विजय भास्‍कर से जुड़े, सतपाल का पंजाब केसरी से इस्‍तीफा

विजय मनोहर राव टाले ने दैनिक भास्‍कर, औरंगाबाद के साथ अपनी नई पारी शुरू की है. उन्‍हें सर्कुलेशन मैनेजर बनाया गया है. वे इसके पहले दैनिक देशोन्‍नति से जुड़े हुए थे. वे देशोन्‍नति को जलगांव तथा नागपुर में अपनी सेवाएं दे चुके हैं. बारह साल के अपने करियर में विजय दैनिक गांवकरी के साथ भी जुड़े रहे हैं.

राकेश कुमार, जितेंद्र सहारण और राकेश चौधरी की नई पारी

साधना न्‍यूज, रांची से राकेश कुमार ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर सीनियर रिपोर्टर थे. वे अपनी नई पारी रांची में न्‍यूज11 के साथ की है. उन्‍हें यहां स्‍पेशल करेस्‍पांडेंट बनाया गया है. राकेश पिछले 15 सालों से पत्रकारिता में सक्रिय हैं. उन्‍होंने अपने करियर की शुरुआत एक लोकल वीडियो पत्रिका प्रतिम्‍ब के साथ की थी. इसके बाद वे हिंदुस्‍तान और साधना को अपनी सेवाएं दीं.

चौहान ने तिजोरी का मुंह खोला और पंजाब केसरी से सौदा पट गया!

पंजाब केसरी, दिल्ली के स्वयंभू महान संपादक श्रीमान अश्विनी कुमार लगभग हर रोज पहले पेज पर अपनी बेबाक राय के जरिये लोगों को भ्रष्टाचार के खिलाफ कमर कसने और भ्रष्ट नेताओं का भंड़ाफोड़ करने की नसीहत देते रहते हैं। उनकी कथनी और करनी का अंतर आज के पंजाब केसरी में खुलकर सामने आ गया हैं। आज दिल्ली के सभी अखबारों ने अपने पहले पेज पर प्रमुखता के साथ लोकायुक्त द्वारा राष्ट्रपति से दिल्ली सरकार के लोक निर्माण मंत्री राजकुमार चौहान को बर्खास्त करने की सिफारिश से संबंधित समाचार प्रकाशित किया है, लेकिन पंजाब केसरी ने इसकी जरूरत कतई नहीं समझी। ऐसा क्यों?

नरिंदर बने एपीआरओ, राहुल पहुंचे महका भारत

पंजाब केसरी, कुरुक्षेत्र के ब्‍यूरोचीफ नरिंदर सिंह ने इस्‍तीफा दे दिया है. नरिंदर का चयन हरियाणा में एपीआरओ के लिए हो गया है. जिसके बाद नरिंदर ने अपने संस्‍थान से इस्‍तीफा दे दिया. अब वे एपीआरओ के रूप में हरियाणा सरकार को अपनी सेवाएं देंगे. नरिंदर कई अखबारों में काम कर चुके हैं.