चले गए जीडी गोयल

जीडीब्लिट्ज फेम, इंटरनेशनल मीडिया फाउन्डेशन के अध्यक्ष जीडी गोयल ने एक लम्बी बीमारी के बाद महाराष्ट्र के औरंगाबाद के एक अस्पताल में अंतिम साँसें ली. बीमारी की अवस्था में उनके औरंगाबाद में रहने वाले पुत्र उन्हें अपने साथ ले गए थे. पत्रकारिता का उनका अपना एक अंदाज़ था, जिसकी वजह से वो काफी चर्चित रहे. मध्यप्रदेश निवासी गोयल, दिल्लीवासी हो गए थे. लेकिन हिन्दुस्तान का शायद ही ऐसा कोई प्रान्त होगा जहां उनको जानने वाला कोई न हो? वो जहां जाते अपना एक नेटवर्क खड़ा कर लेते थे.

अब मीडियाकर्मियों का सहयोग करेगा बिलासपुर प्रशासन

: आमरण अनशन की घोषणा के बाद हरकत में आया शासन-प्रशासन : पिछले दिनों बिलासपुर में एक कार्यक्रम के दौरान पुलिस और प्रशासन ने जर्नलिस्‍टों एवं कैमरामैनों के साथ दुर्व्‍यवहार किया था. वीआईपी की सुरक्षा के लिए कैमरामैनों को खतरा बताया गया था. पुलिस और प्रशासन के इस रवैये से नाराज पत्रकारों ने रायपुर में आमरण अनशन करने का ऐलान किया था. रायपुर और बिलासपुर के प्रेस क्लब अध्यक्षों के एक साथ 14 सितम्बर को रायपुर में आमरण अनशन पर बैठने की खबर से राज्य सरकार हरक़त में आई.

वीआईपी की सुरक्षा के लिए ये कैमरामैन खतरा हैं!

हाल में बिलासपुर (छत्तीसगढ़) के मीडिया कर्मियों को जो अनुभव स्थानीय पुलिस से मिले हैं, उसमे अभी कई रंग और मिलने वाले हैं, क्योंकि प्रेस क्लब के वरिष्ठ सदस्य अपना दुखड़ा लेकर जब पुलिस के आला अधिकारी से मिले तो जो सलाह उन्हें दी गई, उससे वो सकते में हैं. प्रस्तुत है पुलिस के आला अधिकारी से प्राप्त नसीहतों के कुछ अंश-