अपने पर लगे आरोपों का हेमंत तिवारी ने पत्र भेजकर दिया जवाब

लखनऊ : सभी मान्यता प्राप्त पत्रकार साथियों, उत्तर प्रदेश के राज्य मुख्यालय पर मान्यता प्राप्त संवाददाताओं की एक समिति दशकों से प्रभावी है। उक्त समिति का काम मान्यता प्राप्त संवाददाताओं के काम काज को सरल सुगम बनाना रहा है। समिति के अंतिम चुनाव बीते साल जनवरी में विवादास्पद माहौल में संपन्न कराए गए। इसमें कई मान्यता प्राप्त पत्र प्रतिनिधियों को गैर कानूनी तरीके से मतदान के अधिकार से वंचित किया गया।

कई मीडिया मालिकों को ठगने वाला आचार्य

[caption id="attachment_19136" align="alignleft" width="94"]जालसाज अजेय आचार्याजालसाज अजेय आचार्या[/caption]: इनकी शक्ल आप भी याद रखें ताकि कभी बिजनेस बढाने के लिए खूब विज्ञापन दिलाने की बात करते हुए ये नजर आएं तो आप सावधान हो जाएं : लखनऊ के 12 से ज्यादा अखबार मालिकों को इस आचार्य की है तलाश : कई करोड़ का गड़बड़झाला करके हो चुका है फरार : इनका नाम अजेय कुमार आचार्या है. ये नाम भी सही है या नहीं, इस पर संदेह है लेकिन चूंकि इन्होंने अपना यही नाम लखनऊ के दर्जन भर से ज्यादा मीडिया मालिकों को बताया था, सो, लोग इन्हें इसी नाम से जानते हैं. इन्होंने अपने बायोडाटा में अपना पता भावनगर, गुजरात बताया है.