सीधा प्रसारण

क्षमा शर्मा लिखित कहानी ‘सीधा प्रसारण’ मीडिया पर केंद्रित है. इसका प्रकाशन वर्ष 1997 में जनसत्ता के साहित्य विशेषांक ‘सबरंग’ में हो चुका है. लंबा अरसा बीत चुका है. एक बार फिर पढ़ने की जरूरत है इस कहानी को. खासकर नई पीढ़ी को बहुत कुछ समझ में आएगा इस कहानी को पढ़कर. -एडिटर