जनसंदेश टाइम्‍स का फर्रूखाबाद, औरैया, इटावा और कन्‍नौज एडिशन लांच

कानपुर में सफलता के बाद जनसंदेश टाइम्स ने अन्य शहरों में तेजी से कदम बढ़ाना शुरू कर दिया है। आम जनता के बीच अपनी पहचान बनाते हुए 8 सितम्‍बर से 12 सितम्‍बर के दौरान जनसंदेश टाइम्स प्रबंधन ने फर्रूखबाद, औरैया, इटावा और कन्नौज में समाचार पत्र की सफलता पूर्वक लांचिंग की। ज्यादा से ज्यादा पाठकों को अपने साथ जोड़ने के लिए प्रबंधन ने उनके सामने 20 पृष्ठों का रंगीन अखबार रखा है।

जनसंदेश टाइम्‍स का लखीमपुर खीरी संस्‍करण लांच

लखनऊ, जनसंदेश टाइम्‍स ने ने विस्‍तार की कड़ी में लखीमपुर खीरी संस्‍करण भी लांच कर दिया है. यहां हालांकि पहले से ही दैनिक जागरण, अमर उजाला और हिंदुस्‍तान अखबार मौजूद हैं. जनसंदेश टाइम्‍स को अपनी जमीन बनाने के लिए यहां कड़ी टक्‍कर लेनी होगी, क्‍योंकि उक्‍त तीनों अखबार जहां बरेली से छपकर आते हैं वहीं जनसंदेश टाइम्‍स का प्रकाशन केंद्र लखनऊ है.

बाबू सिंह कुशवाहा खबर प्रकरण : डीएनए ने अपने अंदाज में जटा को दिया जवाब

: जनसंदेश टाइम्स अखबार को पाखंड याद दिलाया : खबरों के तात्कालिक व दीर्घकालिक सच को समझाया : लखनऊ में इन दिनों दो अखबार आपस में भिड़े हुए हैं. बसपा के बाबू सिंह कुशवाहा पर एक्सक्लूसिव खबर डेली न्यूज एक्टिविस्ट (डीएनए) अखबार में प्रकाशित हुई. समाजवादी तेवर वाले इस अखबार की खबर के आधार पर जब न्यूज चैनलों ने बाबू सिंह कुशवाहा को मायावती द्वारा निपटा दिए जाने की खबर चलाई तो बसपा और सरकार में हड़कंप मच गया.

यूपी में बाबू सिंह कुशवाहा की खबर पर बसपा-सपा के अखबार आमने-सामने

उत्तर प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी के नेता बाबू सिंह कुशवाहा को पार्टी महासचिव पद से हटाए जाने और मुख्यमंत्री आवास व पार्टी कार्यालय जाने पर प्रतिबंध लगाए जाने संबंधी एक खबर का प्रकाशन लखनऊ व इलाहाबाद से प्रकाशित डेली न्यूज एक्टिविस्ट अखबार ने किया. राजेंद्र कुमार बाइलाइन खबर के छपने के बाद यही समाचार जी न्यूज और न्यूज24 समेत कई न्यूज चैनलों पर प्रसारित किया गया.

एमके न्‍यूज के एडिटर मनोज सैनी का इस्‍तीफा, अर्पित एवं रूच‍ि जनसंदेश टाइम्‍स से जुड़े

मध्‍य प्रदेश-छत्‍तीसगढ़ से शुरू होने जा रहे एमके न्‍यूज से मनोज सैनी ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर न्‍यूज एडिटर थे. उन्‍होंने प्रबंधन को दिए गए इस्‍तीफे में चैनल छोड़ने का कारण व्‍यक्तिगत बताया है. हालांकि यह पता नहीं चल पाया है कि वे अपनी नई पारी कहां से शुरू करने वाले हैं. बताया जा रहा है कि प्रबंधन से मतभेद होने के बाद मनोज ने इस्‍तीफा दिया है. वे इसके पहले भी कई चैनलों को अपनी सेवाएं दे चुके हैं.

सुनील, संजय, देवयानी और अमित जनसंदेश टाइम्‍स से जुड़े

जनसंदेश टाइम्‍स, कानपुर से चार लोगों ने अपनी नई पारी शुरू की है. कानपुर के सीनियर पत्रकार सुनील गुप्‍ता ने स्‍वतंत्र भारत से इस्‍तीफा दे दिया है. वे अब जनसंदेश टाइम्‍स के साथ जुड़ गए हैं. उन्‍हें रिपोर्टिंग की जिम्‍मेदारी सौंपी गई है. सुनील कानपुर प्रेस क्‍लब के सेक्रेटरी भी हैं.

अनूप वाजपेयी बने जनसंदेश टाइम्‍स, कानपुर के एडिटोरियल हेड

हिंदुस्‍तान, कानपुर से पिछले दिनों इस्‍तीफा देने वाले अनूप वाजपेयी ने अपनी नई पारी जनसंदेश टाइम्‍स के साथ शुरू की है. उन्‍होंने न्‍यूज एडिटर के रूप में जनसंदेश ज्‍वाइन किया है. उन्‍हें कानपुर के एडिटोरियल हेड की जिम्‍मेदारी सौंपी गई है. अनूप पिछले लगभग ढाई दशकों से सक्रिय पत्रकारिता में हैं.

