon ki aaj kanpur jagran ke circulation department me rajesh bajpai ne 1:00 baje din me salphas kha liya, jisse uski haalat bigad gayi. rajesh ko turant regency hospital me admit karaya gaya jaha uski death ho gayi. Salphas khane ka reason uske upar 5 lakh 10 hazaar ka gaban dikhaya gaya hai, aapko batana chahta hoo ki usne gaban jaroor kiya hai par isme jyada haath circulation manager durgesh srivastava ka hai.

राजेश ने जान ली नहीं, खुद दे दी

आज दैनिक जागरण, कानपुर के परिसर में जहर खाने वाले राजेश वाजपेयी की मौत हो गई. वे प्रसार विभाग में कार्यरत थे. कोई उन्हें असिस्टेंट मैनेजर पद पर आसीन बता रहा तो कोई सीनियर एक्जीक्यूटिव. कोई कह रहा है कि वे सरकुलेशन मैनेजर की प्रताड़ना से तंग आकर आत्महत्या को मजबूर हुए तो कोई उन्हें किसी घोटाले में फर्जी फसाए जाने व हर महीने सेलरी इसी कथित घोटाले के बदले में काटे जाने के चलते दुखी होकर मौत को गले लगाने को कारण बता रहा है.

जागरण परिसर में मीडियाकर्मी ने जहर खाया

दैनिक जागरण, कानपुर से एक बड़ी सूचना आ रही है. अखबार के सरकुलेशन डिपार्टमेंट में तैनात राजेश वाजपेयी नामक एक कर्मचारी ने जहर खा कर जान देने की कोशिश की है. राजेश वाजपेयी ने जहर दैनिक जागरण आफिस के कैंपस में ही खाया. सूत्रों के मुताबिक वे दैनिक जागरण, आफिस के अंदर स्थित बाथरूम में गए और जहर खा लिया.