बुरी तरह हार गए परवेज और पुष्पेंद्र!

: रामाचंद्रन और संदीप जीते लेकिन औपचारिक घोषणा नहीं : दिल्ली के रायसीना रोड स्थित प्रेस क्लब आफ इंडिया में काउंटिंग जारी है. नतीजे कोर्ट को घोषित करना है सो हार-जीत के बारे में सिर्फ चर्चाएं हो रही हैं. काउंटिंग स्थल से आ रहे लोग नीचे बैठे साथियों-करीबियों-मित्रों को वोटों के बारे में खबर कर …

रामचंद्रन – संदीप हरा सकेंगे परवेज – पुष्पेंद्र को?

प्रेस क्लब ऑफ इंडिया (पीसीआई) में तलवारें तन चुकी हैं. 13 नवंबर, शनिवार को मतदान होना है. कई बार से कई कई लोग पुष्पेंद्र कुलश्रेष्ठ को हराने-हटाने में लगे रहते हैं लेकिन पुष्पेंद्र हैं कि अपनी जगह से टस से मस नही होते. इस बार पुष्पेंद्र हटाओ का नारा दिया जा रहा है. परवेज – पुष्पेंद्र के खिलाफ जो पैनल मैदान में है उसमें अध्यक्ष पद के उम्मीदवार टी आर रामचंद्रन (जी फाइल्स) और महासचिव पद के उम्मीदवार संदीप दीक्षित (द हिन्दू) हैं.

शाहिदी व शुंगलू ने नाटक के दृश्य पेश किए

: इंदौर मे कलमकारों की रचनात्मकता ने समा बांधा : नाटक संग्रह के विमोचन मे देश के कई बड़े पत्रकार, रंगकर्मी और कलाकर्मी समिति के मंच पर जुटे : पत्रकार आमतौर पर अखबारों में पढ़ी और न्यूज़ चैनल्स पर देखी जानी वाली खबरों की भाषा के माध्यम से खुद को अभिव्यक्त करते हैं मगर अपनी स्थापना के सौ वर्ष पूरे करने जा रही देश की शीर्षस्थ संस्थाओ में से एक हिन्दी साहित्य समिति, इंदौर द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में प्रिंट और इलेक्ट्रानिक मीडिया से जुड़े पत्रकार कुछ अलग ढंग से लोगों से रूबरू हुए.

परवेज अहमद के नाट्य संग्रह का लोकार्पण

इंदौर और उज्जैन में आयोजित कार्यक्रमों में प्रेस क्लब आफ इंडिया के अध्यक्ष परवेज अहमद के नाट्य संग्रह ”ये धुआं कहां से उठता है’ का लोकार्पण किया गया. शिक्षक दिवस और हिन्दी पखवाड़ा के तहत इंदौर और उज्जैन में आयोजित इस कार्यक्रम में भारतीय हिन्दी पत्रकारिता के पुरोधा राजेन्द्र माथुर को याद किया गया.