सुखदेव ने किया जनसंदेश टाइम्‍स का लोकार्पण

लखनऊ के मीडिया जगत के इतिहास में सोमवार को एक और पन्ना जुड़ गया। हिन्दी दैनिक जनसंदेश टाइम्स का विधानसभाध्यक्ष सुखदेव राजभर के हाथों गन्ना संस्थान के सभागार में लोकार्पण संपन्न हुआ।

लखनऊ हिलाने को ‘जनसंदेश टाइम्स’ तैयार

: सात फरवरी को लोकार्पण के लिए लखनऊ में जुटेंगे देश भर के साहित्यकार और पत्रकार : हम लड़ेंगे / कि लड़े बगैर / कुछ भी नहीं मिलता / हम लड़ेंगे / कि अभी तक लड़े क्यों नहीं / हम लड़ेंगे / लड़ते हुए मर जाने वालों की / याद जिंदा रखने के लिए / हम लड़ेंगे साथी…. यह संकल्प मशहूर जनकवि अवतार सिंह पाश का है. यही संकल्प अब ‘जनसंदेश टाइम्स’ का भी है.

शिवशंकर गोस्‍वामी, सुरेश बहादुर समेत पांच जनसंदेश टाइम्‍स पहुंचे

: अखबार की लांचिंग टली, 8 को लांच किए जाने की संभावना : लखनऊ से जल्द प्रकाशित होने वाले नए हिंदी दैनिक जनसंदेश टाइम्स की लांचिंग एक बार फिर टल गयी है। पहले उक्त अखबार गणतंत्र दिवस के मौके पर बाजार में आने वाला था पर अब इसे संभवत 8 फरवरी को लांच किए जाने की संभावना है। अखबार प्रबंधन फिलहाल अपनी टीम को मजबूत करने में लगा है। जनसंदेश के ब्यूरो में हाल ही में दैनिक जागरण से रिटायर होने वाले वरिष्ठ पत्रकार शिवशंकर गोस्वामी ने ज्वाइन किया है। गोस्वामी जनसंदेश में ब्यूरो चीफ होंगे।

बहन जी की बड़ी तैयारी… डीएनए के मुकाबिल होगा जनसंदेश टाइम्स!

लखनऊ से बसपा का अखबार निकलने जा रहा है. जनसंदेश टाइम्स. पहले जनसंदेश नाम से चैनल खुला. अब जनसंदेश टाइम्स नाम से अखबार खुलने जा रहा है. लखनऊ के कयासबाज मान रहे हैं कि ये बहिन जी की बड़ी तैयारी का हिस्सा है. जिस तरह लखनऊ व इलाहाबाद से प्रकाशित डेली न्यूज एक्टिविस्ट उर्फ समाजवादी पार्टी का परचम लहराते हुए बहिन जी और उनके कारिंदों के कान काटने में लगा रहता है, उसी तरह बहिन जी चाहती हैं कि अगर किसी भी गलती से उनकी सरकार फिर सत्ता में न आ पाए तो दूसरी सत्तासीन पार्टियों के कान काटने का काम जनसंदेश टाइम्स करे.

स्‍वतंत्र भारत से इस्‍तीफा देकर ग्‍यारह पहुंचे जनसंदेश टाइम्‍स

लखनऊ से शीघ्र प्रकाशित होने वाले जनसंदेश टाइम्‍स ने स्‍वतंत्र भारत को जोर का झटका दिया है. स्‍वतंत्र भारत से कई विभागों से ग्‍यारह लोगों ने इस्‍तीफा देकर जनसंदेश टाइम्‍स का दामन थाम लिया है. एडिटोरियल से रिपोर्टर भारत सिंह, नवीन सक्‍सेना, राघवेंद्र सिंह, अतुल सिंह, सलाउद्दीन शेख, संतोष सिंह एवं अमित गुप्‍ता ने जनसंदेश ज्‍वाइन किया है.

जागरण के तीन पत्रकार जनसंदेश टाइम्स पहुंचे

नए लांच होने वाले हिंदी दैनिक जनसंदेश टाइम्स, लखनऊ के साथ कई पत्रकारों के जुड़ने की खबर है. जागरण ग्रुप के तीन पत्रकारों ने इस्तीफा देकर जनसंदेश टाइम्स ज्वाइन कर लिया है. ये हैं आनंद अग्निहोत्री (दैनिक जागरण, देहरादून), सत्येंद्र मिश्र (दैनिक जागरण, बरेली) और कमल वर्मा (आई-नेक्स्ट, इलाहाबाद).

नई दुनिया से आदर्श प्रकाश का इस्तीफा

: जनसंदेश टाइम्स, लखनऊ में एनई बने : नई दुनिया, दिल्ली को एक बड़ा झटका लगा है. ज्वाइंट न्यूज एडिटर के पद पर कार्यरत आदर्श प्रकाश सिंह ने इस्तीफा दे दिया है. वे नई पारी की शुरुआत लखनऊ से प्रकाशित होने जा रहे जनसंदेश टाइम्स के साथ कर चुके हैं. उन्होंने न्यूज एडिटर के पद पर ज्वाइन किया है. आदर्श नई दुनिया की दिल्ली में लांचिंग से जुड़े हुए थे.